लाइव टीवी

जानिए दर्शक आजकल टीवी पर कौन से चैनल सबसे ज्यादा देख रहे है?

News18Hindi
Updated: March 21, 2020, 6:54 PM IST
जानिए दर्शक आजकल टीवी पर कौन से चैनल सबसे ज्यादा देख रहे है?
BARC के टाइटल ‘What India watched 2019’ की लेटेस्ट रिपोर्ट में बताया कि हर घर में हर दिन 5 घंटे 11 मिनट TV देखी गई है, साथ ही 222 मिलियन लोग प्राइम टाइम TV देख रहे हैं.

BARC के टाइटल ‘What India watched 2019’ की लेटेस्ट रिपोर्ट में बताया कि हर घर में हर दिन 5 घंटे 11 मिनट TV देखी गई है, साथ ही 222 मिलियन लोग प्राइम टाइम TV देख रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2020, 6:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस की वजह से लोग अब घरों में कैद हो गए है. इस वजह से अचानक टीवी देखने वालों की संख्या में तेजी से इजााफा हुआ है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, दुुनियाभर में इन दिनों डिजिटल और टीवी कंज्म्पशन बढ़ गया है. ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) के टाइटल ‘What India watched 2019’ की लेटेस्ट रिपोर्ट में बताया  कि हर घर में हर दिन 5 घंटे 11 मिनट TV देखा गया है, साथ ही 222 मिलियन लोग प्राइम टाइम TV देख रहे हैं.

Livemint पर छपी खबर के मुताबिक, औसतन एक दर्शक हर दिन 3 घंटा 42 मिनट TV देख रहा है.BARC इंडिया ने 44,000 घरों के 1,85,000 पैनल से सैंपल लिए हैं. रिपोर्ट के मुताबिक 80% TV कंटेंट को को-व्यूइंग के ज़रिए  देखा गया है.

लगभग 836 मिलियन व्यक्तियों की टीवी तक पहुंच है, जबकि मिडियम रिकॉर्ड करते समय हर हफ्ते 914 बिलियन देखने के मिनट दर्ज किए गए. जनरल एंटरटेनमेंट चैनल और फिल्मों के अकाउंट को देखने वाले तीन-चौथाई दर्शक हैं, जो कि कॉमेडी हाउसफुल 4 के साथ है. ये 2019 में टीवी पर सबसे ज्यादा देखी जाने वाली फिल्म प्रीमियर के रूप में उभरी है, जिसने 4.1 बिलियन व्यूइंग मिनट दर्ज किए हैं.

(ये भी पढ़ें- Jio का बेहद सस्ता रिचार्ज, महीने भर के लिए मिलेगी फ्री कॉलिंग और डेटा भी…)



अंग्रेजी भाषा के चैनलों में गिरावट
पिछले चार सालों में टीवी दर्शकों की संख्या में वृद्धि की वजह बाजारों में क्षेत्रीय भाषा की मजबूती हो सकती है, जो अन्य भाषा के लिए एक आत्मीयता से समर्थित है. 2016 में भारतीय भाषाएं 15% से बढ़कर 2019 में 23% हो गई हैं. अंग्रेजी भाषा के चैनलों में मुख्य रूप से गिरावट दर्ज की गई है. ऐसा इसलिए क्योंकि स्पोर्ट कवरेज अब हिंदी के अलावा क्षेत्रीय भाषाओं में भी मौजूद है, जो पहले सिर्फ अंग्रेजी में हुई थी.


खेल चैनल कैटेगरी (2018) में देखने के मिनटों में 17% की वृद्धि देखी गई. शैली ने 2019 में कुल टीवी दर्शकों की संख्या का 3.2% योगदान दिया, जो पिछले चार वर्षों में सबसे अधिक था. पिछले चार सालों में टीवी पर विज्ञापन मात्रा 21% तक बढ़ी है, जिसमें हिंदी 33% है. समाचार, GECs और मूवी चैनल अभी भी सभी विज्ञापनों के तीन-चौथाई हैं.

बच्चों के चैनल का इतना हिस्सा
बच्चे कुल टीवी बेस का 20% वास्तव में, सह-दर्शक दर्शकों का एक बड़ा हिस्सा बनाते हैं. हालांकि बच्चों की शैली की दर्शकों की संख्या कुल टीवी दर्शकों की संख्या का 6% है. दिलचस्प बात ये है कि, बच्चे GECs के लिए दर्शकों के 47% और फिल्म चैनलों के 24% हैं.

पिछले चार सालों में, टीवी पर विज्ञापन की 21% बढ़ोतरी हुई है. 2019 में, 11,525 विज्ञापनदाताओं ने 634 मापे गए चैनलों पर 76.8 मिलियन विज्ञापन चलाए जो पूरे भारत में 197 मिलियन घरों तक पहुंचे. प्रोडक्ट और सर्विसेज़ के बीच, FMCG समूहों ने 2019 में विज्ञापन अवधि का 54% हिस्सा लिया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गैजेट्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 21, 2020, 6:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर