लाइव टीवी

Lockdown 4.0: सिर्फ ये ई-कॉमर्स कंपनी दे रही है कैश ऑन डिलीवरी की सुविधा

News18Hindi
Updated: May 20, 2020, 9:15 AM IST
Lockdown 4.0: सिर्फ ये ई-कॉमर्स कंपनी दे रही है कैश ऑन डिलीवरी की सुविधा
स्नैपडील कैश ऑन डिलीवरी का ऑप्शन दे रहा है. (फाइल फोटो)

18 मई से शुरू हुए चौथे लॉकडाउन विस्तार के दौरान ई-कॉमर्स कंपनियों को सभी तरह के सामानों की सप्लाई की अनुमति दे दी गई है.

  • Share this:
मुंबई. ई-कॉमर्स प्लैटफार्म (E-Commerce) स्नेपडील (Snapdeal) ने मंगलवार को कहा है कि उसने ‘कंटेनमेंट जोन’ वाले इलाकों को छोड़कर शेष पूरे देश में अपनी डिलीवरी सेवाएं शुरू कर दी हैं. कंपनी 26 हज़ार से ज़्यादा पिनकोड क्षेत्रों में सेवाएं दे रही है. कंपनी ने कहा है कि वह अपने ग्राहकों को माल डिलीवर होने पर नकद भुगतान यानी कि कैश ऑन डिलीवरी (Cash on delivery) का ऑप्शन भी दे रही है जैसा कि वह पहले करती आई है.

ऑनलाइन प्लैटफार्म के ज़रिए सामान की सप्लाई करने वाली कंपनियां 25 मार्च को लॉकडाउन शुरू होने के बाद से बड़े संकट के दौर से गुज़र रही हैं. इन कंपनियों को गैर- जरूरी सामान की आपूर्ति करने पर रोक लगा दी गई थी. हालांकि 18 मई से शुरू हुए चौथे लॉकडाउन विस्तार के दौरान ई-कॉमर्स कंपनियों को सभी तरह के सामानों की सप्लाई की अनुमति दे दी गई है.

कंपनी द्वारा जारी एक वक्तव्य में दावा किया गया है कि आपूर्ति पर नकद भुगतान का विकल्प पेश करने वाली वह एकमात्र ई- वाणिज्य प्लैटफार्म हैं. कंपनी ने ये भी कहा है कि उसने लॉकडाउन शुरू होने से पहले मिले 50 प्रतिशत आर्डर की आपूर्ति पूरी कर ली है. ये आर्डर लॉकडाउन की वजह से पूरे नहीं किए जा सके थे.



बड़े शहरों से आते हैं 70% ऑर्डर



अमेज़न, फ्लिपकार्ट, पेटिएम मॉल और स्नैपडील जैसे ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए मैट्रो शहर बड़ा बाजार है. इन कंपनियों के 70 प्रतिशत ऑर्डर इन बड़े शहरों से ही आते हैं. देश के ज्यादातर बड़े शहर रेड जोन में है, जिसकी वजह से पिछले कई सप्ताह से ई-कॉमर्स कंपनियों का बिजनेस पूरी तरह से बंद था. Lockdown 4.0 की नई गाइडलाइन्स से ई-कॉमर्स कंपनियों का कारोबार एक बार फिर से पटरी पर आने की उम्मीद है. साथ ही, स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां भी पेंडिंग पड़े अपने डिवाइसेज और प्रोडक्ट्स को भी लॉन्च करेंगी.
(इनपुट-भाषा से)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गैजेट्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 20, 2020, 8:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading