लाइव टीवी

तेजस के बाद अब 150 ट्रेनों और 50 रेलवे स्टेशनों को प्राइवेट बनाने की तैयारी में सरकार

News18Hindi
Updated: October 10, 2019, 8:44 AM IST
तेजस के बाद अब 150 ट्रेनों और 50 रेलवे स्टेशनों को प्राइवेट बनाने की तैयारी में सरकार
नीति आयोग ने रेलवे बोर्ड को इस संबंध में पत्र लिखा है.

नीति आयोग (Niti Aayog) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) अमिताभ कांत ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव को इस बारे में एक लेटर लिखा है, जिसमें 150 ट्रेनों और 50 रेलवे स्टेशनों के निजीकरण करने का जिक्र है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 10, 2019, 8:44 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार ने देश के रेलवे स्टेशनों और ट्रेनों के निजीकरण की प्रक्रिया तेज कर दी है. देश की पहली निजी सेमी-हाई स्पीड ट्रेन तेजस (Tejas Express) को पहली कॉर्पोरेट ट्रेन बनाने के बाद अब भारतीय रेलवे 50 रेलवे स्टेशनों और 150 ट्रेनों को निजी हाथों में सौंपने की तैयारी कर रहा है. नीति आयोग (Niti Aayog) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) अमिताभ कांत ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव को इस बारे में एक लेटर लिखा है, जिसमें 150 ट्रेनों और 50 रेलवे स्टेशनों का निजीकरण करने का जिक्र है.

नीति आयोग ने रेलवे बोर्ड को इस संबंध में पत्र लिखा है.


400 रेलवे स्टेशनों को वर्ल्ड क्लास बनाने का लक्ष्‍य
रेलवे बोर्ड के चेयरमैन के नाम लेटर में नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने लिखा- 'जैसा कि आप पहले से जानते हैं कि रेल मंत्रालय ने पैसेंजर ट्रेनों के संचालन के लिए निजी ट्रेन ऑपरेटरों को लाने का फैसला किया है और पहले चरण में 150 ट्रेनों को इसके तहत लेने का विचार कर रहा है.' नीति आयोग के इस लेटर में 400 रेलवे स्टेशनों को वर्ल्ड क्लास बनाए जाने के लक्ष्य का भी जिक्र है.

इंपावर्ड ग्रुप ऑफ सेक्रेट्रीज का सुझाव भी दिया
पत्र में नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने 6 एयरपोर्ट के निजीकरण के अनुभव का भी जिक्र किया. उन्‍होंने कहा कि इसी तरीके का काम रेलवे के लिए भी किया जा सकता है. उन्‍होंने इसके लिए एक इंपावर्ड ग्रुप ऑफ सेक्रेट्रीज बनाने का सुझाव दिया है. इसमें नीति आयोग के सीईओ, चेयरमैन रेलवे बोर्ड, सेक्रेटरी डिपार्टमेंट ऑफ इकोनॉमिक अफेयर्स, सेक्रेटरी मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स को शामिल करके टाइम बाउंड प्रक्रिया के तहत काम को आगे बढ़ाने की बात कही गई है.

मेक माई‍ ट्रिप, इंडिगो और स्‍पाइसजेट ने दिखाई दिलचस्‍पी
Loading...

तेजस के रूप में पहली कॉर्पोरेट ट्रेन चलने के बाद अब पर्यटन क्षेत्र की बड़ी कंपनियां भी इसमें दिलचस्‍पी दिखाने लगी हैं. मेक माई ट्रिप ने इसके लिए भारतीय रेलवे को एक प्रपोजल भेजा है. इसके अलावा प्रमुख एयरलाइंस कंपनियां इंडिगो और स्‍पाइसजेट ने भी भारतीय रेलवे को प्रपोजल भेजकर प्राइवेट ट्रेन चलाने में दिलचस्‍पी दिखाई है. रिपोर्टों के अनुसार रेलवे ने भी इस बात की पुष्टि की है.

यह भी पढ़ें: देश की पहली कॉरपोरेट प्राइवेट ट्रेन तेजस को CM योगी ने दिखाई हरी झंडी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 10, 2019, 8:16 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...