एप्पल ने चीन की गेमिंग इंडस्ट्री पर की बड़ी कार्रवाई, iOS स्टोर से हटाए 30 हजार ऐप्स

एप्पल ने चीन की गेमिंग इंडस्ट्री पर की बड़ी कार्रवाई, iOS स्टोर से हटाए 30 हजार ऐप्स
एप्पल ने चीनी स्टोर से 30 हजार से ज्यादा ऐप्स हटा लिए हैं.

चीन के मोबाइल गेमिंग इंडस्ट्री (Gaming Industry in China) को स्मार्टफोन निर्माता कंपनी एप्पल (Apple Inc.) से बड़ा झटका ​लगा है. शनिवार को एक रिसर्च फर्म ने कहा है कि एप्पल ने अपने चीनी स्टोर से करीब 30 हजार ऐप्स हटा लिए हैं. इन ऐप्स को चीनी सरकार से लाइसेंस लेना अनिवार्य है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 6:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एप्पल (Apple Inc.) ने शनिवार को चाइनीज ऐप स्टोर (iOS Store in China) से करीब 29,800 से ज्यादा ऐप्स को हटा दिया है, जिसमें से 26 हजार से ज्यादा ऐप्स गेमिंग के हैं. चीन की एक रिसर्च फर्म Qimai ने अपनी एक रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी दी है. एप्पल ने यह कार्रवाई चीनी अथॉरिटी द्वारा बिना लाइसेंस प्राप्त किए गए ऐप्स को लेकर किया है. हालांकि, इस मामले पर अभी तक एप्पल की तरफ से कोई जानकारी नहीं आई है. इसी साल फरवरी में एप्पल ने पब्लिशर्स को जून तक की डेडलाइन दी थी कि वो स्थानीय सरकार से जारी लाइसेंस नंबर के बारे में जानकारी दें ताकि यूजर्स को मेक इन-ऐप खरीदारी (In-App Purchase) की सुविधा मिल सके. चीन के एन्ड्रॉयड ऐप स्टोर (Android App Store) बहुत पहले से ही इन रेग्युलेशन का पालन करता है. हालांकि, अभी तक यह साफ नहीं हो सका कि आखिर क्यों इस साल ही एप्पल इस अनुपालन के लिए सख्त हुआ है.

पिछले महीने भी हटाए गए थे ढाई हजार ऐप्स
जुलाई के पहले सप्ताह में इस स्मार्टफोन निर्माता कंपनी ने 2,500 से ज्यादा टाइटल्स को अपने ऐप स्टोर से ह​टा लिया था. इन ऐप्स की लिस्ट में Zynga और Supercell जैसे डेवलपर्स के गेमिंग ऐप्स भी शामिल थे. इस दौरान रिसर्च फर्म सेंसर टावर ने अपनी एक रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी दी थी.


यह भी पढ़ें: Samsung के UV Sterilizer डिवाइस से मोबाइल, चश्मे समेत एक्सेसरीज होगी सैनिटाइज



गेमिंग इंडस्ट्री को लेकर सख्त चीनी सरकार
चीन की सरकार एक लंबे समय से अपने यहां गेमिंग इंडस्ट्रीज (Gaming Industry in China) पर सख्त नियामों को लागू करने पर जोर देती रही है ताकि सेंसिटिव जानकारी व कॉन्टेन्ट पर लगाम लगाई जा सके. जो ​गेमिंग ऐप्स इन-ऐप की खरीदारी की सुविधा देते हैं, उनकी अप्रुवल प्रोसेस बेहद जटिल है. यही कारण है कि चीन के गेमिंग ऐप डेवलपर्स के लिए समस्या खड़ी हो गई है. बता दें कि चीन में दुनिया की सबसे बड़े गेम डेवलपर्स की इंडस्ट्री मौजूद हैं.

छोटे और मध्यम स्तर के डेवलपर्स के लिए समस्या
एप्पल चाइना के मार्केटिंग मैनेजर के हवाले से एक मीडिया रिपोर्ट में लिखा गया है कि इस कार्रवाई से छोटे और मध्यम स्तर के डेवलपर्स पर सबसे ज्यादा असर पड़ेगा. उनकी कमाई कम होगी. लेकिन अब बिजनेस लाइसेंस प्राप्त करने की जटिलताओं से चीन में iOS गेम इंडस्ट्री को भी नुकसान हो रहा है.

यह भी पढ़ें: खतरे में आपका स्मार्टफोन! हो सकती है बैंक खाते से चोरी, एजेंसी की चेतावनी

ऐप्पल ने दी थी 30 जून तक की डेडलाइन
Qimai की रिपोर्ट के अनुसार, फरवरी 2020 में एप्पल ने अपने ऐप स्टोर के बैक स्टेज रिव्यू पेज पर एक मैसेज अपडेट किया था. इस मैसे​ज में बताया गया था कि चीन के कानून के तहत इन ऐप्स को 'जनरल ए​डमिनिस्ट्रेशन ऑफ प्रेस एंड पब्लिशिंग हाउस' से लाइसेंस प्राप्त करना अनिवार्य है. इसी को ध्यान में रखते हुए आप 30 जून 2020 तक इस लाइसेंस को उपलब्ध कराएं. मेनलैंड चाइना में मौजूदा सभी ऐप्स का अप्रुवल नंबर अनिवार्य है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading