होम /न्यूज /तकनीक /BharOS : भारत में बना मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम, केंद्रीय मंत्रियों ने की Live टेस्टिंग

BharOS : भारत में बना मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम, केंद्रीय मंत्रियों ने की Live टेस्टिंग

ऑपरेटिंग सिस्टम BharOS

ऑपरेटिंग सिस्टम BharOS

भारत अब स्वदेशी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम BharOS की मदद से Android और iOS को टक्कर देने जा रही है. IIT मद्रास की ओर से तैय ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

यह मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम IIT मद्रास से जुड़ी एजेंसी ने तैयार किया है.
केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इसको लेकर एक ट्वीट किया है.
फीचर्स के मामले में यह Android को सीधी टक्कर दे सकता है.

नई दिल्ली. भारत अब स्वदेशी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम BharOS की मदद से Android और iOS को टक्कर देने जा रही है. IIT मद्रास की ओर से तैयार किए गए इस मोबाइल OS को भारत सरकार से हरी झंडी मिल गई है. BharOS डेटा की निजता की दिशा में एक सफल कदम है. केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और अश्विनी वैष्णव ने आईआईटी, मद्रास द्वारा विकसित स्वदेशी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम ‘BharOS’ का मंगलवार को परीक्षण किया.

बता दें, यह मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम IIT मद्रास से जुड़ी एजेंसी ने तैयार किया है और इसे किसी भी ओरिजनल इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर (OEM) की ओर से मोबाइल डिवाइसेज का हिस्सा बनाया जा सकेगा.


केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इसको लेकर एक ट्वीट किया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि मेड इन इंडिया मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम, BharOS का सफल परीक्षण भारत में सशक्त, स्वदेशी, आत्मनिर्भर डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन को पूरा की दिशा में एक महत्वपूर्ण पहल.


इसके साथ ही अश्विनी वैष्णव ने BharOS की टीम को कुछ सुझाव भी दिए हैं. उन्होंने कहा कि इस सफर में काफी मुश्किलें आएंगी और दुनिया भर में कई लोग इन मुश्किलों को लेकर आएंगे.

ये भी पढ़ें: खरीदना चाह रहे हैं नया 5G स्मार्टफोन? इन बातों का रखें ध्यान, वर्ना पड़ेगा पछताना!

उन्होंने इस मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम पर भरोसा जताते हुए कहा कि इस ऑपरेटिंग सिस्टम को बहुत ही सावधानी और कठिन परिश्रम से सफल बनाने की दिशा में काम करना है. डिवेलपर्स की मानें तो इस OS की मदद से यूजर्स को बेहतर प्राइवेसी और सुरक्षा फोन इस्तेमाल करने के दौरान मिलेगी. फीचर्स के मामले में यह Android को सीधी टक्कर दे सकता है.

Tags: Android, Tech news, Tech News in hindi

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें