• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • FACEBOOK INTRODUCES TWO FACTOR AUTHENTICATION FOR SMARTPHONE USERS STARTING TODAY 18 MARCH VARPAT

Facebook यूजर्स के लिए बड़ी खबर! आज से बदल रहा है ये नियम, अब फेसबुक चलाने के लिए करना होगा ये काम

फेसबुक ने आज से मोबाइल डिवाइस पर लाॅग-इन करने के लिए टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन(2FA) को लागू करने का ऐलान किया

अगर आप स्मार्टफोन (Smartphone) पर फेसबुक चलाते हैं तो आपके लिए जरूरी खबर है. सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक (Facebook) ने एक नया फैसला लिया है. फेसबुक ने आज से मोबाइल डिवाइस पर लाॅग-इन करने के लिए टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन(2FA) को लागू करने का ऐलान कर दिया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. अगर आप स्मार्टफोन (Smartphone) पर फेसबुक चलाते हैं तो आपके लिए ये जरूरी खबर है. सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक (Facebook) ने एक नया फैसला लिया है. फेसबुक ने आज से मोबाइल डिवाइस पर लाॅग-इन करने के लिए टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन(2FA) को लागू करने का ऐलान कर दिया है. यानी कि आज से यदि कोई स्मार्टफोन यूजर अपने फोन पर फेसबुक चलाता है तो उसे दो ऑथेंटिकेशन प्रक्रिया (authentication process) से होकर गुजरना होगा. फेसबुक ने यह फैसला सिक्योरिटी को ध्यान में रख कर लिया है. बता दें कि इससे पहले फेसबुक ने 2017 में डेस्कटॉप के लिए इस तरह की सिक्योरिटी प्रमाणीकरण की अनुमति दी थी. अब यह स्मार्टफोन यूजर के लिए भी लागू होगा. फेसबुक का यह नियम iOS और Android मोबाइल डिवाइस दोनों यूजर्स के लिए है.

    जानें टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन क्या है?
    टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन एक सिक्योरिटी फीचर है. यह आपके फेसबुक अकाउंट (Facebook account) को अज्ञात डिवाइस से लॉग इन करने के दौरान हर बार आपके जाने-पहचाने (आपके पासवर्ड) और आपके पास मौजूद किसी चीज की आवश्यकता को सुरक्षित रखने में मदद करता है. आमतौर पर यह आपके मोबाइल फोन या ऑथेंटिकेटर ऐप पर एक SMS कोड भेजा जाता है.

    ये भी पढ़ें- र्मी आने से पहले घर बैठे 10 हजार लगाकर शुरू करें ये कारोबार, हर सीजन होगी लाखों में कमाई

    क्या कहा कंपनी ने?
    कंपनी ने कहा कि हम अपने यूजर्स की सिक्योरिटी को ध्यान में रखते हैं. यूजर्स को हैकर्स से बचाने के लिए सुरक्षित प्लेटफार्म को सुनिश्चित करते हैं. बता दें कि इस हफ्ते की शुरुआत में ट्विटर ने लोगों को सिक्योरिटी फीचर का उपयोग केवल ऑथेंटिकेशन प्रक्रिया के रूप में करने की घोषणा की थी. कंपनी ने कहा था कि माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म हर अकाउंट खाते में कई सिक्योरिटी कीज की अनुमति देगा.
    First published: