लाइव टीवी

यह स्पाईवेयर एटीएम या कंपनी सर्वर से चुरा सकता है आपका पैसा और डेटा

News18Hindi
Updated: September 28, 2019, 7:49 AM IST
यह स्पाईवेयर एटीएम या कंपनी सर्वर से चुरा सकता है आपका पैसा और डेटा
Dtrack स्पाईवेयर उसी कंपनी को टारगेट करता है जिनका सिक्युरिटी नेटवर्क कमज़ोर है.

Kaspersky सिक्योरिटी रिसर्चर Konstantin Zykov के अनुसार, 'Dtrack का ऑपरेशन काफी अजीब है. यह साइबर जासूसी करता है. यह भी पाया गया है कि पैसे चुराने वाले वाले अटैक भी करता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 28, 2019, 7:49 AM IST
  • Share this:
साइबर सिक्योरिटी फर्म Kaspersky ने एक नए स्पाईवेयर (SpyWare) का पता लगाया है, जो बड़ी संख्या में फाइनेंशियल और रिसर्च से जुड़ी इंडियन फर्म्स पर असर डालती है. इसका नाम Dtrack है और यह इसके पहले के स्पाईवेयर टूल ATMDtrack का ही विकसित रूप है. कहा जाता है कि ATMDtrack को पूरे देश में एटीएम को टारगेट करने के लिए बनाया गया था. माना जा रहा है कि Dtrack पूरे देश में कॉन्फिडेंशियल डेटा, कर्मचारियों के पर्सनल डीटेल्स को चुराने के लिए प्रयोग किया जा रहा है.

Kaspersky सिक्योरिटी रिसर्चर Konstantin Zykov के अनुसार, 'Dtrack का ऑपरेशन काफी अजीब है. यह साइबर जासूसी करता है. यह भी पाया गया है कि पैसे चुराने वाले वाले अटैक भी करता है. यह बात काफी महत्त्वपूर्ण है, क्योंकि दूसरे स्पाईवेयर में इस तरह के इस तरह की चीज़ें आमतौर पर नहीं देखी जातीं.' हालांकि, Kaspersky ने अभी तक इस स्पाईवेयर की वजह से प्रभावित किसी संस्था का नाम नहीं बताया है, लेकिन यह कहा है कि यह उन्हीं पर अटैक कर सकता है, जिनका सिक्योरिटी नेटवर्क कमज़ोर है.

बता दें कि कुछ दिन पहले इससे पहले Lazarus Group से जुड़ा एक मैलवेयर चर्चा में आया था, जो कि भारतीय खाताधारकों की एटीएम डीटेल चुरा रहा था. लजारस ग्रुप को सबसे पहले तब रिपोर्ट किया गया था, जब इसने 2014 में सोनी पिक्चर्स इंटरटेनमेंट पर अटैक किया था. इस ग्रुप ने यूएस और ब्रिटेन समेत कई देशों पर 2017 में WannaCry रैंसमवेयर अटैक भी किया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 28, 2019, 6:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...