Tokyo Olympic: स्टेडियम के बाहर गेम्स नहीं कराने को लेकर विरोध शुरू, बड़े खिलाड़ी भी डरे

टोक्यो के नेशनल स्टेडियम के बाहर विरोध प्रदर्शन करते लोग. (Kyodo News Sports twitter)

टोक्यो के नेशनल स्टेडियम के बाहर विरोध प्रदर्शन करते लोग. (Kyodo News Sports twitter)

टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) के आयोजन में लगभग दो महीने का समय बचा है. इस बीच जापान में गेम्स के आयोजन को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए है. जापान के बड़े खिलाड़ियों ने भी आयोजन को लेकर सवाल उठाए हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक गेम्स (Tokyo Olympic) 23 जुलाई से होने हैं. यानी सिर्फ दो महीने का समय बचा है. लेकिन कोरोना के कारण इसके आयोजन पर संशय बना हुआ है. पहले ही गेम्स एक साल के लिए टल चुका है. जापान के लोगों ने ओलंपिक का बहिष्कार करना शुरू कर दिया है. टेस्ट इवेंट के दौरान फैंस स्टेडियम के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. वहीं जापान के टेनिस खिलाड़ी नाओमी ओसाका के बाद यहीं के केई निशिकोरी ने भी गेम्स को लेकर कुछ बड़े सवाल किए हैं.

केई निशिकोरी ने जापान टाइम्स से कहा कि टूर्नामेंट के दौरान करीब 10 हजार एथलीट और स्टाफ जापान आएंगे. उनके लिए बायो-बबल तैयार करना आसान नहीं होगा. जापान में पिछले 10 दिन में कोरोना के 50 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं. निशिकोरी ने कहा कि उन्हें भरोसा नहीं है कि इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी (IOC) और लोकल आयोजक गेम्स को सफलतापूर्वक आयोजित करा लेंगे. हजारों लोगों की जान खतरे में पड़ सकती है. निशिकोरी ने सवाल उठाया कि जब जापान के कई शहर स्टेट ऑफ इमरजेंसी में हैं, ऐसे में क्या ओलंपिक कराना सही होगा?

11 हजार से अधिक लोगों की हुई है मौत

जापान की ही महिला टेनिस खिलाड़ी नाओमी ओसाका ने कहा कि एक एथलीट होने के नाते मैं निश्चित तौर पर चाहती हूं कि ओलंपिक हो. पर जिस तरह से कुछ दिन में जापान के हालात बिगड़े हैं, ऐसे में मुझे नहीं लगता कि ओलंपिक होनी चाहिए. अगर इससे लोगों को दिक्कत है तो निश्चित तौर पर इस पर बात की जानी चाहिए. जापान में कोरोना से अब तक 11 हजार मौतें हुई हैं.
यह भी पढ़ें: IND vs SL: भारत और श्रीलंका सीरीज से फैंस रहेंगे दूर, श्रीलंका बोर्ड का बड़ा फैसला

तो गेम्स को कैंसिल किया जाएगा

जापान के करीब 60% लोग नहीं चाहते हैं कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच टूर्नामेंट कराया जाए. वहीं, इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी के अध्यक्ष थॉमस बाक ने भी इस हफ्ते अपना जापान दौरा रद्द कर दिया. जापान सरकार ने वहां 31 मई तक के लिए इमरजेंसी बढ़ा दी है. इस बीच आईओसी साफ कर चुकी है कि गेम्स स्थगित नहीं होंगे. अगर कोरोना के कारण गेम्स इस साल नहीं हुए तो उन्हें कैंसिल किया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज