• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • Tokyo Olympics: रवि दहिया को सेमीफाइनल मैच में विपक्षी पहलवान ने काटा, फिर भी चटाई धूल, देखिए Video

Tokyo Olympics: रवि दहिया को सेमीफाइनल मैच में विपक्षी पहलवान ने काटा, फिर भी चटाई धूल, देखिए Video

Tokyo Olympics 2020: रवि दहिया को विरोधी पहलवान ने काटा, वीडियो वायरल (AP)

Tokyo Olympics 2020: रवि दहिया को विरोधी पहलवान ने काटा, वीडियो वायरल (AP)

Tokyo Olympics: कजाखस्तान के पहलवान नूरस्लाम सानायेव ने सेमीफाइनल मैच में रवि दहिया (Ravi Dahiya) को दांत से काटा था लेकिन इसके बावजूद वो भारतीय पहलवान को फाइनल में पहुंचने से नहीं रोक सके. रवि दहिया (Wrestler Ravi Dahiya) अब स्वर्ण पदक से महज एक कदम दूर हैं.

  • Share this:

    नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) में पहलवान रवि दहिया (Wrestler Ravi Dahiya) गोल्ड मेडल से महज एक कदम दूर हैं. बुधवार को रवि दहिया ने सेमीफाइनल मैच में कजाखस्तान के पहलवान को मात देकर फाइनल में जगह बनाई. हालांकि इस मुकाबले में विरोधी नूरस्लाम सानायेव ने उन्हें दांत से काट लिया था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.
    भारतीय कुश्ती टीम के सहयोगी स्टाफ के एक सदस्य ने पीटीआई से कहा, ‘रवि जब मैट से लौटा तो यह दर्द कर रहा था लेकिन उसे ‘आइस पैक’ दिया गया और वह ठीक है. दर्द भी कम हो गया है. वह फाइनल के लिये फिट है, कोई समस्या नहीं है.’

    बता दें रवि (Ravi Dahiya Semi Final Bout) ने 2-9 से पिछड़ते हुए विरोधी को गिराकर मुकाबला जीता. दहिया ने मैट पर शानदार वापसी करते हुए फाइनल में प्रवेश किया और फोटो में उनकी दाहिनी बांह में काटने का गहरा निशान का खुलासा हुआ. सानाएव के काटने से वह घटना याद आ गयी जब सुशील कुमार पर कजाखस्तान के प्रतिद्वंद्वी अखजुरेक तानात्रोव ने कान पर काटने का आरोप लगाया था.

    रवि दहिया ने भारत का चौथा पदक पक्का किया
    टोक्यो ओलंपिक में भारत का चौथा पदक पक्का करते हुए रवि दहिया कजाखस्तान के नूरइस्लाम सानायेव को ‘ पिन फॉल’ पर हराकर फाइनल में पहुंचने वाले दूसरे भारतीय पहलवान बन गए. हरियाणा के एक किसान के बेटे दहिया से पहले सुशील कुमार ओलंपिक कुश्ती के फाइनल में पहुंचने वाले अकेले भारतीय थे जिन्होंने 2012 लंदन ओलंपिक में रजत पदक जीता था. चौथी वरीयता प्राप्त दहिया 57 किग्रा फ्रीस्टाइल सेमीफाइनल में एक समय 2 -9 से पीछे थे लेकिन उन्होंने वापसी करते हुए अपने विरोधी के दोनों पैरों पर हमला किया और उसे कसकर पकड़ लिया. इसके बाद उसे जमीन पर पटखनी देकर ‘ पिन फॉल ’ से मुकाबला जीत लिया. इसमें अगर कोई पहलवान विरोधी के दोनों कंधे जमीन पर लगा दे तो मैच वहीं खत्म हो जाता है.

    दहिया ने इससे पहले दोनों मुकाबले तकनीकी दक्षता के आधार पर जीते थे. दहिया ने जीत के बाद कहा ,’मुझे सानायेव को उतनी बढत लेने का मौका ही नहीं देना चाहिये था. मैं इससे खुश नहीं हूं.’उन्होंने कहा , ‘मैं उसे दो बार पहले भी हरा चुका हूं तो मुझे पता था कि पिछड़ने के बावजूद वापसी कर सकता हूं. यह करीबी मुकाबला था और मुझे बढत गंवानी नहीं चाहिये थी.’ उन्होंने कहा, ‘मेरा काम अभी पूरा नहीं हुआ है । मैं यहां एक लक्ष्य लेकर आया हूं और वह अभी अधूरा है.’ फाइनल में उनका सामना मौजूदा विश्व चैम्पियन रूस के जावुर युगुएव से होगा जिनसे वह 2019 विश्व चैम्पियनशिप सेमीफाइनल में हार गए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज