होम /न्यूज /तकनीक /सावधान! कहीं आपके फोन में तो नहीं ये खतरनाक ऐप्स? हों तो तुरंत करें डिलीट

सावधान! कहीं आपके फोन में तो नहीं ये खतरनाक ऐप्स? हों तो तुरंत करें डिलीट

ये ऐप्स यूजर्स को अनसेफ वेबसाइट्स पर डायवर्ट भी कर देते हैं

ये ऐप्स यूजर्स को अनसेफ वेबसाइट्स पर डायवर्ट भी कर देते हैं

एक साइबर सिक्योरिटी फर्म ने गूगल प्ले स्टोर पर कुछ ऐसे ऐप्स की पहचान की है, जो मैलवेयर इंफ्टेड हैं. ऐसे में अगर ये ऐप्स ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

Dr Web साइबर रिसर्च की टीम ने कुछ ऐप्स की पहचान की
इन ऐप्स को लाखों बार डाउनलोड किया जा चुका है
ये लोगों की निजी जानकारियां चुराते हैं और अनसेफ साइट्स पर भेजते हैं

नई दिल्ली. बीते कुछ सालों से Google अपने प्ले स्टोर में सेफ ऐप्स को ही जगह देने के लिए काफी कोशिश कर रहा है. इसके बावजूद थोड़े-थोड़े दिन में गूगल प्ले स्टोर पर मैलवेयर इंफेक्टेड ऐप्स के मौजूद होने की जानकारी मिल ही जाती है. ऐसे ऐप्स को काफी बार डाउनलोड भी किया जा चुका होता है. एक बार कुछ ऐप्स की जानकारी मिली है.

दरअसल, Dr Web साइबर रिसर्च की टीम ने कुछ खतरनाक ऐप्स की पहचान की है. इन ऐप्स में Tubebox, Bluetooth device auto-connect, Bluetooth & Wi-Fi & USB driver, Volume, Music Equalizer और Fast Cleaner & Cooling Master के नाम शामिल हैं. इनमें से कुछ ऐप्स को लाखों बार डाउनलोड किया जा चुका है.

ये भी पढें: 6 तरह के होते हैं Malware, जाने कैसे करता है डिवाइस पर अटैक

ये सर्विसेज ऑफर करते हैं ऐप्स 

जैसा कि ऐप्स के नाम से ही समझा जा सकता है कि ये फास्ट वायरलेस कनेक्टिविटी, फोन में फास्ट स्पीड, ओवरहीटिंग कंट्रोल जैसी सर्विसेज ऑफर करते हैं. इनमें से Tubebox यूजर्स को पैसे कमाने का मौका भी देता है. इसमें यूजर्स को तब पैसा मिलता है जब वे ऐप पर वीडियो ads देखते हैं. इस अकेले ऐप को ही लाखों यूजर्स ने डाउनलोड किया हुआ है.

इतना ही नहीं ब्लूटूथ रिलेटेड ऐप्स को भी लाखों यूजर्स ने डाउनलोड कर लिया है. लेकिन, ये ऐप्स उस तरह से काम ही नहीं करते, जैसा इन्हें करना चाहिए. उल्टे ये ऐप्स एंड्रॉयड फोन में यूजर एक्सपीरिएंस को ads दिखाकर खराब कर देते हैं. साथ ही यूजर्स को अनसेफ वेबसाइट्स पर डायवर्ट भी कर देते हैं. इन सबके अलावा लोगों की निजी जानकारियां भी चुराते हैं.

ये भी पढें: Tech Tips: हैकर्स और मैलवेयर से बचाएगी Chrome की यह सेटिंग, तुरंत करें ऑन

ऐसे में अगर आपने इनमें से किसी भी ऐप को अगर पहले डाउनलोड किया हो तो तुरंत डिलीट कर दें. क्योंकि, ये आपकी बैंकिंग डिटेल भी चोर कर सकते हैं. साथ ही ये भी ध्यान रखें कि अननोन पब्लिशर्स के ऐप्स को फोन में इंस्टॉल ना करें. किसी भी ऐप को डाउनलोड करने से पहले गूगल प्ले स्टोर से रिव्यू भी पढ़ लें.

Tags: Apps, Cyber Crime, Tech news, Tech news hindi

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें