Home /News /tech /

धर्मेंद्र चतुर के इस्तीफे के बाद कैलिफोर्निया के जेरेमी केसल बने Twitter के नए ग्रीवांस ऑफिसर

धर्मेंद्र चतुर के इस्तीफे के बाद कैलिफोर्निया के जेरेमी केसल बने Twitter के नए ग्रीवांस ऑफिसर

नियमों का पालन नहीं करने को लेकर ट्टिटर को लग चुकी है फटकार

नियमों का पालन नहीं करने को लेकर ट्टिटर को लग चुकी है फटकार

रविवार को ट्विटर इंडिया ने अपनी वेबसाइट से धर्मेंद्र चतुर का नाम अचानक से हटा दिया था. जबकि भारत के नए सूचना प्रौद्योगिकी नियम, 2021 (New Information Technology Rules, 2021) के तहत ऐसा करना जरूरी है. नए IT कानून के मुताबिक भारत में आईटी कंपनियों को ग्रीवांस ऑफिसर की नियुक्ति करना अनिवार्य है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. केंद्र सरकार के साथ जारी टकराव के बीच धर्मेंद्र चतुर के इस्तीफा देने के एक दिन बाद अब ट्विटर (Twitter) ने अपने ग्लोबल लीगल पॉलिसी के डायरेक्टर कैलिफोर्निया निवासी जेरेमी केसल (Jeremy Kessel) को भारत में नया ग्रीवांस ऑफिसर (Grievance Officer) के तौर पर नियुक्त किया है.  कुछ हफ्ते पहले ही ट्विटर ने धर्मेंद्र चतुर (Dharmendra Chatur) को अंतरिम ग्रीवांस ऑफिसर नियुक्त किया था, लेकिन उन्होंने रविवार को इस्तीफा दे दिया.  जेरेमी केसल फिलहाल ट्विटर के ग्लोबल लीगल पॉलिसी के डायरेक्टर हैं. रविवार को ट्विटर इंडिया ने अपनी वेबसाइट से धर्मेंद्र चतुर का नाम अचानक से हटा दिया था. जबकि भारत के नए सूचना प्रौद्योगिकी नियम, 2021 (New Information Technology Rules, 2021) के तहत ऐसा करना जरूरी है. नए IT कानून के मुताबिक भारत में आईटी कंपनियों को ग्रीवांस ऑफिसर की नियुक्ति करना अनिवार्य है.

    कुछ समय से चल रहा है विवाद
    ट्विटर इंडिया ने यह नियुक्ति ऐसे समय की है जब नए आईटी नियमों को लेकर ट्विटर और भारत सरकार के बीच पिछले कुछ समय से विवाद चल रहा है. नए नियमों को पालन नहीं किए जाने को लकर केंद्र सरकार दिग्गज अमेरिकी सोशल मीडिया कंपनी को फटकार भी लगा चुकी है. माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म नए सोशल मीडिया नियमों को लेकर भारत सरकार के साथ संघर्ष कर रहा है.

    ये भी पढ़ें - FM सीतारमण ने छोटे कर्जदारों के लिए किया ₹7500 करोड़ की लोन गारंटी का ऐलान, 25 लाख लोगों को होगा सीधा फायदा

    बाहरी की नियुक्ति स्वीकार नहीं
    Twitter ने 31 मई को दिल्ली हाई कोर्ट को बताया था कि वह इस भूमिका के लिए अंतरिम ग्रीवांस ऑफिसर के रूप में ट्विटर का प्रतिनिधित्व करने वाली एक कानूनी फर्म में भागीदार धर्मेंद्र चतुर को नियुक्त कर रहा है. लेकिन केंद्र ने कहा कि वह वैधानिक पदों पर बाहरी लोगों की नियुक्ति को स्वीकार नहीं कर सकता. इस विवाद के बीच चतुर ने रविवार को इस्तीफा दे दिया.

    ये भी पढ़ें- FM निर्मला सीतारमण ने दी बड़ी राहत! टूरिस्ट गाइड्स को 1 लाख रुपये लोन तो पहले 5 लाख टूरिस्ट को मिलेगा फ्री वीजा

    25 मई से लागू हुए है नए आईटी नियम
    25 मई से लागू हुए नए आईटी नियम के अनुसार, 50 लाख से ज्यादा यूजर वाली सभी सोशल मीडिया कंपनियों को शिकायतों के निवारण के लिए ग्रीवांस ऑफिसर नियुक्त करना अनिवार्य है. साथ ही ऑफिसर का नाम और पता भी शेयर करना होगा। नियमों के मुताबिक सोशल मीडिया को चीफ कम्प्लायंस ऑफिसर, नोडल अधिकारी और रेजीडेंट ग्रीवांस ऑफिसर की नियुक्ति करनी है. इन सभी का निवास भारत में ही होना चाहिए.

    Tags: Twitter, Twitter Controversy

    अगली ख़बर