लाइव टीवी

...तो क्या अभी फायदेमंद नहीं है सुपर फास्ट इंटरनेट वाला 5G स्मार्टफोन खरीदना

News18Hindi
Updated: February 27, 2020, 11:27 PM IST
...तो क्या अभी फायदेमंद नहीं है सुपर फास्ट इंटरनेट वाला 5G स्मार्टफोन खरीदना
कोरोना वायरस के खौफ में लोग 5G मोबाइल टावर में आग लगा रहे हैं

वर्तमान में कई स्मार्टफोन विक्रेता कंपनियां 5G स्मार्टफोन को लेकर भारतीय बाजार में माहौल बना रही हैं. लेकिन इस बीच यह भी कयास लगाया जा रहा है कि देश में 5G नेटवर्क शुरू होने में कम से डेढ़ साल और लग सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 11:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पहले 2G, इसके बाद 3G, 4G और अब 5G की शुरुआत हो चुकी है. दुनिया के साथ-साथ भारत के लोगों को भी सबसे आधुनिक नेटवर्क 5G का बेसब्री से इंतजार है. कयास लगाए जा रहे हैं कि दुनियाभर के कई हिस्सों में 5G सेवा को इस साल शुरू कर दिया जाएगा. लेकिन इस बीच भारतीयों के लिए सबसे बड़ा सवाल ये है कि आखिर भारत में 5G सर्विस को कब शुरू किया जाएगा, क्योंकि अब 5G स्मार्टफोन्स की लॉन्चिंग का सिलसिला शुरू होने वाला है. इसी सप्ताह देश में दो 5G स्मार्टफोन्स लॉन्च होने वाले हैं. ऐसे में यह भी जानना जरूरी है कि मौजूदा समय में 5G स्मॉर्टफोन आपके लिए क्या मायने रखते हैं?

भारत में किसने लॉन्च किया है 5G स्मार्टफोन?
Realme और iQoo, ऐसी दो कंपनियां हैं जो भारत में सबसे पहले 5G स्मार्टफोन लॉन्च करने वाली हैं. दिलचस्प बात है कि इन दोनों कंपनियों का मालिकाना हक चीन की बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स (BBK Electronics) के पास है. Realme x50 Pro and iQoo 3 की कीमतों को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं कि ये क्रमश: 37,999 और 36,999 रुपये हो सकती है. Realme ने सबसे पहले अपना कारोबार Oppo के सब ब्रांड के तौर पर शुरू किया था, बाद में यह कंपनी एक स्वतंत्र इकाई बन गई. जबकि, iQoo अब Vivo का सब ब्रांड है. Oppo और Vivo का मालिकाना हक भी BBK इलेक्ट्रॉनिक्स के पास ही है. वर्तमान में, भारतीय बाजार में सबसे अधिक स्मार्टफोन बेचने वाली कंपनियों की बात करें तो इसमें Oppo, Vivo और Realme टॉप 5 में शामिल हैं. मार्केट रिसर्च कंपनी काउंटर पाइंट ने अपनी एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है.





यह भी पढ़ें: OnePlus 8 फोन के लॉन्च को लेकर कंपनी ने कही ये बात! ऐसी खबरों को बताया झूठ



और किन कंपनियों का है 5G सपोर्ट वाले स्मार्टफोन का प्लान
Realme x50 Pro और iQoo 3 ही भारत में सबसे पहले लॉन्च होने वाले 5G स्मार्टफोन्स होंगे. लेकिन बीते कुछ समय से Mi Mix Alpha को लेकर भी Xiaomi माहौल बनाए हुए है. Xiaomi ने अपने कुछ स्टोर्स पर इस स्मार्टफोन को डिस्प्ले भी किया है. कंपनी ने पहले यह भी कहा था कि वो साल 2020 में कम से कम 10 5G​ डिवाइस लॉन्च करेगी. उम्मीद की जा रही है इनमें से कुछ फोन भारत में भी लॉन्च किए जाएंगे. वैश्विक स्तर पर देखें तो Samsung Galaxy S20 का 5G वैरिएंट उपलब्ध है. Samsung Galaxy S20 के भारतीय वैरिएंट में 5G नेटवर्क सपोर्ट करने की सुविधा नहीं है.

 

 

क्या है वर्तमान में 5G स्मार्टफोन का मतलब?
मौजूदा समय में भारत में 5G स्मार्टफोन की बात करें तो इसका कोई खास मतलब नहीं दिखाई देता है. इसका सबसे बड़ा कारण है कि भारत में 5G नेटवर्क अभी शुरू नहीं हुआ है. भारत में इस सेवा के शुरू होने में एक साल से अधिक समय लग सकता है. केंद्रीय टेलीकॉम मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पिछले साल सितंबर महीने में कहा था कि केंद्र सरकार योजना बना रही है कि 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी साल 2020 के अंत में या 2021 की शुरुआत में की जाए. ऐसे में अगर हम यह भी मान लें कि घरेलू टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स (Telecom Service Providers) स्पेक्ट्रम (5G Spectrum) खरीदने के लिए तैयार हैं तो इसके बाद अगले कुछ महीनों में उन्हें ​टेस्टिंग भी करनी होगी. इस हिसाब से भी साल 2021 के मध्य तक भारत में 5G सर्विस शुरू होती दिखाई नहीं दे रही है. ऐसे में अगर आप कोई ऐसा स्मार्टफोन खरीदना चाहते हैं जो 5G को सपोर्ट करता है तो वर्तमान में इसका कोई मतलब नहीं बनता है. खासतौर पर जब इसके ​लिए आपको ज्यादा पैसा खर्च करना पड़े.



यह भी पढ़ें: एक बार चार्ज होकर पूरा दिन चलेगी बैटरी, Video में देखें कैसा है Galaxy A51

स्मार्टफोन कंपनियां क्यों बना रही है 5G के लिए माहौल?
एक एक्सेस पॉइंट के तौर पर किसी भी डिवाइस को नेटवर्क प्रोवाइडर से एक कदम आगे ही रहना चाहिए. इस लिहाज से 5G सपोर्ट करने वाले स्मार्टफोन को लेकर ये कंपनियां गलत नहीं हैं. लेकिन भारतीय ग्राहकों के लिए फिलहाल 5G सपोर्ट वाले किसी फोन को प्रीमियम दर पर खरीदने का कोई मतलब नहीं है. दरअसल, भारतीय बाजार में स्मार्टफोन की बिक्री एक ऐसे मोड़ पर पहुंच चुकी है जब स्मार्टफोन के नए ग्राहकों की संख्या कम हुई है. अधिकतर खरीदार वही हैं जो अपने पुराने फोन के खराब होने की वजह से फोन खरीद रहे हैं. स्मार्टफोन की बिक्री दर में कमी आई है. ऐसे में ये कंपनियां 5G सपोर्ट को लेकर ग्राहकों का ध्यान अपनी ओर आ​कर्षित कर रही हैं.



क्या है आपके लिए 5G का मतलब?
5G की उपयोगिता की बात करें तो आम ग्राहकों को इसके इनडायरेक्ट फायदे अधिक हैं. 5G नेटवर्क का सबसे बड़ा फायदा इंटरनेट ऑफ थिंग्स (Internet of Things) डिवाइस को लेकर है. इसमें CCTV कैमरा से लेकर कनेक्टेड कारें तक शामिल हैं. ऐसी कोई भी चीज, जिसमें डेटा ट्रांसफर की जरूरत होती है, उसमें 5G नेटवर्क का सबसे अधिक फायदा मिलेगा. आपकी कनेक्टेड स्पीड में इसका कुछ खास असर नहीं पड़ेगा. जानकारों का कहना है कि जैसे 2G से 3G और फिर 3G से 4G नेटवर्क पर माइग्रेट करने के बाद इंटरनेट स्पीड में जो बदलाव हुआ था, वो अब 4G से 5G नेटवर्क में माइग्रेट करने पर नहीं देखने को मिलेगा. कुल मिलाकर देखें तो 5G नेटवर्क से स्मार्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर पर बेहतर असर पड़ेगा. इसमें आपको अपने सर्विस प्रोवाइडर से बेहतर सेवाएं मिल सकती हैं.

यह भी पढ़ें: गैलेक्सी M31 है Samsung का नया सस्ता फोन, मिलेगी 6000mAh की बैटरी, 4 कैमरे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 11:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading