टिम पेन की 'साइडशो' वाले बयान पर भारतीय फैंस ने की आलोचना, अब बोले- कोई बहाना नहीं था

टिम पेन ने पहले कहा था कि भारतीय क्रिकेटर मैच के दौरान ध्यान बंटा रहे थे. (Tim Paine/Twitter)

टिम पेन ने पहले कहा था कि भारतीय क्रिकेटर मैच के दौरान ध्यान बंटा रहे थे. (Tim Paine/Twitter)

टिम पेन (Tim Paine) ने पहले कहा था कि भारत के ‘साइडशो’ के कारण उनकी टीम का ध्यान बंटा और सीरीज में हार झेलनी पड़ी. उन्होंने अब स्पष्ट किया कि वह जनवरी में भारत के हाथों मिली हार का बहाना नहीं बना रहे थे. पेन ने बताया कि उन्होंने पॉडकास्ट इंटरव्यू में यह भी कहा था कि भारतीय टीम जीत की हकदार थी लेकिन अब भारतीय समर्थक सोशल मीडिया पर उनकी भर्त्सना कर रहे हैं.

  • Share this:

मेलबर्न. ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन (Tim Paine) ने कहा कि वह अपने इस बयान पर कायम हैं कि भारत के ‘साइडशो’ के कारण उनकी टीम का ध्यान बंटा लेकिन उन्होंने स्पष्ट किया कि वह जनवरी में भारत के हाथों मिली हार का बहाना नहीं बना रहे थे. भारतीय टीम के ‘साइडशो’ वाले बयान पर पेन की काफी आलोचना हुई है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट के साथ पॉडकास्ट में खुद यह बात कही.

उन्होंने ‘गिली एंड गोस पॉडकास्ट’ में शुक्रवार को कहा, ‘मुझसे कई बातें पूछी गई थी जिनमें भारत के खिलाफ खेलने की चुनौती संबंधी सवाल शामिल थे. उस पर मैने कहा कि भारतीय टीम ध्यान बंटाने में माहिर है.’ उन्होंने कहा, ‘उस समय लगातार बात हो रही थी कि वे ब्रिसबेन में नहीं खेलेंगे. वे बार-बार दस्तानें बदल रहे थे और फिजियो को बुला रहे थे. मैंने बस इतना कहा कि उससे ध्यान बंट गया और कई बार गेंद पर से ध्यान हट गया.’

इसे भी पढ़ें, शोएब अख्तर ने टीवी पर शाहिद अफरीदी को क्यों कहा जाहिल, जानिए पूरा मामला

पेन ने कहा, ‘मैंने यह भी कहा कि उन्होंने हमें उन्नीस साबित किया और वे जीत के हकदार थे लेकिन उस बात को काट दिया गया. भारतीय समर्थक सोशल मीडिया पर मेरी भर्त्सना कर रहे हैं. उनका कहना है कि मैं बहाना बना रहा हूं लेकिन ऐसा नहीं है.’
इसे भी पढ़ें, शाहिद अफरीदी बोले, शाहरुख से फोन पर बात होती है पर मिलने को बेताब नहीं हूं

उन्होंने कहा, ‘जब भी कोई ऑस्ट्रेलियाई कप्तान बोलता है तो सभी की नजरें उस पर रहती हैं. इसमें कोई शक नहीं. यह काफी लंबा इंटरव्यू था. मैं कोई बहाना नहीं बना रहा था. मुझे भारतीय प्रशंसक पसंद हैं. कई बार आलोचना बुरी भी नहीं लगती. मैंने कैच छोड़े तो मेरी आलोचना हुई जिसमें कोई बुराई नहीं थी. मुझे उनका जुनून पसंद है. वे क्रिकेट से बहुत प्यार करते हैं.’

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज