अपना शहर चुनें

States

कोविड-19 वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों पर हुए 80 लाख साइबर अटैक, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों पर हुए साइबर अटैक.
कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों पर हुए साइबर अटैक.

भारत समेत दुनियाभर के 180 से ज्यादा देशों में कोरोना वायरस (Corona virus) का खौफ देखने को मिल रहा है. अभी तक 6.22 करोड़ से ज्यादा लोग इस संक्रमण (Infection) की चपेट में आ चुके हैं. यह वायरस 14.51 लाख से ज्यादा संक्रमितों की जिंदगी छीन चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2020, 2:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना महामारी ने भारत के साथ पूरे विश्व को हिला रखा है. डॉक्टर और वैज्ञानिक लगातार कोविड-19 की रोकथाम के लिए वैक्सीन खोज रहे है. जिसमें से कई वैक्सीन इस समय अपने फाइनल ट्रायल में चल रही है. ऐसे में साइबर पीस फाउंडेशन की एक रिपोर्ट ने सभी को परेशानी में डाल दिया है. इस रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत समेत दुनिया  में 1 अक्टूबर से 25 नवंबर के दौरान कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों के ऊपर 80 लाख साइबर अटैक हुए है. इस रिपोर्ट के अनुसार इसमें ज्यादातर हमले हेल्थकेयर सेक्टर पर आधारित 'थ्रेट इंटेलिजेंस सेंसर' नेटवर्क से जुड़े थे. जिसमें अक्टूबर में कुल 54,34,825 और नवंबर में 16,43,169 साइबर अटैक हुए. 



वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों के विंडोज सर्वर पर किया अटैक- साइबर पीस फाउंडेशन की रिपोर्ट के अनुसार साइबर अटैक ऐसे सिस्टम पर सबसे ज्यादा किए गए हैं. जो अनियंत्रित इंटरनेट सिस्टम का सामना कर रहे हैं. साइबर हमलों पर किए गए रिसर्च में पता चला है कि इंटरनेट-फेसिंग सिस्टम में रिमोट डेस्कटॉप प्रोटोकॉल अनेबल होता है. ऐसे में पुराने विंडोज सर्वर प्लेटफॉर्म पर सबसे ज्यादा अटैक हुए हैं. साइबर पीस फाउंडेशन ने कहा, 'इस संकट के दौरान हेल्थकेयर सेक्टर पर कई रैंसमवेयर हमले हुए हैं, जो अप्रैल 2020 में शुरू हो गए थे'.  



यह भी पढ़ें: PUBG Mobile India: आखिर कब होगा लॉन्च? रिपोर्ट से हुआ खुलासा!

माइक्रोसॉफ्ट ने लगाया सबसे पहले साइबर अटैक का पता- इसी महीने माइक्रोसॉफ्ट ने कोविड-19 वैक्सीन बनाने वाली भारत समेत अन्य देशों की 7 प्रमुख कंपनियों को निशाना बनाने वाले साइबर हमलों का पता लगाया था. इसमें कनाडा, फ्रांस, भारत, दक्षिण कोरिया और अमेरिका की प्रमुख फार्मास्युटिकल कंपनियां और वैक्सीन रिसर्चर्स शामिल थे. यह हमला रूस और उत्तर कोरिया से किया गया था. हालांकि, माइक्रोसॉफ्ट ने वैक्सीन निर्माताओं के नामों का खुलासा नहीं किया है. माइक्रोसॉफ्ट के मुताबिक, जिन कंपनियों को निशाना बनाया गया था, उनमें अधिकांश वैक्सीन निर्माता ऐसे हैं जिनके वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है.
यह भी पढ़ें: Aadhaar से जुड़ी ये जानकारी बेहद जरूरी, बायोमेट्रिक सुधार के लिए कोई मांगे पैसे! तो लें ये एक्शन

देश और दुनिया में कोरोना का हाल- भारत समेत दुनियाभर के 180 से ज्यादा देशों में कोरोना वायरस का खौफ देखने को मिल रहा है. अभी तक 6.22 करोड़ से ज्यादा लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. यह वायरस 14.51 लाख से ज्यादा संक्रमितों की जिंदगी छीन चुका है. भारत में भी हर रोज COVID-19 के मामले बढ़ रहे हैं. संक्रमितों की संख्या 93 लाख पार हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा रविवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 93,92,919 हो गई है. पिछले 24 घंटों में कोरोना के 41,810 नए मामले सामने आए हैं और 42,298 मरीज ठीक हुए हैं. इस दौरान 496 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज