Champions League Final: चेल्सी ने दूसरी बार जीता खिताब, मैनचेस्टर सिटी का सपना टूटा

चेल्सी ने दूसरी बार चैंपियंस लीग का खिताब जीता है. (फोटो साभार- @ChampionsLeague)

चेल्सी ने दूसरी बार चैंपियंस लीग का खिताब जीता है. (फोटो साभार- @ChampionsLeague)

UEFA Champions League Final 2021: फाइनल मुकाबला इंग्लैंड की दो मजबूत टीमों चेल्सी और मैनचेस्टर सिटी के बीच खेला गया जिसमें बाजी चेल्सी के हाथ लगी.

  • Share this:

नई दिल्ली. चैंपियंस लीग के फाइनल मुकाबले में चेल्सी ने मैनचेस्टर सिटी को 1-0 से मात देकर दूसरी बार खिताब जीता. जर्मनी के फारवर्ड हावर्ट्ज ने 42वें मिनट काई हावर्ट्ज ने 42 वें मिनट में चेल्सी की तरफ से गोल किया. मैच में शानदार प्रदर्शन करने वाले चेल्सी के डिफेंडर नगोलो कांते को मैन ऑफ द मैच चुना गया. इससे पहले चेल्सी साल 2012 में चैंपियन बनी थी. वहीं मैनचेस्टर सिटी पहली बार चैंपियन लीग का फाइनल खेल रही थी. चेल्सी ने कौच थॉमस टचेल के मार्गदर्शन में मैनचेस्टर सिटी और उसके मैनेजर पेप गॉर्डियोला का चैंपियंस लीग जीतने का सपना तोड़ दिया. सिटी को फाइनल में जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा था.

इस मैच को दुनिया के दो प्रमुख कोच टचेल और गार्डियोला के बीच रणनीति​क द्वंद्व के रूप में भी देखा जा रहा था. टचेल आखिर में इसमें विजेता रहे. गार्डियोला ने सिटी को फाइनल में पहुंचाने वाली टीम में बदलाव किया जो उन्हें भारी पड़ा. गार्डियोला दुनिया के नामी गिरामी कोच हैं लेकिन उनका रणनीति पर जरूरत से ज्यादा ध्यान देने से टीम को फिर से नुकसान हुआ. इस हार से सिटी खिताबी हैट्रिक भी नहीं बना पाया. उसने इस सत्र में प्रीमियर लीग और इंग्लिश लीग कप का खिताब भी जीता था.

चेल्सी के 21 वर्षीय खिलाड़ी हावर्ट्ज के लिये भी यह गोल बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि लगभग 10 करोड़ डॉलर का करार करने के बाद वह सत्र के बीच में कोरोना वायरस से संक्रमित हो गये थे. उन्होंने इस बीमारी से उबरने के बाद सत्र के आखिर में चेल्सी की तरफ से अहम भूमिका निभायी. हावर्ट्ज ने बाद में कहा, ''मैं वास्तव में नहीं जानता कि क्या कहना है. मैं लंबे समय से इस अवसर की तलाश में था.''

इस मैच में ज्यादातर समय सिटी की टीम ही हावी रही. मैच में 61 फीसदी समय गेंद सिटी के खिलाड़ियों के पास थी और उसके प्लेयर्स ने 608 पास किए. वहीं चेल्सी के पास गेंद सिर्फ 39 फीसदी रही और उसके खिलाड़ी ने सिर्फ 403 पास किए. चेल्सी इंग्लैंड की तीसरी टीम बन गई है जिसने दो बार चैंपियंस लीग का खिताब जीता है. उससे पहले लिवरपूल (2004-05 और 2018-19) और मैनचेस्टर यूनाइटेड (1998-99 और 2007-08) यह कारनामा कर चुकी है.


सिटी ने सेमीफाइनल में पिछले साल के उपविजेता पेरिस सेंट जर्मन (पीएसजी) को 2-0 से हराकर पहली बार यूएफा चैंपियंस लीग के फाइनल में जगह बनाई थी. दूसरी ओर टिमो वर्नर और मेसन माउंट के गोल की मदद से चेल्सी ने सेमीफाइनल के दूसरे चरण में रियाल मैड्रिड को 2-0 से हराकर फाइनल में जगह बनाई थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज