ऑनलाइन बर्गर मंगवाना पड़ा मंहगा! किया 178 रु का ऑर्डर खाते से कट गए 21,865 रुपये

ऑनलाइन बर्गर मंगवाना पड़ा मंहगा
ऑनलाइन बर्गर मंगवाना पड़ा मंहगा

आज कल ऑनलाइन फूड ऑर्डर करने का क्रैज लगातार बढ़ता जा रहा है, लेकिन एक व्यक्ति को ऑनलाइन बर्गर मंगवाना इतना महंगा पड़ा कि उसे 21,865 रुपये की चपत लग गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 2:50 PM IST
  • Share this:
आज के बिजी टाइम में ऑनलाइन फूड ऑर्डर करने का क्रैज लगातार बढ़ता जा रहा है. लेकिन ऐसे में एक छोटी सी गलती हमें बहुत भारी पड़ जाती है. यदि आप भी गूगल से कस्टमर केयर का नंबर लेकर फोन करते हैं और फिर किसी भी ऐप को अपने फोन में डाउनलोड कर ऑर्डर कर देते हैं तो सावधान हो जाइये. क्योंकि इस तरह की एक गलती से आपका पूरा अकाउंट खाली हो सकता है. मीडिया सुत्रों के अनुसार, नोएडा की आईटी कंपनी में काम करने वाली एक महिला सॉफ्टवेयर इंजीनियर को ऑनलाइन बर्गर मंगाना इतना महंगा पड़ गया कि उसके खाते से 21,865 रुपये निकाल लिए गए, जबकि बर्गर की कीमत 178 रुपये थी.

जानिए कैसे कटे खाते से पैसे
नोएडा सेक्टर 45 की एक महिला ने 178 रुपये में प्री पेड पेमेंट के बाद एक बर्गर ऑर्डर किया. बर्गर की डिलीवरी 35 मिनट में होने वाली थी लेकिन डेढ़ घंटे तक डिलीवरी नहीं होने पर महिला ने संबंधित रेस्टोरेंट के कर्मचारी से चैट की तो उसने बताया कि ऑर्डर कैंसिल कर दिया गया है. यह पूरा मामला रिमोट कंट्रोल वाले ऐप से जुड़ा है.

ये भी पढ़ें: Alert! प्ले स्टोर पर इन 21 गेमिंग Apps को लेकर जारी हुई चेतावनी, तुरंत करें फोन से डिलीट, यहां चेक करें लिस्ट
इसके बाद जब महिला ने अपने पैसे रिफंड लेने के लिए गूगल पर संबंधित कंपनी के कस्टमर केयर का नंबर खोजा और कॉल किया. कॉल रिसीव करने वाले व्यक्ति ने खुद को कंपनी का कर्मचारी बताया. आरोपी ने महिला से कहा कि वह कॉल को मैनेजर लेवल एग्जीक्यूटिव को ट्रांसफर कर रहा है. इसके बाद आरोपी ने महिला से कहा कि वह एक एप मोबाइल में डाउनलोड करें. उसके बाद पैसे वापस आ जाएंगे. ऐप डाउनलोड होते ही उसके खाते से 21,865 रुपये कट गए. पीड़िता ने साइबर थाने में अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कराया है.



ये भी पढ़ें: इंडियन आर्मी ने लॉन्च किया देसी मैसेजिंग ऐप SAI, WhatsApp और Telegram से भी ज्यादा सुरक्षित

इस तरह की घटनाओं से बचाएं खुद को
इस तरह की ठगी के आए दिन मामले सामने आते रहते हैं ऐसे में ग्राहक को सतर्क रहने की के लिए बैंक से लेकर सरकार तक कई अलर्ट जारी कर चुकी है. ऐसी घटनाओं से बचने के लिए तरीका यह है कि गूगल से कस्टमर केयर का नंबर ना लें. संबंधित कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट से नंबर लें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज