होम /न्यूज /खेल /स्पेन-पुर्तगाल के 2030 फुटबॉल विश्व कप की संयुक्त मेजबानी बोली में शामिल होगा यूक्रेन: सूत्र

स्पेन-पुर्तगाल के 2030 फुटबॉल विश्व कप की संयुक्त मेजबानी बोली में शामिल होगा यूक्रेन: सूत्र

यूक्रेन को स्पेन-पुर्तगाल की संयुक्त बोली में जोड़ा जा रहा है (Twitter Screen Grab)

यूक्रेन को स्पेन-पुर्तगाल की संयुक्त बोली में जोड़ा जा रहा है (Twitter Screen Grab)

यूक्रेन ने डोनेट्स्क और खार्किव सहित चार स्टेडियमों में 2012 यूरोपीय चैम्पियनशिप की सह-मेजबानी की थी. इस साल की शुरुआत ...अधिक पढ़ें

जेनेवा. यूक्रेन 2030 विश्व कप की मेजबानी के लिए संयुक्त बोली में स्पेन और पुर्तगाल के साथ जुड़ने के लिए तैयार है. इसकी जानकारी रखने वालो एक सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर मंगलवार को ‘द एसोसिएटेड प्रेस (एपी)’ को बताया कि यूक्रेन को स्पेन-पुर्तगाल की संयुक्त बोली में जोड़ा जा रहा है. इस संयुक्त बोली पर पिछले तीन साल से अधिक समय से काम जारी और और इसकी घोषणा बुधवार को स्विट्जरलैंड के न्योन में यूईएफए (यूरोपीय फुटबॉल संघों का महासंघ) मुख्यालय में की जाएगी.

यूक्रेन फुटबॉल महासंघ के अध्यक्ष एंड्री पावेल्को ने ‘एपी’ को पुष्टि की कि वह घोषणा के लिए स्विट्जरलैंड जाएंगे, लेकिन उन्होंने इस योजना के बारे में पुष्टि करने से इनकार कर दिया. यूरोपीय बोली में यूक्रेन के जुड़ने की सूचना सबसे पहले ब्रिटिश अखबार ‘द टाइम्स ऑफ लंदन’ ने दी थी.
भारत की मुमताज खान ने जीता FIH की सर्वश्रेष्ठ उभरती हुई खिलाड़ी का अवॉर्ड

भारत ने AFC अंडर-17 एशियाई कप क्वॉलियर्स में मालदीव को दी करारी शिकस्त

यूक्रेन ने डोनेट्स्क और खार्किव सहित चार स्टेडियमों में 2012 यूरोपीय चैम्पियनशिप की सह-मेजबानी की थी. इस साल की शुरुआत में रूस द्वारा देश पर आक्रमण करने के बाद से पूर्वी यूक्रेन के ये शहर कब्जे या बमबारी के अधीन हैं. फीफा ने 2030 में 48-टीम टूर्नामेंट के लिए एक मेजबान चुनने के लिए कोई औपचारिक समय सीमा नहीं दी है, लेकिन शासी निकाय ने 2024 में इस फैसले का वादा किया है. इसके लिए मतदान में लगभग 200 फीफा सदस्य संघ शामिल होंगे.

यूरोपीय बोली को अर्जेंटीना, चिली, पराग्वे और उरुग्वे के सह-मेजबान साथ दक्षिण अमेरिकी उम्मीदवारी का सामना करने की उम्मीद है. इसके साथ ही सऊदी अरब भी इस दौड़ में शामिल है. सऊदी अरब ने हाल के वर्षों में फीफा और उसके अध्यक्ष गियानी इन्फेंटीनो के साथ बेहतर संबंध बनाया है. वह मिस्र और यूनान जैसे देशों के साथ मिल कर संयुक्त बहु-महाद्वपीय मेजबानी का दावा कर सकता है. इस बहु-महाद्वीप बोली को लेकर यूएफा का रूख महत्वपूर्ण होगा क्योंकि यूनान उसका सदस्य देश है.

Tags: Fifa world cup, Football news, Ukraine

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें