Tokyo Olympics: टोक्यो 2020 के 10 Facts, जो ओलंपिक इतिहास में पहली बार देखने को मिलेंगे

Tokyo Olympics: टोक्यो ओलंपिक के मुकाबले 21 जुलाई से शुरू हो गए हैं. (AP)

Tokyo Olympics 2020: टोक्यो ओलंपिक का इंतजार खत्म हुआ. कल यानी 23 जुलाई को औपचारिक उद्धाटन (Opening Ceremony) होते ही दुनिया खेलों के इस महाकुंभ में रंग जाएगी. टोक्यो ओलंपिक (Olympics 2020) में ऐसी अनेक बातें देखने को मिलेंगी, जो पहले किसी ओलंपिक (Olympics) में देखने को नहीं मिलीं. पढ़िए ऐसे ही 10 फैक्ट...

  • Share this:
    नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) का इंतजार खत्म हो चुका है. इसके मुकाबले बुधवार यानी 21 जुलाई को शुरू हो गए हैं. शुक्रवार यानी 23 जुलाई को औपचारिक उद्धाटन (Tokyo Olympics Opening Ceremony) होते ही दुनिया खेलों के महाकुंभ में रंग जाएगी. कोरोनावायरस के कारण एक साल देरी से हो रहे टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) में ऐसी अनेक बातें देखने को मिलेंगी, जो पहले किसी ओलंपिक (Olympics) में देखने को नहीं मिलीं. इस लेख में हम ऐसे ही 10 फैक्ट (Tokyo Olympics Intersting Facts) लेकर आए हैं, जिनका गवाह टोक्यो ओलंपिक बनेंगे.
    1. ओलंपिक गेम्स (Olympics Games) पहली बार किसी कारण से स्थगित किए गए हैं. इसी कारण ये खेल 2021 में यानी ऑड ईयर में हो रहे हैं. इसके पहले जितने भी ओलंपिक हुए, सब के सब ईवेन ईयर (1896, 1900, 1904… 2016) में हुए थे.
    2. मेडल जीतने वाले खिलाड़ी पहली बार खुद ही अपना मेडल गले में डालेंगे. ऐसा सोशल डिस्टेंसिंग के कारण होगा. इस बार कोई दूसरा व्यक्ति विजेता के गले में मेडल डालकर उसका सम्मान करने के लिए नहीं होगा.
    3. मेडल की खूबी भी इस बार यूनिक है. ये मेडल दान में मिले सोने से बनाए गए हैं. लोगों से खराब हो चुके मोबाइल और गजेट दान करने की अपील की गई और उससे सोना-चांदी जैसे जरूरी मेटल निकाल लिए गए.
    4. यह पहला मौका है जब ओलंपिक के इवेंट को देखने के लिए स्टेडियम में दर्शक नहीं होंगे. ऐसा सोशल डिस्टेंसिंग के कारण किया गया है. इस बार खेलप्रेमियों को टीवी पर ही गेम्स देखकर संतुष्ट होना होगा.
    5. यह पहला ओलंपिक है, जिसमें हम रोबोट को खिलाड़ियों या आयोजकों की सीधी मदद करते देखेंगे. इनका इस्तेमाल जेवलिन थ्रो जैसे कई खेलों में भी होगा, ताकि समय की बचत की जा सके.
    6. कराटे, स्पोर्ट्स क्लाइंबिंग, सर्फिंग और स्केटबोर्डिंग को पहली बार ओलंपिक गेम्स में शामिल किया गया है. इन खेलों को पहली बार ओलंपिक चैंपियन मिलेंगे.
    7. यह पहला मौका है जब ओलंपिक में महिला बॉक्सिंग के 5 इवेंट होंगे. बॉक्सिंग में महिला वर्ग के इवेंट 3 से बढ़ाकर 5 कर दिए गए हैं. पुरुष इवेंट की संख्या 10 से घटाकर 8 की गई है.
    8. फ्रीस्टाइल बीएमएक्स, मेडिसन साइक्लिंग, 3x3 बॉस्केटबॉल के इवेंट पहली बार होंगे. इसके अलावा टेबल टेनिस में मिक्स्ड डबल्स और जूडो में मिक्स्ड टीम इवेंट पहली बार देखने को मिलेंगे. बेसबॉल और सॉफ्टबॉल की 2008 के बाद वापसी हुई है.
    9. टोक्यो ओलंपिक में 33 खेलों के 339 इवेंट होंगे. ओलंपिक इतिहास में यह पहला मौका है जब इतनी बड़ी संख्या में इवेंट होंगे.
    10. टोक्यो एशिया का पहला शहर है, जो ओलंपिक की दूसरी बार मेजबानी कर रहा है. इससे पहले यहां 1964 में ओलंपिक गेम्स हुए थे. भारत ने तब पाकिस्तान को हराकर ओलंपिक का गोल्ड मेडल जीता था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.