COVID-19: कोटा में फंसी बेटियों ने वीडियो भेजकर लगाई गुहार, यहां भय का माहौल, हमें कैसे भी निकालिए नीतीश अंकल

कोटा में फंसी पूर्णिया की छात्राएं

कोटा में फंसी पूर्णिया की छात्राएं

पूर्णिया (Purnia) की छात्रा शाम्भवी और आकांक्षा ने कहा कि अन्य राज्यों की सरकार अपने छात्रों को ले जा रहे हैं. हास्टल्स (Hostels) खाली हो गये हैं. अब न तो हमे सही ढंग से पढ़ने को मिल रहा है और ना ही खाने को

  • Share this:

पूर्णिया. कोरोना महामारी (Corona Epidemic) और लॉकडाउन के चलते राजस्थान के कोटा (Kota) शहर में बिहार के पूर्णिया (Purnia) के भी सैकड़ों छात्र फंसे हुये हैं. ये सभी छात्र सोशल मीडिया (Social Media) के माध्यम से और न्यूज़ 18 को मैसेज भेजकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से गुहार लगा रहे हैं कि उन्हें किसी तरह वापस अपने घर पहुंचा दें. पूर्णिया के आदित्य राज, शांभवी और आकांक्षा ने न्यूज़ 18 के माध्यम से बिहार के मुख्यमंत्री से गुहार लगाई है.

वीडियो भेजकर लगाई गुहार

इन तीनों ने वीडियो के माध्यम से कहा कि कोटा में कोरोना की भयावह स्थिति है, ऐसे में वो लोग काफी डरे हुये और तनाव में हैं. मुख्यमंत्री उनको उनके घरों तक पहुंचाने की कृपा करें. छात्रों ने कहा कि वो लोग अपने हॉस्टल में कैद हैं. कोटा में सौ से अधिक कोरोना पाजिटिव केस हैं ऐसे हालात में उन लोगों को हमेशा डर लगा रहता है. छात्र आदित्य राज ने कहा कि वो लोग यहां मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारी करने आये थे लेकिन कोरोना के कारण हुये लॉकडाउन में फंस गये हैं. उन लोगों को किसी तरह उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की जाए.

खाने-पीने में हो रही परेशानी
वहीं छात्रा शांभवी और आकांक्षा ने कहा कि अन्य राज्यों की सरकारें अपने-अपने छात्रों को ले जा रहे हैं. तमाम हॉस्टल खाली हो गये हैं. बिहार सरकार उन लोगों को घर पहुंचाने की व्यवस्था करें ताकि वो संकट की इस घड़ी में अपने परिवार के साथ रह सके. छात्रों ने कहा कि वो लोग न तो यहां पढ़ पा रहे हैं और न ही कहीं बाहर निकल रहे हैं. अब तो हॉस्टल में भी खाने-पीने की परेशानी हो रही है.

छात्रों के परिजन भी मुख्यमंत्री से लगा रहे हैं गुहार

कोटा में फंसे इन छात्रों के परिजन भी काफी परेशान हैं. छात्र आदित्य राज की मां तरुण प्रिया ने कहा कि उन लोगों को हमेशा अपने बेटे की चिंता लगी रहती है. बेटा इस हालात में कैसे है, वो कैसे खा-पी रहा है, वहां कोरोना महामारी दिनों दिन बढ़ती जा रही है. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बच्चों को कोटा से वापस लाने की गुहार लगाई है.



ये भी पढ़ें- कोटा में फंसे छात्रों के मामले में पटना हाईकोर्ट ने सरकार से 27 तक मांगा जवाब

ये भी पढ़ें- बांका में अनाज के कालाबाजारियों पर बड़ी कार्रवाई, 700 बोरी चावल-गेहूं जब्त

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज