• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • सरकार की इस ऐप ने मचाई धूम, दुनिया में सबसे कम समय में करोड़ों डाउनलोड होने वाली लिस्ट में बनाई जगह...

सरकार की इस ऐप ने मचाई धूम, दुनिया में सबसे कम समय में करोड़ों डाउनलोड होने वाली लिस्ट में बनाई जगह...

Aarogya Setu App को 10 करोड़ बार डाउनलोड किया जा चुका है.

Aarogya Setu App को 10 करोड़ बार डाउनलोड किया जा चुका है.

आरोग्य सेतु ऐप (Aarogya Setu) लॉन्च होने के सिर्फ 13 दिनों में 50 मिलियन (5 लाख) यूज़र्स की पसंद बना, जिससे ये इतने कम समय में दुनिया में सबसे ज़्यादा डाउनलोड किए जाने वाले ऐप में से एक बन गया...

  • Share this:
    कोरोनो वायरस (coronavirus) के संक्रमण के प्रति लोगों को आगाह करने के लिए बनाए गए सरकारी ऐप आरोग्य सेतु को अब तक दस करोड़ बार डाउनलोड किया जा चुका है. 2 अप्रैल को लॉन्च  हुई आरोग्य सेतु ऐप (Aarogya Setu) लॉन्च होने के सिर्फ 13 दिनों में 50 मिलियन (5 लाख) यूज़र्स की पसंद बना, जिससे ये इतने कम समय में दुनिया में सबसे ज़्यादा डाउनलोड किए जाने वाले ऐप में से एक बन गया.

    इसको लेकर केंद्रीय रेलमंत्री पीयूष गोयल ने भी ट्वीट के ज़रिए जानकारी दी है.



    आरोग्य सेतु एक ट्रैकिंग ऐप है. इस ऐप में GPS सिस्टम और ब्लूटूथ के ज़रिए कोरोना वायरस के संक्रमण से संबंधित मामलों को पता लगाने की सुविधा है. आरोग्य सेतु ऐप एंड्रॉयड और आईफोन दोनों के लिए बनाई गई है. ऐप यूज़र के फोन का ब्लूटूथ, लोकेशन और मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करके यह ट्रैक करता है कि वह किसी COVID-19 पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आया है. इस ऐप में कोरोना के हेल्प सेंटर और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट जैसे ऑप्शन मौजूद हैं.

    (ये भी पढ़ें- WhatsApp पर आ रहा है बड़ा फीचर! 50 लोगों से एक साथ हो सकेगी वीडियो कॉलिंग)

    ऐप में एक चैटबॉट शामिल है जो कोरोनो वायरस पर आपके मूल प्रश्नों का जवाब देता है और यह निर्धारित करता है कि आप में कोरोना संक्रमन के लक्षण हैं या नहीं. यह भारत में प्रत्येक राज्य का हेल्पलाइन नंबर भी देता है.

    ट्रेन में सफर के लिए अनिवार्य है आरोग्य सेतु
    भारतीय रेलवे ने 12 मई से शुरू हुई विशेष यात्री ट्रेनों में यात्रा के लिए ‘आरोग्य सेतु ऐप’ को फोन में डाउनलोड करना ‘अनिवार्य’ कर दिया है. रेल मंत्रालय ने इसकी जानकारी ट्वीट करके दी है. रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि जिनके फोन में आरोग्य सेतु एप नहीं होगा, उन्हें स्टेशन पर ही एप को डाउनलोड करना होगा और उसके बाद ही ट्रेन में चढ़ने दिया जाएगा.

    आपको भी WhatsApp पर आते हैं 'Voice Notes' तो ज़रूर ट्राय करें ये सीक्रेट ट्रिक

    लैंडलाइन के लिए है सर्विस
    इसके अलावा हाल ही में भारत सरकार ने फीचर फोन और लैंडलाइन के लिए IVRS सर्विस लॉन्च की है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसको लेकर जानकारी दी और कहा कि देश में फीचर मोबाइल फोन और लैंडलाइन फोन यूज़र्स के लिए 'आरोग्य सेतु' मोबाइल ऐप के दायरे का विस्तार करते हुए ' आरोग्य सेतु इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पॉन्स सिस्टम' शुरू किया गया है. मंत्रालय बताया कि आरोग्य सेतु इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम' (IVRS) मुफ्त सेवा है जो कि पूरे देश में उपलब्ध है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज