• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Tokyo Olympics: कोरोनाकाल में ओलंपिक की तैयारी छोड़ लोगों की जान बचाने वाले शूटर ने गोल्‍ड पर लगाया निशाना

Tokyo Olympics: कोरोनाकाल में ओलंपिक की तैयारी छोड़ लोगों की जान बचाने वाले शूटर ने गोल्‍ड पर लगाया निशाना

जावेद फोरोगी खुद को देश का सैनिक बताते हैं (pc: ap/ @mehdizafar twitter )

जावेद फोरोगी खुद को देश का सैनिक बताते हैं (pc: ap/ @mehdizafar twitter )

tokyo olympics 2020: 10 मीटर एयर पिस्टल में भारत के सौरभ चौधरी भी उतरे थे. उन्‍होंने ईरान के जावेद फोरोगी को क्‍वालीफिकेशन में कड़ी टक्‍कर दी थी.

  • Share this:
    टोक्यो. पूरी दुनिया के लिए यह समय काफी मुश्किल भरा है. हर कोई कोविड (Covid-19) महामारी से लड़ रहा है. इस महामारी ने लाखों लोगों को अपना निवाला बना लिया. लोगों को घर में कैद कर दिया. कोरोना के कारण टोक्‍यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) को भी 2021 तक के लिए स्‍थगित कर दिया गया था. हालांकि इस बीच जब अधिकतर खिलाड़ी सख्‍त प्रोटोकॉल के बीच भी ओलंपिक की तैयारियों में जुटे हुए थे.
    वहीं एक निशानेबाज टोक्‍यो ओलंपिक की तैयारियों को छोड़कर लोगों की कोरोना से जान बचाने में जुटा हुआ था, मगर अब इस निशानेबाज ने कमाल करते हुए गोल्‍ड मेडल जीत लिया. ईरान के 10 मीटर एयर पिस्टल के ओलंपिक चैंपियन जावेद फोरोगी खुद को देश का सैनिक बताते हैं क्योंकि कोविड-19 के दोरान जब अन्य निशानेबाज ओलंपिक तैयारियों में जुटे थे तब वह अस्पताल में नर्स की अपनी भूमिका में व्यस्त थे.

    ईरान के पहले चैंपियन फोरोगी

    फोरोगी 41 साल के हैं और उन्होंने शनिवार को 244.5 अंक के ओलंपिक रिकॉर्ड के साथ गोल्‍ड पदक जीता था. इस स्पर्धा में भारत के सौरभ चौधरी भी उतरे थे, लेकिन क्वालीफिकेशन में शीर्ष पर रहने के बाद फाइनल में सातवें स्थान पर रहे थे. फोरोगी ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि मैं पिस्टल और राइफल में ईरान का पहला चैंपियन हूं.

    Tokyo Olympics: दीपक कुमार और दिव्यांश टॉप-20 में भी जगह नहीं बना सके, लगातार चौथे इवेंट में शूटर्स फेल

    साउथ इंडियन एक्‍ट्रेस ने रेसलर प्रिया मलिक को दे दी टोक्‍यो ओलंपिक में गोल्‍ड मेडल जीतने की बधाई

    ईरान ने इससे पहले कभी ओलंपिक में इनमें पदक नहीं जीता था, यहां तक कि कांस्य पदक भी नहीं और मैंने स्वर्ण पदक जीता. उन्होंने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि मैंने देश के सैनिक के तौर पर अच्छा काम किया. फोरोगी ने कहा कि मैं नर्स हूं और अस्पताल में काम करता हूं. विशेषकर कोविड महामारी के दौरान मैंने अस्पताल में काम किया. पिछले साल मैं भी संक्रमित हो गया था, क्योंकि मैं अस्पताल में काम कर रहा था. बीमारी से उबरने के बाद मैंने अभ्यास शुरू किया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज