liveLIVE NOW
  • Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Tokyo Olympics 2020: भारत से शनिवार को 3 मेडल की उम्मीद, महिला हॉकी टीम के कोच ने दिया इस्तीफा

Tokyo Olympics 2020: भारत से शनिवार को 3 मेडल की उम्मीद, महिला हॉकी टीम के कोच ने दिया इस्तीफा

टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) 2020 : टोक्यो में भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Womens Hockey Team) ओलंपिक में अपना मेडल जीतने से चूक गई. वहीं भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया भी सेमीफाइनल मुकाबला हार गए. शुक्रवार को भारत के खाते में कोई मेडल नहीं आया.

  • News18Hindi
  • | August 06, 2021, 19:19 IST
    facebookTwitterLinkedin
    LAST UPDATED 2 MONTHS AGO

    AUTO-REFRESH

    हाइलाइट्स

    18:56 (IST)

    इतिहास रचने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम का पहला ओलंपिक पदक जीतने का सपना अधूरा रह गया, जिसे शुक्रवार को टोक्यो ओलंपिक के ब्रॉन्ज मेडल के मुकाबले में ब्रिटेन ने 4.3 से हराया. भारतीय टीम ने पहली बार सेमीफाइनल में पहुंचकर पहले ही इतिहास रच दिया था, लेकिन 2016 रियो ओलंपिक की गोल्ड मेडल विजेता ब्रिटेन को हरा नहीं सकीं, जिससे कांस्य के करीब आकर चूक गईं. वहीं, भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया तीन बार के विश्व चैंपियन हाजी अलीव से पुरुषों के फ्रीस्टाइल 65 किग्रा सेमीफाइनल में हार गए और अब ओलंपिक खेलों में वह ब्रॉन्ज मेडल के लिए मुकाबला करेंगे. अपना पहला ओलंपिक खेल रही भारतीय पहलवान सीमा बिस्ला 50 किग्रा के पहले दौर में ट्यूनीशिया की सारा हमदी से 1-3 से हारने के बाद प्रतियोगिता से बाहर हो गईं. टोक्यो ओलंपिक में भारत के खाते में शुक्रवार तक 5 मेडल हैं. भारत 34वें स्थान पर है. भारत ने अबतक 2 सिल्वर और 3 ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं. शनिवार को तीन मेडल की उम्मीद जताई जा रही है. भालाफेंक नीरज चोपड़ा, पहलवान बजरंग पूनिया और गोल्फर अदिति अशोक पर करोड़ों भारतीयों की निगाहें टिकी हुई है. 

    17:38 (IST)

    भारतीय पहलवान दीपक पूनिया के विदेशी कोच मुराद गैदारोव को एक रैफरी के साथ हाथापाई करने के लिए शुक्रवार को टोक्यो ओलंपिक से बाहर कर दिया गया. भारतीय पहलवान के ब्रॉन्ज मेडल के प्ले-ऑफ में यह रैफरी मौजूद था, जिसमें दीपक पूनिया सैन मारिनो के माइल्स नजीम अमीन से हार गए थे.

    17:36 (IST)

    भारत की 4x400 मीटर पुरुष रिले टीम ने शुक्रवार को यहां तोक्यो ओलंपिक में तीन मिनट 00.25 सेकेंड का समय निकालकर नया एशियाई रिकॉर्ड बनाया, लेकिन फाइनल में जगह बनाने में असफल रही. मोहम्मद अनस याहिया, टॉम नोह निर्मल, राजीव अरोकिया और अमोल जैकब की भारतीय चौकड़ी दूसरी हीट में चौथे स्थान पर रही. भारतीय टीम कुल नौवें स्थान पर रही और इस तरह से आठ टीमों के फाइनल में जगह नहीं बना पाई. दोनों हीट में शीर्ष तीन स्थानों पर रहने वाली टीमें तथा इसके दो सर्वश्रेष्ठ समय निकालने वाली टीमें फाइनल में जगह बनाती हैं. इससे पहले का एशियाई रिकॉर्ड कतर के नाम पर था, जिसने तीन मिनट 00.56 सेकेंड के साथ एशियाई खेल 2018 में स्वर्ण पदक जीता था.

    16:47 (IST)

    भारतीय महिला हॉकी टीम की फॉरवर्ड वंदना कटारिया ने ओलंपिक सेमीफाइनल में अर्जेंटीना के खिलाफ हार के बाद उनके परिवार के खिलाफ की गई कथित जातिवादी टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया करने से इनकार करते हुए कहा कि पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. कटारिया ने कांस्य पदक के मैच में टीम की ग्रेट ब्रिटेन के हाथों 3-4 से हार के बाद कहा, ''मैं इस मामले में टिप्पणी नहीं करना चाहती हूं. मैंने इस बारे में सुना है. मैंने अपने परिवार से बात की और उन्होंने कहा कि सब कुछ ठीक है. पुलिस इसकी जांच कर रही है.''

    15:59 (IST)

    भारत की राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी प्रियंका गोस्वामी शुक्रवार को ओलंपिक की महिलाओं की 20 किमी पैदल चाल स्पर्धा में आधी दूरी तक अच्छी स्थिति में थीं लेकिन अंत में 17वें स्थान पर जबकि हमवतन भावना जाट 32वें स्थान पर रहीं. गुरप्रीत सिंह पुरुषों की 50 किलोमीटर पैदल चाल पूरी नहीं कर सके और गर्मी तथा उमस के कारण ऐंठन की वजह से नाम वापस ले लिया. वह 35 किमी की दूरी दो घंटे 55 मिनट 19 सेकंड में पूरी करके 51वें स्थान पर थे. इसके बाद वह अलग बैठ गए और मेडिकल टीम ने उनकी मदद की. इससे भारतीय पैदल चाल खिलाड़ियों का अभियान निराशाजनक तरीके से समाप्त हुआ.

    15:56 (IST)

    मीराबाई चानू ने बताया, पीएम मोदी ने इलाज के लिए भेजा अमेरिका, टिकट भी उपलब्ध कराए

    15:12 (IST)

    बजरंग पहले भी सेमीफाइनल हार गए, मगर मेडल की उम्‍मीद अभी भी बरकरार है 

    नई दिल्ली. अपने जुझारूपन और दिलेरी से इतिहास रचने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम का पहला ओलंपिक पदक जीतने का सपना टूट गया, जब ब्रिटेन ने टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक के रोमांचक मुकाबले में उसे 4-3 से हरा दिया. भारतीय महिला टीम ने सेमीफाइनल में पहुंचकर पहले ही सफलता के नये मानदंडों को छू लिया था. कांस्य पदक जीतने के करीब भी पहुंची लेकिन रियो ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता दुनिया की चौथे नंबर की ब्रिटिश टीम ने उसके साथ करोड़ों भारतीयों का भी दिल तोड़ दिया. वहीं, भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया को भी सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा है. आज भारत के खाते में कोई मेडल नहीं आया है.

    हालांकि, शनिवार को तीन मेडल आने की उम्मीद है. भालाफेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा, पहलवान बजरंग पूनिया और गोल्फर अदिति अशोक से मेडल की उम्मीद जताई जा रही है.

    विज्ञापन

    विज्ञापन