होम /न्यूज /तकनीक /लॉकडाउन में नहीं मिल पाया गर्लफ्रेंड से, तो बना दी वो चीज, जिसके लिए हर आशिक दे रहा दुआएं

लॉकडाउन में नहीं मिल पाया गर्लफ्रेंड से, तो बना दी वो चीज, जिसके लिए हर आशिक दे रहा दुआएं

चाइनीज स्टार्टअप ने किसिंग मशीन का किया आविष्का

चाइनीज स्टार्टअप ने किसिंग मशीन का किया आविष्का

Long Distance Kissing Machine : लॉकडाउन से प्रेरित होकर एक चीनी स्टार्ट-अप ने लॉन्ग डिस्टेंस किसिंग मशीन का आविष्कार कि ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

चीनी स्टार्ट-अप Siweifushe किसिंग मशीन का आविष्कार किया है.
इस मशीन की मदद से लवर्स दूर से किसिंग कर सकते हैं.
MUA की कीमत 260 युआन लगभग 3,100 रुपये रखी गई है.

नई दिल्ली. कहते हैं कि आवश्यकता अविष्कार की जननी होती है और यह बात गाहे-बगाहे साबित होती ही रहती है. शुरुआती इंसानों ने एक-जगह से दूसरी जगह जाने की सुविधा के लिए पहिये के अविष्कार किया तो बाद में रोशनी के लिए बल्ब इजाद किया गया. इसी तरह इंसान तरक्की करता गया और आज टेक्नोलॉजी जिस स्तर पर पहुंच चुकी है, वहां ऐसी-ऐसी चीजें मुमकिन हो रही हैं जिनके बारे में कभी कोई सोच भी नहीं सकता था. पिछले कुछ वर्षों में मोबाइल फोन की क्रांति हुई तो पुराने बुजुर्गों को अभी भी यह किसी अचम्भे से कम नहीं लगता कि दूर-दूर बैठे लोग आपस में कैसे बात कर पाते हैं. हाल ही में एक चीनी व्यक्ति ने ऐसा अविष्कार कर दिया है कि हर प्यार करने वाला शख्स कह रहा है कि वाह क्या बात है. एक ऐसा डिवाइस बना दिया है, जिसकी मदद से दूर-दूर बैठे 2 लोग एक दूसरे को चूम सकते हैं और खास बात ये है कि किस की फीलिंग भी असली होगी.

दरअसल, लॉकडाउन आइसोलेशन में अपनी गर्लफ्रेंड से दूर रहने की पीड़ा ने एक शख्स को ऐसा डिवाइस बनाने के लिए प्रेरित किया. एक चीनी स्टार्ट-अप ने लॉन्ग डिस्टेंस किसिंग मशीन (Long Distance Kissing Machine) का आविष्कार किया. यह मशीन सिलिकॉन लिप्स (Silicon Lips) में छिपे मोशन सेंसर के माध्यम से कलेक्ट किए गए यूजर्स के किसिंग डेटा (Kissing Data) को ट्रांसमिट करती है. यह डेटा किस प्राप्त होने पर एक मूव करते हैं. बीजिंग स्थित Siweifushe कंपनी ने कहा कि इस मशीन का नाम MUA है. इसका नाम उस साउंड के नाम पर रखा गया है जो आमतौर पर लोग किस करते समय बनाते हैं. मुआ…ह… हालांकि, यह पहली किसिंग मशीन नहीं है. इससे पहले पहले टोक्यो विश्वविद्यालय के इलेक्ट्रो-कम्युनिकेशंस के शोधकर्ताओं ने 2011 में किस ट्रांसमिशन मशीन का आविष्कार किया था. इसके अलावा मलेशिया के इमेजिनियरिंग इंस्टीट्यूट ने 2016 में किसिंगर नामक एक समान गैजेट बनाया था.

बता दें कि यह मशीन साउंड कैप्चर करती है और रीप्ले भी करती है. यह किस करते वक्त थोड़ा गर्म हो जाती है, जिससे किसिंग एक्सपीरियंस अधिक प्रामाणिक हो जाता है. यूजर्स अन्य यूजर्स द्वारा अटैच ऐप के माध्यम से सबमिट किए गए किसिंग डेटा को डाउनलोड भी कर सकते हैं.

मशीन के आविष्कारक झाओ जियान्बो ने कहा कि उनके मन में किसिंग मशीन बनाने का विचार तीन साल की COVID-19 महामारी के दौरान लंबे और व्यापक लॉकडाउन उपायों के बाद आया था. उस समय मैं रिलेशन में था और लॉकडाउन के कारण मैं अपनी प्रेमिका से नहीं मिल पा रहा था.

कितनी है कीमत?
ग्रेजेुएशन पूरा करने के बाद उन्होंने Siweifushe कंपनी की स्थापना की, जिसने 260 युआन (लगभग 3,100 रुपये) की कीमत में अपना पहला प्रोडक्ट MUA जारी किया. प्रोडक्ट रिलीज होने के दो हफ्तों में, फर्म ने 3,000 से अधिक किसिंग मशीन बेचीं और लगभग 20,000 ऑर्डर प्राप्त किए.

यह भी पढ़ें- Google पर सालों से कर रहे हैं सर्च, लेकिन 99% लोग अभी भी नहीं जानते इसकी 6 सीक्रेट Tricks

आसान है इस्तेमाल करना
MUA एक मोबाइल स्टैंड जैसा दिखता है, जिसमें सामने से उभरे हुए होंठ होते हैं. इसका उपयोग करने के लिए, प्रेमियों को अपने स्मार्टफोन पर एक ऐप डाउनलोड करना होगा और अपनी किसिंग मशीन को पेयर करना होगा, जिसे वे फ़ोन चार्जिंग पोर्ट में प्लग करते हैं. वे ऐप का उपयोग करके डिवाइस को एक्टिव करते हैं और फिर किस करते हैं.

मिक्स रिव्यू मिले
डिवाइस समान यूनिसेक्स होठों के साथ कई रंगों में उपलब्ध है. इसे मिक्स रिव्यू मिले हैं. कुछ यूजर्स ने कहा कि यह पेचीदा था जबकि अन्य ने कहा कि इससे उन्हें असहज महसूस हुआ. सबसे ज्यादा शिकायतों में इसकी जीभ न होने की थीं. सोशल मीडिया साइट वीबो पर कुछ टिप्पणीकारों ने भी चिंता व्यक्त की कि डिवाइस का उपयोग ऑनलाइन कामुक कंटेंट के लिए किया जा सकता है, जिसे चीन में सख्ती से रेगूलेट किया जाता है.

Tags: Tech news, Tech News in hindi, Technology

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें