• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • WeChat, Shareit समेत कई चीनी ऐप्स पर डोनाल्ड ट्रंप ने लगाया बैन, बताई ये वजह

WeChat, Shareit समेत कई चीनी ऐप्स पर डोनाल्ड ट्रंप ने लगाया बैन, बताई ये वजह

File Photo.

File Photo.

ट्रंप का कहना है कि चीनी ऐप यूज़र की जानकारी बीजिंग की सरकार तक पहुंचा सकते हैं, यही वजह है कि इनपर बैन लगाया जा रहा है...

  • Share this:
    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने चीन (China) को झटका देते हुए Wechat, Alipay समेत कई चीनी ऐप्स पर बैन लगा दिया है. ट्रंप ने कहा है कि ये ऐप यूज़र की जानकारी बीजिंग की सरकार तक पहुंचा सकते हैं, यही वजह है कि इनपर बैन लगाया जा रहा है. ये कार्यकारी आदेश 45 दिन के भीतर लागू होगा. यानी ट्रंप की जगह पर व्हाइट हाउस में जो बाइडेन की ताजपोशी के कुछ हफ्ते बाद लागू होगा.जानकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव में हार के बाद से अब तक डोनाल्ड ट्रंप चीन के खिलाफ कई कदम उठा चुके हैं.

    ट्रंप प्रशासन के अधिकारी के मुताबिक इन ऐप पर बैन इसलिए लगाया गया है क्योंकि इन्हें डाउनलोड करने वालों की संख्या बहुत ज्यादा है, जिसका मतलब है कि लाखों-करोड़ों लोगों की निजी जानकारी के लीक होने का खतरा है. अधिकारी के मुताबिक, ऐप बैन करने का मकसद चीन के डेटा हड़पने वाली रणनीति पर रोक लगाना है.

    (ये भी पढ़ें- पहले से और भी सस्ते में मिल रहा है Realme का ये बजट स्मार्टफोन, मिलेगी 5000mAh की बैटरी)

    फिलहाल जिन ऐप पर रोक लगाने के आदेश दिए गए हैं उनमें अलीपे,(Alipay) कैमस्कैनर,(Camscanner) क्यू क्यू वॉलेट,( QQ Wallet) शेयर इट, (Shareit) टेंसेंट क्यू क्यू, (Tencent)  QQवीमेट, वी चैट (Wechat) पे (Pay) और डब्ल्यूपीएस ऑफिस (WPS Office) शामिल हैं. ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इस आदेश और इसे लागू करने को लेकर फिलहाल बाइडेन के प्रशासन से चर्चा नहीं की गई है.

    TikTok बैन करने का दे चुके हैं आदेश
    इससे पहले ट्रंप ने टिक-टॉक को भी बैन करने का आदेश दिया था, जो कि चीन की ByteDance कंपनी की ऐप है. हालांकि, कोर्ट ने अपने फैसले से इस आदेश को पलट दिया था. कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि ट्रंप ने इस ऑर्डर को पास करने में अपने कानूनी अधिकार का उल्लंघन किया था.

    (ये भी पढ़ें-  BSNL ने नए साल पर दी ग्राहकों को खुशखबरी! इन दो प्लान में मिल रहा है 85 जीबी तक डेटा) 

    भारत में बैन हो चुकी हैं 
    भारत सरकार ने 29 जून 2020 को पहली डिजिटल स्ट्राइक करते हुए 59 ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया था. उसके बाद क्रमशः 47, 118 और 43 ऐप्स पर बैन लगाए गए. सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69ए के तहत सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन सभी ऐप्स पर बैन लगाया. ऐसे में भारत में साल 2020 में कुल 267 ऐप्स पर प्रतिबंध लगा चुका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज