Home /News /sports /

एशिया कप हॉकी : ओलंपिक की लय बरकरार रखकर खिताब बचाने उतरेगा भारत

एशिया कप हॉकी : ओलंपिक की लय बरकरार रखकर खिताब बचाने उतरेगा भारत

गोलकीपर सविता पूनिया चोटिल रानी रामपाल की गैरमौजूदगी में टीम की अगुवाई करेंगी (PIC: AP)

गोलकीपर सविता पूनिया चोटिल रानी रामपाल की गैरमौजूदगी में टीम की अगुवाई करेंगी (PIC: AP)

एक तरह से देखा जाए तो भारतीय टीम को टोक्यो ओलंपिक के बाद खेलने का मौका नहीं मिला है. वह दो महीने पहले एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी के लिए दक्षिण कोरिया के दौरे गई थी, लेकिन टीम में कोविड पॉजिटिव मामले पाए जाने के बाद उसे टूर्नामेंट से हटने के लिए मजबूर होना पड़ा था.

अधिक पढ़ें ...

    मस्कट. भारतीय महिला हॉकी टीम टोक्यो ओलंपिक खेलों की लय को बरकरार रखकर मलेशिया के खिलाफ शुक्रवार को यहां एशिया कप में खिताब बचाने के अपने अभियान की शुरुआत करेगी. भारतीय महिला टीम ने पिछले साल टोक्यो ओलंपिक में चौथा स्थान हासिल किया था, जो इन खेलों में उसका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. सविता पूनिया की अगुवाई वाली टीम टूर्नामेंट में सबसे अनुभवी है. उन्हें उम्मीद रहेगी कि ओलंपिक के बाद अपनी पहली महत्वपूर्ण प्रतियोगिता में वह अपने अनुभव का अच्छा इस्तेमाल करेगी.

    गोलकीपर सविता चोटिल रानी रामपाल की गैरमौजूदगी में टीम की अगुवाई करेंगी. रानी को हैमस्ट्रिंग की चोट से उबरने के लिए विश्राम दिया गया है. सविता ने स्वीकार किया है कि इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भारत की सफलता में टीम का अनुभव बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. यह टूर्नामेंट इस साल के एफआईएच महिला विश्व कप के लिए क्वॉलिफाइंग प्रतियोगिता भी है, जिसकी मेजबानी स्पेन और नीदरलैंड करेंगे.

    सविता ने कहा, ”इस टीम के लिये यह अच्छी बात है कि हम सभी लंबे समय से एक साथ खेल रहे हैं और मुझे लगता है कि यह अनुभव और खिलाड़ियों का आपसी तालमेल हमें अन्य टीमों की तुलना में फायदे की स्थिति में रखता है.” उन्होंने पहले मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ”हमारी मुख्य प्राथमिकता अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करना और यह सुनिश्चित करना होगा कि हम बिना किसी गलती के प्रत्येक टीम के खिलाफ अपनी रणनीति पर अमल करें.”

    मौजूदा चैंपियन भारत को जापान, मलेशिया और सिंगापुर के साथ पूल ए में रखा गया है. मलेशिया के बाद भारतीय टीम रविवार को जापान के खिलाफ खेलेगी और 24 जनवरी को अपने अंतिम पूल मैच में सिंगापुर से भिड़ेगी. भारतीय टीम की फॉर्म को देखते हुए उसके पूल में शीर्ष पर रहने की संभावना है. दोनों पूल से शीर्ष पर रहने वाली दो टीम 26 जनवरी को खेले जाने वाले सेमीफाइनल के लिए क्वॉलिफाई करेंगी. फाइनल 28 जनवरी को खेला जाएगा.

    एक तरह से देखा जाए तो भारतीय टीम को टोक्यो ओलंपिक के बाद खेलने का मौका नहीं मिला है. वह दो महीने पहले एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी के लिए दक्षिण कोरिया के दौरे गई थी, लेकिन टीम में कोविड पॉजिटिव मामले पाए जाने के बाद उसे टूर्नामेंट से हटने के लिए मजबूर होना पड़ा था. यही नहीं नये कोच यानेक शोपमैन के लिए भी एशिया कप बड़ा टूर्नामेंट होगा, जो टोक्यो में सोर्ड मारिन के कोच रहते हुए तकनीकी विश्लेषक की भूमिका निभा रहे थे.

    एशिया कप से भारत का व्यस्त कैलेंडर भी शुरू करेगा, जिसमें वह बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों और चीन के हांग्जो में एशियाई खेलों में भाग लेगा. एशियाई खेल पेरिस ओलंपिक 2024 के लिए क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट भी है. इनके अलावा भारतीय टीम पहली बार एफआईएच प्रो लीग में भी भाग लेगी. पूल ए के दूसरे मैच में शुक्रवार को जापान का सामना सिंगापुर से जबकि पूल बी में दक्षिण कोरिया का सामना इंडोनेशिया से और चीन का थाईलैंड से होगा.

    Tags: Hockey, Indian Hockey Team, Rani Rampal, Savita Punia

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर