होम /न्यूज /खेल /कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में 2 बार की गोल्‍ड मेडलिस्‍ट वेटलिफ्टर फ‍िर डोप में फंसी, लग सकता है 4 साल का बैन

कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में 2 बार की गोल्‍ड मेडलिस्‍ट वेटलिफ्टर फ‍िर डोप में फंसी, लग सकता है 4 साल का बैन

संजीता चानू के सैंपल में स्‍टेरायड पाया गया है. (Sanjita Chanu/twitter)

संजीता चानू के सैंपल में स्‍टेरायड पाया गया है. (Sanjita Chanu/twitter)

कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स (Commonwealth Games) में 2 बार गोल्‍ड मेडल जीतने वाली देश की दिग्‍गज वेटलिफ्टर संजीता चानू (Sanjita C ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

गुजरात नेशनल गेम्‍स के दौरान लिया गया था सैंपल
संजीता को नाडा के पैनल के सामने पेश होना होगा

नई दिल्‍ली. कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स (Commonwealth Games) में 2 बार स्‍वर्ण पदक जीत चुकीं देश की जानी-मानी वेटलिफ्टर संजीता चानू (Sanjita Chanu) एक बार फ‍िर डोप टेस्‍ट (Dope Test) में फंस गई हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी (NADA) ने गुजरात नेशनल गेम्‍स (Gujarat National Games 2022) में उनके सैंपल लिए थे, जिसमें स्‍टेरायड ड्रास्‍टेनोलॉन पाया गया है. इसके बाद संजीता पर अस्‍थायी प्रतिबंध लगा दिया गया है. अब संजीता को नाडा के सुनवाई पैनल के सामने अपनी बेगुनाही साबित करनी होगी वरना उन पर 4 साल का बैन लगेगा.

2014 के ग्‍लासगो और 2018 के गोल्‍डकोस्‍ट कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में गोल्‍ड मेडल जीतने वाली संजीता ने 30 सिंतबर 2022 को अहमदाबाद में हुए नेशनल गेम्‍स में 49 किलो भारवर्ग में शिरकत की थी. इसमें मीराबाई चानू ने 191 किलो वजन के साथ स्‍वर्ण और संजीता ने 187 किलो वजन के साथ रजत पदक जीता था. इसी दौरान नाडा ने उनका सैंपल लिया था, जिसमें स्‍टेरायड पाया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, संजीता का बी सैंपल भी हो गया है और उसका नतीजा ए सैंपल जैसा ही आया है.

कैसे हुई हॉकी वर्ल्‍ड कप की शुरुआत…किसका था आइडिया? भारत-पाकिस्‍तान जंग से भी है इसका रिश्‍ता

गोल्ड मेडल नहीं मिला,तो बॉडीबिल्डर गुस्से में आया; इनाम में मिले मिक्सर को हवा में उड़ाया

पहले भी लगा आरोप, हो गई थीं बरी
संजीता चानू पर इससे पहले मई 2018 में डोपिंग का आरोप लगा था. हालांकि, तब इंटरनेशनल वेटलिफ्टिंग फेडरेशन (IWF) ने अपनी गलती मानते हुए 2020 में उन्‍हें आरोपों से बरी कर दिया था. इससे संजीता के करियर को 2 साल का नुकसान हुआ. दरअसल, आईडब्ल्यूएफ ने 2017 में अमेरिका में विश्‍व चैंपियनशिप के दौरान उनका सैंपल लिया. इसकी जांच के बाद कहा गया कि उनका टेस्‍टोस्‍टोरोन लेवल ज्‍यादा है. हालांकि, बाद में आईडब्ल्यूएफ ने माना कि उससे सैंपल नंबर में गलती हो गई और संजीता से इसका संबंध नहीं है. वहीं, संजीता के अलावा गुजरात नेशनल गेम्‍स में 55 किलो भारवर्ग में सिल्‍वर मेडल जीतने वाली वीरजीत कौर भी डोप पॉजिटिव पाई गई हैं.

Tags: Commonwealth Games, Dope test fail, Indian Olympic Association, Weightlifting

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें