French Open 2021 : रूस की एनास्तासिया ने पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में बनाई जगह

एनास्तासिया ने फ्रेंच ओपन-2021 के महिला 
एकल  फाइनल में जगह बना ली है. (Instagram)

एनास्तासिया ने फ्रेंच ओपन-2021 के महिला एकल फाइनल में जगह बना ली है. (Instagram)

रूस की एनास्तासिया ने सेमीफाइनल में स्लोवेनिया की दुनिया की 85वें नंबर की खिलाड़ी तमारा जिदानसेक को 7-5, 6-3 से मात दी. वह अपने रिकॉर्ड 52वें प्रयास में पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम के खिताबी मुकाबले में पहुंची हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. रूस की एनास्तासिया पावल्युचेनकोवा (Anastasia Pavlyuchenkova) ने फ्रेंच ओपन (French Open) के महिला एकल फाइनल में जगह बना ली है. एनास्तासिया ने स्लोवेनिया की दुनिया की 85वें नंबर की खिलाड़ी तमारा जिदानसेक को 7-5, 6-3 से मात दी. वह अपने रिकॉर्ड 52वें प्रयास में पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम के खिताबी मुकाबले में पहुंची हैं.

29 साल की रूसी खिलाड़ी अपने ग्रैंड स्लैम पदार्पण के 14 साल बाद खिताब के लिए भिड़ेंगी. शनिवार को फ्रेंच ओपन के फाइनल में उनका सामना ग्रीस की 17वीं वरीयता प्राप्त मारिया सक्कारी या चेक गणराज्य की गैरवरीय बारबोरा क्रेजिसिकोवा से होगा.

कोर्ट फिलिप चैटरियर पर दोनों खिलाड़ियों को अपनी सर्विस को लेकर जूझना पड़ा लेकिन एनास्तासिया ने अहम अंकों पर धैर्य बरकरार रखते हुए जीत दर्ज की. इससे पहले कभी किसी ग्रैंडस्लैम के दूसरे दौर से भी आगे नहीं बढ़ने वाली जिदानसेक ने कुछ शानदार ड्रॉप शॉट और फोरहैंड विनर लगाए लेकिन साथ ही उन्होंने 33 सहज गलतियां भी कीं.


एनास्तासिया करीब एक दशक पहले पेरिस में क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में कामयाब रही थीं. वह अपने पहले फाइनल में पहुंचने से पूर्व 50 से ज्यादा मेजर्स खेलने वाली पहली खिलाड़ी भी हैं. उन्होंने 2015 यूएस ओपन की उपविजेता रॉबर्टा विंची के पिछले 44 के रिकॉर्ड को तोड़ा.

जीत के बाद रूसी खिलाड़ी ने कहा, ‘मुझे इसकी इतनी अधिक जरूरत थी कि मैं अभी कुछ महसूस ही नहीं कर रही हूं. टेनिस इतना ज्यादा  मानसिक खेल है.’ इस बार सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली चारों महिला खिलाड़ी इससे पहले कभी किसी ग्रैंडस्लैम के अंतिम-4 में नहीं पहुंची हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज