लाइव टीवी

Episode 1: 'Amazon SMBhav' युवाओं के सपनों को सच करने की एक पहल

News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 10:51 AM IST
Episode 1: 'Amazon SMBhav' युवाओं के सपनों को सच करने की एक पहल
अमेजॉन संभव- युवा उद्यमियों के लिए एक नई पहल.

SMEs ने दिग्गज उद्योगपतियों, नीति निर्माताओं, एवं विशेषज्ञों को अपने समक्ष देखा और सुना. ऐसे लोगों से मिलकर जो भी नया रोजगार शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं उन्हें प्रेरणा मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 10:51 AM IST
  • Share this:
भारत को पांच बिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने, युवाओं के सपने पूरे करने और लघु एवं मध्यम उद्योगों को भागीदार बनाने के लिए , Amazon ने  राजधानी  दिल्ली के जवाहर लाल स्टेडियम में संभव नामक अभियान की  मेज़बानी की.

इस दो दिवसीय सम्मेलन में Amazon ने लगभग 3600 SMEs की मेज़बानी की. जैसा की आपने News18 India के अंक में देखा होगा. इस कार्यक्रम में छोटे और मध्यम उद्योगों के अलावा सूक्ष्म उद्यमियों (SMEs) को भी इन गतिविधियों में शामिल होने का अवसर मिला.   SMEs  ने दिग्गज उद्योगपतियों, नीति निर्माताओं, एवं विशेषज्ञों को अपने  समक्ष देखा  और सुना. ऐसे लोगों से मिलकर जो भी नया रोजगार शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं उन्हें प्रेरणा मिलेगी. इसके साथ ही सभी ने ये भी  जाना की Amazon के वैश्विक अनुभव की मदद से कैसे  ई -कॉमर्स के क्षेत्र में आने वाली विषमताओं का सामना किया जा सकता है और नए रुखों के साथ  कदम से कदम मिला कर आगे बढ़ा जा सकता है. इस दौरान logistics, भुगतान, डिजिटिकरण, अंतर्राष्ट्रीय  ट्रेड एवं वेब सेवाओं  जैसे  विषयों पर भी चर्चा हुई.





News18 india ने जानकारी दी की पचास से भी अधिक वक्ता अपने अनुभव से  SMEs को लाभान्वित करने संभव में आये और इनमे सबसे बड़ा नाम था Amazon के Founder and CEO, Jeff Bezos का.



संभव के दौरान उद्यमियों को जानकारी दी गयी की किस तरह तकनीक की मदद से उद्योगों को और निखारा जा सकता है और इंटरनेट उपभोक्ताओं को अपने साथ जोड़ा जा सकता है. उन्हें समझाया गया की किस तरह से  नए और सफल तकनीकी प्रयोग, नागदरहित या cashless payment की सुविधा   और  उपभोगताओं द्वारा दिए गए अच्छे review किसी भी  उद्योग को छोटे से बड़ा बना सकते है. इस बात पे भी प्रकाश  डाला गया की आने वाले समय में  छोटे शहरों के उपभोक्ता अपनी ही  भाषा के माध्यम से online खरीदारी करना पसंद करेंगे तो इस दिशा में काम करना भी ज़रूरी है.



संभव के दौरान महिला उद्यमियों की  उन्नति और विकास पर भी बात चीत हुई.  कुछ मानी महिला वक्ताओं ने महिला उद्यमियों के सामने आने वाली परेशानियों पर चर्चा की। इस बात चीत से यह ज़ाहिर हुआ की मौका मिलने पर महिलाओं की सूझ बूझ , उनका सहज बोध किसी भी उद्योग को सफल बनाने में बहुत काम आ सकता है. News18 India  के ज़रिये  यह भी साफ़ हुआ की Amazon सहेली जैसे  माध्यम से महिलाओं को इ-कॉमर्स से जुड़ने में बहुत मदद मिल रही है. सबसे बड़ा निष्कर्ष यह निकल के आया की महिलाओं को कुछ नया करने के लिए इंतज़ार नहीं करना चाहिए, निरंतर सीखने का सिलसिला जारी रखना चाहिए और  बड़े सपने देखने और अपना हक़ मांगने  से डरना नहीं चाहिए।  यह भी कहा गया की अगर महिलाओं को आर्थिक, शैक्षिक, पारिवारिक, प्रणालीगत और सामाजिक सहयोग मिले तो शायद उनके सामने आने वाली विषमताओं पर चर्चा करने की ज़रुरत ही न पड़े.

(पार्टनर्ड कंटेंट)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 4:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading