Home /News /sports /

Wimbledon 2021 : सानिया मिर्जा और बेथानी ने विंबलडन के दूसरे दौर में बनाई जगह

Wimbledon 2021 : सानिया मिर्जा और बेथानी ने विंबलडन के दूसरे दौर में बनाई जगह

सानिया मिर्जा और बेथानी की जोड़ी ने Wimbledon के दूसरे राउंड में जगह बना ली है. (Instagram)

सानिया मिर्जा और बेथानी की जोड़ी ने Wimbledon के दूसरे राउंड में जगह बना ली है. (Instagram)

भारतीय स्टार सानिया मिर्जा (Sania Mirza) ने अपनी जोड़ीदार अमेरिका की बेथानी माटेक सैंड्स के साथ विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट (Wimbledon 2021) के महिला युगल के दूसरे राउंड में प्रवेश किया. उन्होंने डेसिरे क्राउजिक और एलेक्सा गुआराची की छठी वरीय जोड़ी को मात दी.

अधिक पढ़ें ...
    लंदन. दिग्गज महिला खिलाड़ी सानिया मिर्जा (Sania Mirza) और अमेरिका की उनकी जोड़ीदार बेथानी माटेक सैंड्स ने डेसिरे क्राउजिक और एलेक्सा गुआराची की छठी वरीय जोड़ी को हराकर उलटफेर करते हुए गुरुवार को विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट (Wimbledon) के महिला युगल के दूसरे दौर में जगह बनाई. सानिया और बेथानी ने धीमी शुरुआत के बाद लय हासिल कर ली और पहले दौर में मुकाबले में अमेरिका और चिली की जोड़ी को एक घंटा और 27 मिनट में 7-5, 6-3 से हराया.

    मैच की शुरुआत में ही भारत और अमेरिका की जोड़ी पर दबाव आ गया, जब तीसरे गेम में बेथानी की सर्विस पर सात बार ड्यूस हुआ. अमेरिकी खिलाड़ी ने तीन डबल फॉल्ट किए लेकिन तीन ब्रेक प्वाइंट बचाने के बाद अपनी सर्विस भी बचा ली. सानिया और बेथानी को भी विरोधी की सर्विस तोड़ने का मौका मिला, जब अमेरिकी खिलाड़ी ने नेट पर वॉली पर अंक बनाने का मौका गंवा दिया.

    इसे भी पढ़ें, स्तनपान कराने वाली खिलाड़ियों को बच्चों को टोक्यो ले जाने की अनुमति मिली

    बायें हाथ की खिलाड़ी डेसिरे ने इसके बाद शानदार सर्विस करते हुए अपनी सर्विस बचाई. एलेक्सा ने 12वें गेम में 15-30 पर सर्विस करते हुए फोरहैंड बाहर मारकर विरोधी जोड़ी को दो सेट प्वाइंट दिए और सानिया ने स्मैश के साथ पहला सेट जीत लिया. दूसरे सेट में सानिया और बेथानी ने एक बार फिर एलेक्सा की सर्विस तोड़कर 3-1 की बढ़त बनाई जिसके बाद इस जोड़ी को सेट और मैच जीतने में कोई परेशानी नहीं हुई.

    अंकिता रैना (Ankita Raina) गुरुवार को ही अमेरिका की अपनी जोड़ीदार लॉरेन डेविड के साथ उतरेंगी. यह पहली बार होगा, जब ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में दो भारतीय महिला खिलाड़ी खेलेंगी. अंकिता लगातार तीसरे ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट में खेल रही हैं, उन्होंने इसी साल ऑस्ट्रेलियन ओपन के साथ ग्रैंडस्लैम में पदार्पण किया था.

    सानिया 2005 से ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंटों में भारत का प्रतिनिधित्व कर रही हैं. इससे पहले भारतीय-अमेरिकी शिखा ओबेरॉय ने 2004 में अमेरिकी ओपन के महिला एकल के लिए क्वालिफाई किया था और जापान की साओरी ओबाता के खिलाफ पहले दौर का मुकाबला जीता भी था लेकिन इसके बाद वीनस विलियम्स से हार गईं. शिखा इसके बाद कभी ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में जगह नहीं बना सकी। निरूपमा वैद्यनाथन 1998 में ऑस्ट्रेलियन ओपन में जगह बनाने के बाद ग्रैंडस्लैम मुख्य ड्रॉ में खेलने वाली पहली महिला एकल खिलाड़ी बनी थीं. निरूपमा मांकड़ 1971 में आनंद अमृतराज के साथ विंबलडन के मिश्रित युगल में खेली थी.undefined

    Tags: Sania mirza, Tennis, Wimbledon 2021

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर