इस वजह से फट सकता है आपका मोबाइल फोन, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती

नकली मोबाइल चार्जर से स्मार्टफोन की बैटरी फट सकती है या मोबाइल में अचानक आग भी लग सकती है.

News18Hindi
Updated: December 8, 2018, 12:52 PM IST
इस वजह से फट सकता है आपका मोबाइल फोन, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: December 8, 2018, 12:52 PM IST
मार्केट में इन दिनों नकली मोबाइल चार्जर की भरमार है. नकली मोबाइल चार्जर स्मार्टफोन की बैटरी फटने या मोबाइल में अचानक से आग लगने की प्रमुख वजहों में से एक है. कई मामलों में नकली मोबाइल चार्जर की वजह से मोबाइल में धमाका हुआ और लोगों की जान तक चली गई है. अगर आप ओरिजनल चार्जर का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो इसका असर आपके मोबाइल की बैटरी के परफॉर्मेंस और इसकी ओवरऑल लाइफ पर पड़ता है. ऐसे में हमारी सलाह है कि आप अपने मोबाइल को चार्ज करने में नकली चार्जर का इस्तेमाल न करें. हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसे तरीके जिससे आप यह पहचान कर सकते हैं कि आपका मोबाइल चार्जर असली है या नकली.

सैमसंग का मोबाइल चार्जर
सैमसंग के असली और नकली मोबाइल चार्जर के बीच पहचान करना मुश्किल भरा होता है. आप चार्जर के ऊपर प्रिंट किए गए टेक्स्ट के आधार पर सैमसंग के असली चार्जर की पहचान कर सकते हैं. अगर चार्जर में दूसरी चीजों के साथ A+ और मेड इन चाइना लिखा है तो यह चार्जर नकली हो सकता है.

WhatsApp पर बिना नंबर सेव किए ऐसे भेजें किसी को भी Message

आईफोन का मोबाइल चार्जर
एप्पल के iPhone के नकली चार्जर बड़ी संख्या में बाजार में उपलब्ध हैं. असली और नकली चार्जर के बीच पहचान करना काफी मुश्किल होता है. iPhone के असली चार्जर में डिजाइन्ड बाय एप्पल इन कैलिफोर्निया (Designed by Apple in California) लिखा होता है. इसके अलावा, iPhone के नकली चार्जर में एप्पल के लोगो का कलर आमतौर पर ज्यादा डार्क होता है.

शियोमी का मोबाइल चार्जर
Loading...

शियोमी के नकली चार्जर की पहचान के लिए इसकी केबल (चार्जर की तार) की लंबाई को नापिए. अगर केबल की लंबाई 120 सेंटीमीटर से कम है और एडॉप्टर का साइज सामान्य से ज्यादा बड़ा है तो यह नकली चार्जर ही होगा.

अब नहीं मिलेगा Xiaomi का ये पॉपुलर स्मार्टफोन, चेक करें कहीं आपके पास भी तो नहीं

OnePlus का चार्जर
OnePlus के नकली डैश चार्जर की पहचान करना आसान होता है. अगर आप ओरिजनल डैश चार्जर को मोबाइल में लगाएंगे तो रेगुलर बैटरी चार्जिंग सिंबल के बजाय इसमें फ्लैश का सिंबल आ जाता है. वहीं, नकली डैश चार्जर में ऐसा नहीं होता है.

Google के पिक्सेल फोन का चार्जर
Google अपने पिक्सेल स्मार्टफोन के साथ फास्ट चार्जर देता है. अगर फोन की बैटरी चार्ज करने में ज्यादा वक्त लगे तो आपका चार्जर नकली हो सकता है.

VIDEO: आप पर नज़र रखता है YOUTUBE, बता देगा कितना टाइम कर रहे हैं खर्च
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर