क्या बंद हो जाएंगे Vodafone और Airtel के ये प्लान्स? TRAI जल्द करेगा फैसला

क्या बंद हो जाएंगे Vodafone और Airtel के ये प्लान्स? TRAI जल्द करेगा फैसला
ट्राई ने Vodafone और Airtel से 10 अगस्त जवाब मांगा है.

वोडाफोन और एयरटेल के ‘प्रायोरिटी प्लान’ से संबंधित कई मुद्दों पर ट्राई (TRAI) को ‘गंभीर चिंता’ थी, जिसको लेकर ट्राई ने दोनों दूरसंचार कंपनियों को जवाब देने के लिए 10 अगस्त तक का समय दिया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दूरसंचार नियामक ट्राई को उम्मीद है कि वह वोडाफोन-आइडिया (Vodafone Idea) और एयरटेल (Airtel) के ‘प्रायोरिटी प्लान’ (Priority Plan) पर दो दूरसंचार कंपनियों से मांगी गई जानकारी का विस्तृत जवाब मिलने के दो सप्ताह के भीतर अपने फैसले को अंतिम रूप दे देगी. ट्राई के एक सूत्र ने ये जानकारी दी है. सूत्र ने कहा कि ‘प्रायोरिटी प्लान’ से संबंधित कई मुद्दों पर ट्राई (TRAI) को ‘गंभीर चिंता’ थी. ट्राई ने दो दूरसंचार कंपनियों को जवाब देने के लिए 10 अगस्त तक का समय दिया है.

सूत्रों के अनुसार ट्राई ने कंपनियों से पूछा था कि नेटवर्क व्यस्त होने की स्थिति में यदि किसी गैर-प्रीमियम प्लान वाले ग्राहक के इर्द-गिर्द कई सारे प्रीमियम प्लान ग्राहक हों तो उस स्थिति में गैर-प्रीमयम ग्राहक को कैसी सेवाएं मिलेंगी? ट्राई ने ग्राहकों को दो श्रेणियों में बांटने वाले दोनों कंपनियों के इन प्लान पर इस तरह के करीब दो दर्जन प्रश्न पूछे हैं.

(ये भी पढ़ें- बेहद सस्ता हो गया दुनिया का सबसे ज़्यादा पसंद किया जाने वाला ये धांसू एंड्रॉयड फोन, जानें नई कीमत)



सूत्रों ने कहा कि सिर्फ ‘बेहतर सेवा’ शब्द का इस्तेमाल पर्याप्त नहीं है. ये पूछने पर कि इस मुद्दे पर निष्कर्ष तक पहुंचने में ट्राई को कितना समय लगेगा, सूत्र ने कहा कि इस संबंध में दो दूरसंचार कंपनियों ने कुछ और समय मांगा था.
सूत्र ने कहा कि ट्राई जवाब मिलने के दो सप्ताह में ‘प्रायोरिटी प्लान’ पर फैसला सुना देगा. गौरतलब है कि एयरटेल और वोडाफोन आइडिया ने मासिक आधार पर एक निश्चित राशि खर्च करने वाले ग्राहकों को प्रीमियम श्रेणी में रखने की घोषणा की थी.

(ये भी पढ़ें- फोन के इस सीक्रेट फोल्डर में सेव रहते हैं दोस्तों के WhatsApp Status, कर सकते हैं डाउनलोड)

कंपनियों ने अपने ऐसे ग्राहकों को 4जी नेटवर्क पर वरीयता देने, इंटरनेट की तेज स्पीड उपलब्ध कराने समेत कई अन्य लाभ की पेशकश की थी. ट्राई ने इस पर आपत्ति जताते हुए कंपनियों से पहले चरण में जवाब तलब किया था, जिस पर पिछले महीने कंपनियों ने अपने जवाब ट्राई को सौंपे. अब ट्राई ने दोनों कंपनियों से नए प्रश्न पूछे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज