चीन की स्मार्टफोन बनाने वाली इस बड़ी कंपनी की वजह से टेंशन में हैं ट्रंप, ये है मामला

ट्रंप ने कहा है कि कोई भी अमेरिकी कंपनी बिना सरकारी मंजूरी के हुवावे के साथ कोई डील नहीं करेगी. अमेरिकी प्रतिबंध से हुवावे के 5G टेक्नोलॉजी का कारोबार प्रभावित होगा.

News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 5:33 PM IST
चीन की स्मार्टफोन बनाने वाली इस बड़ी कंपनी की वजह से टेंशन में हैं ट्रंप, ये है मामला
ट्रंप ने कहा है कि कोई भी अमेरिकी कंपनी बिना सरकारी मंजूरी के हुवावे के साथ कोई डील नहीं करेगी. अमेरिकी प्रतिबंध से हुवावे के 5G टेक्नोलॉजी का कारोबार प्रभावित होगा.
News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 5:33 PM IST
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टेंशन बढ़ सकती है. चीन की दिग्गज टेलीकॉम कंपनी Huawei के फाउंडर और CEO रेन जेंगफेई ने ऐसे संकेत दिए हैं कि अमेरिका की तमाम कोशिशों के बावजूद यूरोप हुवावे को बैन नहीं करेगा. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने नेशनल इमरजेंसी घोषित करते हुए हुवावे के साथ किसी अमेरिकी कंपनी के कारोबार करने पर रोक लगा दी है. ट्रंप ने कहा है कि कोई भी अमेरिकी कंपनी बिना सरकारी मंजूरी के हुवावे के साथ कोई डील नहीं करेगी. अमेरिकी प्रतिबंध से हुवावे के 5G टेक्नोलॉजी का कारोबार प्रभावित होगा.

ट्रंप के इस फैसले के बाद गूगल, क्वालकम और इंटेल जैसी कंपनियों ने भी हुवावे के साथ अपने कारोबारी रिश्ते खत्म कर लिए हैं. अमेरिका चाहता है कि यूरोपीय देश भी हुवावे पर प्रतिबंध लगा दें. हालांकि जेंगफेई ने साफ संकेत दे दिए हैं कि यूरोपीय देश अमेरिका के रास्ते पर नहीं चलेंगे. कंपनी के CEO ने कहा, ''मुझे 10 डाउनिंग स्ट्रीट पर दोपहर की चाय पीने की आदत है. वे मुझसे पूछते हैं कि मैं कैसे पूरी दुनिया के साथ चल पाता हूं तो मेरा जवाब होता है यह दोपहर की चाय का असर है.''



ये भी पढ़ें- आपका Gmail किसी और के फोन में तो नहीं है Login, वीडियो में देखे कैसे करें पता

जेंगफेई ने आगे कहा, ''हम अलग-अलग देशों के नेताओं से बात कर रहे हैं. उन्होंने मुझे डाउनिंग स्ट्रीट पर दोपहर की चाय के लिए बुलाया है. हर देश का अपना फायदा है. मेरे खिलाफ अमेरिका का कैंपेन इतना पावरफुल नहीं है कि सब उनकी बात मान जाएं.''

ये भी पढ़ें- 

JIO यूज़र्स के लिए खास सर्विस, ऐसे पता करें दिनभर किससे कितनी की बात
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...