Home /News /tech /

phonepe leads upi with 49 percentage market share in india pbls dnsh

Online Payment: ऑनलाइन पेमेंट के लिए कौन-सा ऐप बेहतर, कितनी है Phone Pay की हिस्सेदारी

फोन-पे ऑनलाइन पेमेंट के मामले में सबसे आगे चल रहा है.

फोन-पे ऑनलाइन पेमेंट के मामले में सबसे आगे चल रहा है.

ऑनलाइन ट्रांजैक्शन या पेमेंट करने के लिए भारत में सबसे ज्यादा फोन पे का इस्तेमाल हो रहा है. एक थर्ड पार्टी ऐप के तौर पर UPI ट्रांजैक्शन के मामले में फोनपे की सबसे बड़ी हिस्सेदारी है.

हाइलाइट्स

भारत में UPI पेमेंट के मामले में अकेले phone pay की है 49% हिस्सेदारी है.
phone pay के सितंबर 2021 में 165 करोड़ से ज्यादा UPI ट्रांजैक्शन हुए थे.
ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए और भी कई ऐप हैं जैसे गुगल पे, यूपीआई भीम, मोबिक्विक.

नई दिल्‍ली. देश में डिजिटल तकनीक की वजह से काफी कुछ आसान हो गया है. बात मनी ट्रांजैक्शन की करें या पेमेंट की, नोटबंदी के बाद से अब तक 6 सालों में बहुत बदलाव आया है. शहर कैशलेस हो रहे हैं, जिसकी वजह स्मार्टफोन में यूपीआई आधारित सेवाएं, फोन-पे, गूगल-पे और पेटीएम जैसे ऐप्स हैं. गौरतलब है कि फोन-पे तकरीबन 2 साल पहले गूगल-पे को पछाड़कर टॉप पर पहुंचा था, अब इसके 100 करोड़ से भी ज्‍यादा ट्रांजैक्‍शन होते हैं.

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) के आंकड़ों के अनुसार, यूनीफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) ऐप के मामले में फोनपे (PhonePe) ने सभी पेमेंट ऐप्‍स को बहुत पीछे छोड़ दिया है. देश में ज्यादातर लोग बैंक ऐप या कार्ड पर लेनदेन करने की बजाय एक-दूसरे व्‍यक्ति और व्यापारियों को पेमेंट करने के लिए इस ऐप का खूब इस्तेमाल कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: WhatsApp पर पहले से और कड़ी होगी सिक्योरिटी, आपके अकाउंट को हैकिंग से बचाएगा नया फीचर

फोनपे का सबसे ज्यादा मार्केट शेयर
थर्ड पार्टी के तौर पर ऐप में UPI ट्रांजैक्शन के मामले में सबसे बड़ी हिस्सेदारी फोनपे की ही है. इस कंपनी के प्लेटफॉर्म पर सितंबर 2021 में 165 करोड़ से ज्यादा UPI ट्रांजैक्शन हुए थे. हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, अब अकेले फोन-पे की 49% हिस्सेदारी है.

एक और खास बात यह है कि फोनपे को लाइफ इंश्योरेंस और जनरल इंश्योरेंस प्रोडक्ट को बेचने के लिए इंश्योरेंस रेगुलेटर (IRDAI) से अप्रूवल भी मिल चुका है. वैसे सभी डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म बिल पेमेंट्स को लेकर चार्ज वसूल रहे हैं. वहीं, फोन पे यूजर्स को प्रति ट्रांजैक्शन 50 रुपए से 100 रुपए के रिचार्ज पर 1 रुपए और 100 रुपए से ज्यादा के रिचार्ज पर 2 रुपए देने पड़ेंगे.

यह भी पढ़ें: 15 हज़ार रुपये से भी कम कीमत में मिल रहे हैं ये 5 धांसू Smart TV, लिस्ट में OnePlus, रियलमी भी

फोनपे के अलावा आप इन ऐप्‍स को इस्तेमाल कर सकते हैं-
– गूगल पे
– पेटीएम
– मोबिक्विक
– अमेजन
– जियो मनी

Tags: Tech news, Tech news hindi, Tech News in hindi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर