चेतावनी! भारत पर बड़ा साइबर अटैक करने की तैयारी में चीन, ऐसे रखें खुद को सेफ

चेतावनी! भारत पर बड़ा साइबर अटैक करने की तैयारी में चीन, ऐसे रखें खुद को सेफ
महाराष्ट्र साइबर विभाग ने साइबर अपराध से बचने के लिए कुछ उपाय बताए हैं.

महाराष्ट्र साइबर विभाग ने ऐसे किसी साइबर अपराध से बचने के लिए कुछ उपाय भी बताए हैं. आइए जानें कैसे रखें खुद को सेफ...

  • Share this:
साइबर अटैक (Cyber Attack) के हमले तेजी से बढ़ रहे हैं. इसी बीच महाराष्ट्र साइबर इंटेलीजेंस सेल (Maharashtra Cyber Intelligence Cell) ने भारत में साइबर हमले को लेकर वॉर्निंग देते हुए एडवाइजरी जारी की है, जिसमें बताया गया है कि चीन के हैकर्स बड़े पैमाने पर साइबर अटैक करने की योजना बना रहे हैं. महाराष्ट्र साइबर इंटेलीजेंस सेल के स्पेशल IG यशस्वी यादव ने इस बारे में बताया कि पिछले 4-5 दिनों में चीनी हैकर्स ने लगभग 40,300 बार भारतीय साइबर स्‍पेस में अटैक करने की कोशिश की है.

सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक इनमें से ज़्यादातर हैकर्स चीन के चेंगदू क्षेत्र में मौजूद हैं. इस क्षेत्र को साइबर अटैक का हेडक्‍वार्टर बताया जा रहा है. चीन के हैकर भारत के साइबर स्पेस में विशेष रूप से इंफॉर्मेशन, इंफ्राटेक्‍चर और बैंकिंग के लिए साइबर हमले कर रहे हैं.

(ये भी पढ़ें- क्या होता है Cyber Attack? हैकर्स कैसे देते हैं अंजाम? और कैसे बच सकते हैं आप? जानें इससे जुड़े सभी सवालों के जवाब)



एडवायजरी में बताया गया है कि फिशिंग ईमेल के लिए जिस ईमेल आईडी का इस्तेमाल किया जा रहा है, वह ncov2019@gov.in है. इस धोखेबाज ग्रुप के पास 20 लाख ईमेल एड्रेस होने का दावा किया जा रहा है. साइबर विभाग ने कहा कि ncov2019@gov.in जैसी आई़डी से सावधान रहें.
महाराष्ट्र साइबर विभाग ने ऐसे किसी साइबर अपराध से बचने के लिए कुछ उपाय भी बताए हैं. आइए जानें कैसे रखें खुद को सेफ

>>सोशल मीडिया पर किसी अनजान ईमेल, SMS या मैसेज में दिए अटैचमेंट को न खोलें या क्लिक करने से बचें.

>> सबसे ज़रूरी ये है कि अगर आप मैसेज या मेल भेजने वाले को अच्छे से जानते भी हैं, तब भी अटैचमेंट को खोलने से पहले सावधानी बरतने की ज़रूरत है. क्योंकि ऐसा मुमकिन है कि किसी ने आपके जानने वाले का फोन या मेल हैक कर लिया हो, और उसी से मैलिशियस लिंक भेजा गया है.

(ये भी पढ़ें- खास हैं Apple iOS 14 के ये 5 छुपे हुए फीचर्स, बदल जाएगा iPhone यूज़ करने का अंदाज़)

>>ऐसे ईमेल या लिंक से सावधान रहें जो खास ऑफर के साथ हो जैसे कोविड-19 टेस्टिंग, कोविड-19 मदद, इनामी राशि, कैशबैक ऑफर्स.

>> ब्राउजिंग के लिए सेफ टूल्स, एंटीवायरस, फायरवॉल का इस्तेमाल करें. स्पैम फिल्टर को लेटेस्ट स्पैम मेल कंटेंट के साथ अपडेट करें.

>> लिंक पर क्लिक करने या लॉगइन करने से पहले URL को चेक कर लें. लिंक पर क्लिक करने से पहले, सुनिश्चित करें कि वेबसाइट वैध है. मैसेज में या URL में किसी भी तरह की स्पेलिंग की गलतियों की जांच करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading