Home /News /sports /

Tokyo Olympics में दिखाया दम, अब भारतीय तीरंदाज के परिवार को मिल र‍ही धमकियां

Tokyo Olympics में दिखाया दम, अब भारतीय तीरंदाज के परिवार को मिल र‍ही धमकियां

Tokyo Olympics: टोक्‍यो ओलंपिक के दौरान तीरंदाज प्रवीण जाधव (फोटो-PTI)

Tokyo Olympics: टोक्‍यो ओलंपिक के दौरान तीरंदाज प्रवीण जाधव (फोटो-PTI)

भारतीय तीरंदाज प्रवीण जाधव (Pravin Jadhav ) ने कहा कि उनका परिवार काफी परेशान है और वो भी वहां पर नहीं हैं. उन्‍होंने बताया कि 5-6 लोगों ने आकर उनके माता- पिता, चाचा- चाची को धमकाया

    कोलकाता. टोक्‍यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में अपना दम दिखाने वाले भारतीय तीरंदाज प्रवीण जाधव (Pravin Jadhav) के परिवार को धमकियां मिल रही है और उन्‍हें धमकाने वाले उनके पड़ोसी ही हैं. जाधव के परिवार को पड़ोसी इसलिए धमका रहे हैं कि वे अपने टिन के घर की मरम्मत नहीं कराए. जाधव टोक्‍यो ओलंपिक में रैंकिंग दौर में अपने सीनियर साथियों अतानु दास और तरुणदीप राय से आगे रहे थे.

    इसके बाद मिश्रित युगल में दीपिका कुमारी (deepika Kumari) के साथ वे उतारे थे, लेकिन वे अंतिम आठ से बाहर हो गए. हालांकि ओलंपिक में उन्‍होंने शानदार प्रदर्शन किया. उनकी कोशिशों की हर जगह तारीफ भी हुई. महाराष्ट्र के सातारा जिले में वह अपने गांव साराडे के हीरो बन गए. मगर शायद उनकी यह चमक उनके पड़ोसियों को पसंद नहीं आई.

    जाधव ने पड़ोसियों पर लगाया धमकाने का आरोप

    जाधव ने पीटीआई से कहा कि सुबह एक परिवार के पांच छह लोग आकर मेरे माता पिता, चाचा चाची को धमकाने लगे. हम अपने घर की मरम्मत कराना चाहते हैं. जाधव के परिवार के चार सदस्य झोपड़ी में रहते थे, लेकिन उनके सेना में भर्ती होने के बाद पक्का घर बनवा लिया. जाधव ने कहा कि पहले भी वे परेशान करते थे और एक अलग लेन चाहते थे, जिस पर हम राजी हो गए, लेकिन अब वे सारी सीमा पार कर रहे हैं. हमें घर की मरम्मत कराने से कैसे रोक सकते थे. उन्होंने कहा कि हम इस मकान में बरसों से रह रहे हैं और हमारे पास सारे कागजात हैं.

    टोक्यो ओलंपिक होते ही इसलिए हैं कि हॉकी में भारत का परचम लहराता रहे, 1964 का गोल्ड भूले तो नहीं!

    Tokyo Olympics: कमलप्रीत की हार पर सचिन-सहवाग ने लिखी ऐसी बात, हर कोई कर रहा सलाम
    भारतीय दल लौटने के बाद सीधे हरियाणा के सोनीपत चला गया, जहां अगले महीने होने वाली विश्व चैम्पियनशिप के लिए अभ्यास शिविर लगा है. बुधवार को नये सिरे से ट्रायल होंगे. जाधव ने कहा कि मेरा परिवार परेशान है और मैं भी वहां नहीं हूं. मैने सेना के अधिकारियों को बता दिया है और वे इसे देख रहे हैं. सातारा जिले के एसपी अजय कुमार बंसल ने जाधव के परिवार की पूरी मदद का वादा किया है.

    Tags: Archery, Off The Field, Pravin Jadhav, Tokyo 2020, Tokyo olympic 2020, Tokyo Olympics

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर