iPad का प्रोडक्शन भी भारत में करेगा Apple, पीएलआई स्कीम के लिए कर रही लॉबिंग

एप्पल भारत में आईपैड बनाने के लिए सरकार से इंसेंटिव की मांग कर रही है.

दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी एप्पल (Apple Inc) अब आईपैड (iPad) की मैन्युफैक्चरिंग भी भारत में करना चाहती है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. अमेरिकी टेक कंपनी एप्पल (Apple) भारत में फिलहाल आईफोन का प्रोडक्शन कर रही है. कंपनी अब आईपैड (iPad) की मैन्युफैक्चरिंग भी भारत में करना चाहती है. भारत में आईपैड के प्रोडक्शन के लिए कंपनी को भारत सरकार की प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव यानी पीएलआई स्कीम (Production Linked Incentive) में हिस्सा मिल सके, इसके लिए कंपनी लॉबिंग कर रही है.

    20 हजार करोड़ रुपये के इंसेंटिव के लिए लॉबिंग
    रायटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, एप्पल भारत में दूसरी कंपनियों के साथ 20 हजार करोड़ रुपये के इंसेंटिव के लिए लॉबिंग कर रही है. हालांकि, इस मामले में कंपनी की तरफ से अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. एप्पल ने यह पहल ऐसे समय में की है जब उसकी सप्लायर ताइवानी कंपनी विस्ट्रॉन दोबारा भारत में अपनी फैक्ट्री को शुरू कर रही है. हालांकि एप्पल ने विस्ट्रॉन के ऊपर से प्रोवेशन अभी नहीं हटाया है.

    ये भी पढ़ें- Paytm Money ने शुरू की फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस में ट्रेडिंग, हर ऑर्डर पर 10 रुपये ब्रोकरेज चार्ज

    साल 2020 में सरकार ने लॉन्च किया था पीएलआई स्कीम
    बता दें कि देश में स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने पिछले साल 6.7 बिलियन डॉलर का पीएलआई स्कीम लॉन्च किया था. एप्पल ने इस योजना में अपने कॉन्ट्रैक्टर्स के माध्यम से भाग लिया था.

    एक और इंसेंटिव की घोषणा कर सकती है सरकार
    रिपोर्ट के मुताबिक, अब केंद्र सरकार देश में टैबलेट, लैपटॉप और सर्वर के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए एक और इंसेंटिव स्कीम की घोषणा करने जा रही है, जिसका बजट 7 हजार करोड़ रुपये हो सकता है. सूत्रों ने बताया कि केंद्र सरकार फरवरी के अंत तक इस स्कीम की घोषणा कर सकती है. इस वजह से एप्पल भारत में आईपैड बनाने के लिए सरकार से इंसेंटिव की मांग कर रही है. इसके अलावा केंद्र सरकार अगले दो महीने में 5 साल के लिए 5000 करोड़ रुपये के इंसेटिव का ऐलान वियरेबल डिवाइस जैसे स्मार्टवॉच आदि के प्रोडक्शन को बढ़ावा देने के लिए कर सकती है.

    ये भी पढ़ें- Paytm यूजर्स को झटका! अब क्रेडिट कार्ड से वॉलेट में पैसे ऐड करना हुआ और महंगा

    मेड इन इंडिया के आईपैड और मैकबुक
    भारत में एप्पल इस साल की शुरुआत में ही अपने आईपैड और मैकबुक का प्रोडक्शन कराना चाहती थी, लेकिन भारत ने चीनी कंपनियों को प्रवेश बैन किया हुआ है. इस वजह से एप्पल की योजना में देरी हुई है. सूत्रों के मुताबिक, केंद्र सरकार ने एप्पल से किसी नॉन-चाइनीज कंपनी से आईपैड और मैकबुक एसेंबल कराने को कहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.