Apple जल्द ला सकता है अपना खुद का ‘Search Engine’, गूगल को देगा टक्कर

Apple जल्द ला सकता है अपना खुद का ‘Search Engine’, गूगल को देगा टक्कर
ऐपल अपने सर्च इंजन पर काम कर रही है.

रिपोर्ट के मुताबिक ऐपल अपने सर्च इंजन (apple search engine) पर काम कर रही है और जल्द अपना खुद का सर्च इंजन लॉन्च कर सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 29, 2020, 12:56 PM IST
  • Share this:
गूगल (Google) को टक्कर देने के लिए अमेरिकी टेक दिग्गज कंपनी ऐपल (Apple) जल्द खुद का सर्च इंजन लॉन्च कर सकती है. रिपोर्ट के मुताबिक ऐपल अपने सर्च इंजन (apple search engine) पर काम कर रही है और अपना खुद का सर्च इंजन लॉन्च कर सकती है. इस रिपोर्ट के मुताबिक ऐपल अपने स्पॉटलाइट सर्च इंजन के लिए इंजीनियर्स नियुक्त कर रहा है. स्पॉटालाइट मैक ओएस में दिया गया एक महत्वपूर्ण सर्च फीचर है, जहां से यूज़र अपने मैकबुक से लेकर वेब के कॉन्टेंट सर्च कर सकते हैं.

टेक वेबसाइट Coywolf की एक रिपोर्ट में कुछ प्वॉइंट्स बताए गए हैं जिससे इस रिपोर्ट से हिंट मिल रहा है कि कंपनी अपना सर्च इंजन ला सकती है और उसने इस पर काम करना शुरू कर दिया है.

ऐपल के सर्च इंजन के लिए निकाली गई नौकरियों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI), मशीन लर्निंग (ML) और नैचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिसंग (NLP) का उल्लेख भी किया गया है, जिस हिसाब से ऐपल ने इन नौकरियों का उल्लेख किया है जिससे लगता है कंपनी अपने सर्च इंजन में इन सभी को नियुक्त करने के मूड में हैं, इससे ऐसे संकेत मिलते हैं.



(ये भी पढ़ें- Airtel Plan! एक बार रिचार्ज कराने पर पूरा साल चलेगा ये प्लान, मिलेगी फ्री कॉलिंग और कई फायदे)
बता दें कि गूगल ऐपल को हर साल आईफोन, आईपैड और मैक ओएस में डिफॉल्ट सर्च इंजन गूगल को रखने के लिए करोड़ों रुपये देती है. रिपोर्ट के मुताबिक ये डील जल्दी ही खत्म हो सकती है. CoyWolf की रिपोर्ट के अनुसार यूके कंपटीशन एंड मार्केट अथॉरिटी ऐपल और गूगल के सर्च इंजन की इस डील को लेकर कड़ा रूख अपना सकती है.

यूके कंपटीशन एंड मार्केट अथॉरिटी की रिपोर्ट में कहा गया था कि ऐपल का मार्केट शेयर दुनिया भर में काफी अधिक है, ऐसे में अथॉरिटी का मानना है कि चूंकि गूगल सर्च डिफॉल्ट होने की वजह से दूसरे सर्च इंजन को मोबाइल फोन में आने का अवसर ही नहीं मिलता है.

(ये भी पढ़ें-  WhatsApp पर आ रहा है शानदार फीचर! अलग-अलग कलर की हो जाएगी हर Chat!)

इन सब के चलते ऐपल एक स्वतंत्र सर्च इंजन पर काम कर रहा है. ऐपल द्वारा इसे गूगल के विकल्प के तौर पर पहले अपने डिवाइस में लगाया जा सकता है और बाद में पब्लिक के लिए लॉन्च किया जा सकता है ऐसी उम्मीद की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज