ये लैपटॉप यूज़र्स हवाई जहाज़ में नहीं कर सकते सफर, चेक करें कहीं आपका लैपटॉप भी तो बैन नहीं

DGCA के एप्पल MacBook Pro लैपटॉप को फ्लाइट में ले जाने पर इसी हफ्ते बैन लगाने के बाद अब एयर इंडिया (Air India) ने भी एडवाइज़री (advisory) जारी की है.

News18Hindi
Updated: September 2, 2019, 7:26 AM IST
ये लैपटॉप यूज़र्स हवाई जहाज़ में नहीं कर सकते सफर, चेक करें कहीं आपका लैपटॉप भी तो बैन नहीं
DGCA के एप्पल MacBook Pro लैपटॉप को फ्लाइट में ले जाने पर इसी हफ्ते बैन लगाने के बाद अब एयर इंडिया (Air India) ने भी एडवाइज़री (advisory) जारी की है.
News18Hindi
Updated: September 2, 2019, 7:26 AM IST
इंडियन एविएशन रेगुलेटर-DGCA (डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन) के एप्पल MacBook Pro लैपटॉप को फ्लाइट में ले जाने पर इसी हफ्ते बैन लगाने के बाद अब एयर इंडिया (Air India) ने भी एडवाइज़री (advisory) जारी की है.

एयर इंडिया ने ट्वीट कर लिखा डीजीसीए की  एडवाइजरी को मद्देनज़र रखते हुए हम यात्रियों से अनुरोध करते हैं कि वह मैकबुक प्रो लैपटॉप (15 इंच) को चेक-इन या लगेज में साथ ना लाएं. ट्विट में उन मैकबुक प्रो पर पाबंदी है, जिन्हें सितंबर 2015 से फरवरी 2017 के बीच खरीदा गया हो.

दरअसल एप्पल मैकबुक प्रो (15 इंच) में बैटरी ओवरहीटिंग और आग लगने का खतरा पैदा होने के चलते DGCA ने 26 अगस्त को इनको हवाई यात्रा में साथ लाने पर पाबंदी लगाई थी.

(ये भी पढ़ें- WhatsApp बैन कर देता है यूज़र्स का अकाउंट, आप भूलकर भी ना करें ये गलती)



यूएस फेडरेशन एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन ने फ्लाइट्स पर मैकबुक प्रो के उन मॉडल्स को बैन कर दिया है, जिनमें समस्या पाई गई है. इस मामले के सामने आने के बाद सिंगापुर एयरलाइंस ने भी अपने ग्राहकों से प्रभावित मॉडल्स नहीं लाने को कहा है. ऐसे में अगर आपके पास भी एप्पल मैकबुक प्रो है तो जानें कि उस मॉडल को फ्लाइट में ले जाना बैन तो नहीं....

आपका मैकबुक इससे प्रभावित है या नहीं, इसकी जानकारी आप सीरियल नंबर के जरिए ले सकते हैं.
Loading...

>>>एप्पल मेन्यू के लेफ्ट कॉर्नर पर दिए गए 'About this Mac' पर जांए. यहां आपको आपके मैक का नाम, ऑपरेटिंग सिस्टम का वर्जन, मॉडल नंबर और सीरियल नंबर दिखेगा.

(ये भी पढ़ें- Gmail पर भेजा गया Mail पढ़ने के बाद हो जाएगा Delete, चेंज करें सेटिंग)

>>>बॉक्स में नजर आ रहे मॉडल नंबर को चेक करें. अगर आपको भी (MacBook Pro (Retina, 15-inch, Mid 2015) जैसा कुछ लिखा नजर आ रहा है तो उसी बॉक्स में इस सीरियल नंबर को चेक करें.



>>> यह जानने के लिए कि आपका डिवाइस इस परेशानी से प्रभावित है या नहीं, इसके लिए बॉक्स में अपना सीरियल नंबर डालें.

>>> अगर आपका लैपटॉप भी इससे अफेक्टेड है तो ऐपल के किसी ऑर्थोराइज्ड स्टोर पर जाकर इसे रिप्लेस करा सकते हैं.

(ये भी पढ़ें- Tata Sky ने बदला प्लान, अब कम कीमत में मिलेंगे ज़्यादा चैनल्स)

बता दें कि एप्पल ने जून में ही मैकबुक प्रो के कुछ मॉडल्स को बैटरी में आ रही समस्या की वजह से वापस मंगाया था. कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर कहा था कि एफेक्टड (प्रभावित) यूनिट्स की सितंबर 2015 से फरवरी 2017 के बीच काफी बिक्री हुई है और प्रोडक्ट के सीरियल नंबर के जरिए इनकी पहचान की जा सकती है. कंपनी ने कहा था कि वो जिन लैपटॉप्स की बैटरी में समस्या पाई जाएगी, उसे फ्री में रिप्लेस करेगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गैजेट्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 2, 2019, 6:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...