• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • APPS SNAPDEAL LAUNCHES APP TO CONNECT COVID PATIENTS WITH POTENTIAL PLASMA DONORS TECH NEWS AMDM

प्लाज्मा डोनर के लिए नहीं पड़ेगा भटकना! Snapdeal ने लॉन्च किया खास ऐप, जानिए कैसे करेगा मदद

रजिस्ट्रेशन के बाद स्नैपडील का सर्च इंजन डोनर की जानकारी दे देगा

स्नैपडील (Snapdeal) ने कहा कि उसने अपना ईजी टू यूज संजीवनी नाम का प्लेटफॉर्म ल़़ॉन्च किया है. देश भर में इसकी पहुंच काफी ज्यादा है. इसके जरिए छोटे शहरों , कस्बों के लोग भी फायदा उठा सकेंगे.

  • Share this:

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों को इस वक्त जितनी जरूरत ऑक्सीजन (Oxygen) की पड़ रही है, उतनी ही प्लाज्मा डोनर्स (Plasma Donors) की. यही वजह है कि सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफॉर्म पर प्लाज्मा डोनर की जरूरत के पोस्ट अब आम हो गए हैं. लोग वॉट्सऐप (WhatsApp) के जरिए भी डोनर्स ढूढ़ते रहते हैं. एक ग्रुप से दूसरे ग्रुप में बड़ी संख्या में हर दिन कई मैसेजस आते हैं. इसी दिक्कत को दूर करते हुए ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट स्नैपडील (Snapdeal) ने एक ऐसा ऐप लॉन्च किया है जो प्लाज्मा डोनर्स और जरूरमंदों के बीच कड़ी का काम करेगा. हालांकि स्नैपडील ने यह ऐप पहले लॉन्च किया था, जिसे संजीवनी (Sanjeevani) नाम दिया गया है पर पूर्व में यह सिर्फ उनके कर्मचारियों तक सीमित था, जिसे अब आम जनता के लिए भी ओपन कर दिया गया है. इसके बाद कोविड मरीज आसानी से अपने लिए प्लाजमा डोनर्स इस ऐप की मदद से तलाश सकेंगे.  


    ऐसे कर सकेंगे इस्तेमाल
    स्नैपडील ने कहा कि उसने अपना ईजी टू यूज संजीवनी नाम का प्लेटफॉर्म ल़़ॉन्च किया है. देश भर में इसकी पहुंच काफी ज्यादा है. इसके जरिए छोटे शहरों , कस्बों के लोग भी फायदा उठा सकेंगे. इस टूल को वेबसाइट और मोबाइल दोनों के जरिए उपयोग में लाया जा सकेगा. इस प्लेटफ़ॉर्म पर पेसेंट और डोनर अपने मोबाइल नंबर/ईमेल आईडी के जरिए रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे. उनको अपना ब्लड ग्रुप, लोकेशन, अपने कोरोना टेस्ट रिपार्ट के परिणाम और उनका टेस्ट कब हुआ जैसी जानकारियां भी भरनी होगी. रजिस्ट्रेशन के बाद स्नैपडील का सर्च इंजन उपयुक्त मैच की खोज करेगा  और पेसेंट और संभावित प्लाज्मा डोनर के बीच संपर्क स्थापित कराएगा.


    ये भी पढ़ें - जानिए Lockdown के चलते FPIs ने अप्रैल में किन 10 सेक्टरों से निकाले पैसे, अब कहां कर रहे हैं निवेश


    कई कंपनियां कर रही है काम
    बता दें कि फेसबुक, गूगल और हेल्थीफाईमी (HealthifyMe) जैसी कंपनियों और स्टार्टअप ने पिछले कुछ हफ्तों के दौरान कोविड-19 वैक्सीनेशन में सहायता के लिए कई टूल  लॉन्च किए हैं. देश में टेक सैवी लोगों की बढ़ती संख्या और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की बढ़ती पहुंच को देखते हुए देश में कई कंपनियां और डेवलपर्स कोरोना से निपटने के संसाधनों जैसे अस्पताल, बेड, ऑक्सीजन सिलेंडर आदि को सुगम रुप से उपलब्ध कराने के लिए अलग अलग टूल लॉन्च कर रहे हैं।