मोबाइल बिल पर ज्यादा खर्च करने के लिए रहें तैयार, एयरटेल के चेयरमैन सुनील ​मित्तल ने दिए संकेत

मित्तल ने कहा कि 2 डॉलर में हर महीने 16 जीबी डेटा बेहद सस्ता है.

मित्तल ने कहा कि 2 डॉलर में हर महीने 16 जीबी डेटा बेहद सस्ता है.

अगले 6 महीने में मोबाइल फोन का बिल बढ़ सकता है. भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनली भारती मित्तल (Sunil Bharti Mittal) ने इसका संकेत दिया है. उन्होंने कहा कि आप 160 रुपये में प्रति महीने 16 GB डेटा नहीं प्राप्त कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 25, 2020, 8:02 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की बड़ी टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल (Sunil Bharti Mittal) ने संकेत दिया कि अगले 6 महीने में मोबाइस सर्विसेज (Mobile Services) महंगी होने जा रही हैं. उन्होंने कहा कि इतनी कम दर पर डेटा मिलना टेलिकॉम इंडस्ट्री (Telecom Industry) के लिए सतत नहीं है. मित्तल ने सोमवार को कहा कि हर महीने 16 GB डेटा के लिए केवल 160 रुपये खर्च करना एक ट्रैजेडी है. उन्होंने सोमवार को एक इवेंट में कहा, 'आप हर महीने इसी कॉस्ट पर 1.6 GB डेटा खर्च कीजिए या आप इससे ज्यादा देने के लिए तैयार रहिए. हम अमेरिका या यूरोप की तरह 50 से 60 डॉलर की मांग नहीं कर रहे हैं, लेकिन ​निश्चित रूप से 16 GB डेटा के लिए 2 डॉलर पर्याप्त नहीं है.'

मित्तल ने यह भी कहा कि उम्मीद है कि डिजिटल कॉन्टेन्ट कंज्म्पशन (Digital Content Consumption) के​ लिए अगले 6 महीने में औसतन प्रति यूजर रेवेन्यू (ARPU - Average revenue per user)  200 रुपये से ज्यादा हो सकता है. ARPU के जरिए टेलिकॉम कंपनियां प्रति महीने एक यूजर से प्राप्त होने वाले रेवेन्यू का पता लगाती हैं.

यह भी पढ़ें: 9 हज़ार से भी कम कीमत वाले Realme C12 की पहली सेल आज, मिलेगी 6000mAh की बैटरी



भारती एंटरप्राइजेज एक्जीक्युटिव अखिल गुप्ता द्वार लिखे गये एक पुस्तक के विमोचन के मौके पर उन्होंने कहा, 'हमें 300 रुपये ARPU की जरूरत है, जिसमे लोवर एंड 100 रुपये का होगा और पर्याप्त डेटा भी उपलब्ध होगा. लेकिन अगर टीवी देखने, फिल्में देखने, एंटरटेनमेंट या अन्य स्पेशल सर्विस नेटवर्क्स के लिए आपको ज्यादा खर्च करना होगा.'
जून ​तिमाही में एयरटेल का ARPU 157 रुपये रहा था
30 जून 2020 को खत्म हुए पहली तिमाही में भारती एयरटेल ने 157 रुपये का ARPU प्राप्त करने के बारे में जानकारी दी. कंपनी ने दिसंबर 2019 में टैरिफ दरें बढ़ा दी थी, जिसके बाद ARPU में यह इजाफा देखने को मिला.

यह भी पढ़ें: शुरू हुई Apple Days Sale: अब तक की सबसे कम कीमत में खरीदें ये पॉपुलर iPhones

ARPU में सॉलिड इजाफे की तैयारी
मित्तल ने कहा कि मुश्किल समय में भी टेलिकॉम ऑपरेटर्स ने देश को अपनी सर्विस मुहैया कराई है. इंडस्ट्रीज को 5 में निवेश करना है, ऑप्टिकल फाइबर्स और सबमरीन केबल्स लगाने आदि पर खर्च करना है. इंडस्ट्री को सतत बनाने के लिए अगले 5 से 6 महीने में आप ARPU में सॉलिड बढ़ोतरी देखेंगे. इस सेक्टर में अभी 2 से 3 प्लेयर्स हैं. भारत कीमतों को लेकर हमेशा सचेत रहने वाला बाजार है. अगले 6 महीने में हम निश्चित ही 200 रुपये ARPU के मार्क को पार कर जाएंगे. अगर यह 250 रुपये तक पहुंचता है तो और भी बेहतर होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज