लाइव टीवी

Facebook की डिजिटल करेंसी Libra से जुड़े Uber-Vodafone, जानें कैसे होगा आपको फायदा

News18Hindi
Updated: October 15, 2019, 1:07 PM IST
Facebook की डिजिटल करेंसी Libra से जुड़े Uber-Vodafone, जानें कैसे होगा आपको फायदा
Facebook Libra

Libra Association ने सोमवार को जेनेवा में हुई ऑर्गनाइजेशन की इनॉग्रल मीटिंग में अपने 21 सदस्यों के नामों पर हस्ताक्षर किए. इसके बाद Uber, Lyft, Spotify और Vodafone जैसी बड़ी कंपनियां इस असोसिएशन का हिस्सा बन गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2019, 1:07 PM IST
  • Share this:
सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Facebook अपनी डिजिलटल करेंसी Libra लॉन्च करने की दिशा में एक और कदम आगे बढ़ गया है. कंपनी ने करेंसी की गवर्निंग के लिए आधिकारिक रूप से काउंसिल बना लिया है. अभी फेसबुक के इस प्रोजेक्ट में कई हाई-प्रोफाइल डिफेक्शन्स यानी कमियां हैं, वहीं अमेरिकी नियामकों और नेताओं की ओर इसके खिलाफ विरोध भी जताया गया है लेकिन इस डिजिटल करेंसी के गवर्निंग के लिए बनाए गए फेसबुक के नॉन प्रॉफिट असोसिएशन Libra Association ने सोमवार (14 अक्टूबर) को इसके 21 चार्टर सदस्यों के नाम पर आधिकारिक रूप से हस्ताक्षर कर दिए.

Libra Association ने सोमवार को जेनेवा में हुई ऑर्गनाइजेशन की इनॉग्रल मीटिंग में अपने 21 सदस्यों के नामों पर हस्ताक्षर किए. इसके बाद Uber, Lyft, Spotify और Vodafone जैसी बड़ी कंपनियां इस असोसिएशन का हिस्सा बन गई हैं. इसके अलावा इस असोसिएशन में कई वेंचर कैपिटल फर्म्स हैं. पहले इसमें 27 सदस्य थे, लेकिन बाद में Visa, Mastercard और Paypal जैसी कंपनियां पीछे हट गईं.

ये भी पढ़ें- महंगे iPhone को सस्ते में खरीदने का शानदार मौका, पाएं 32 हज़ार रुपये की छूट



Loading...


असोसिएशन ने एक बयान जारी किया, जिसमें बताया गया कि इनके अलावा 180 दूसरी फर्म्स और कंपनियों ने भी इसमें दिलचस्पी दिखाई है और जॉइन करने के लिए जरूरी अनिवार्यताओं को पूरा किया है. Libra की घोषणा करने के बाद से ही फेसबुक US रेगुलेटर्स और पॉलिटिशियन्स की तरफ से आलोचना झेल रहा है.

ये भी पढ़ें- Dish TV का बेहद सस्ता ऑफर! अब 219 रुपये में मिलेंगे 250 से ज़्यादा चैनल



उनका कहना है कि डेटा प्राइवेसी को लेकर फेसबुक की परेशानियां Libra को भी प्रभावित करेंगी जो बहुत बड़ी परेशानी साबित हो सकता लेकिन बचाव में फेसबुक का कहना है कि Libra Association पूरी तरह से अलग लीगल एंटिटी होगी और फेसबुक का इसपर मालिकाना हक नहीं होगा. लेकिन सच्चाई यह है कि फेसबुक इसमें इन्वॉल्व है. इस असोसिएशन के पांच डायरेक्टर्स में फेसबुक के एक्जीक्यूटिव और Libra के को-क्रिएटर डेविड मार्कस भी शामिल हैं.

क्या है Libra?
Libra एक तरह का पेमेंट सिस्टम है जो अगले साल तक यूज़र्स को मिलेगा. फेसबुक साल 2020 में लिब्रा क्रिप्टोकरेंसी के साथ ‘Calibra’ डिजिटल वॉलेट भी लॉन्च करेगा. फेसबुक की तरफ से मंगलवार को रिलीज़ किए गए व्हाइट पेपर में बताया गया कि Calibra ग्लोबल क्रिप्टोकरेंसी है, जिसे ब्लॉकचेन टेक्नॉलजी पर बनाया गया है, जो कि WhatsApp और Messenger में भी काम करेगा.

ये भी पढ़ें-Jio ग्राहकों के लिए खुशखबरी, दूसरे नेटवर्क पर कॉल करने के लिए मिलेगा 30 मिनट का फ्री टॉकटाइम

आपको होगा ये फायदा
Libra से यूज़र्स फेसबुक मैसेंजर पर आसानी से पैसे भेजेंगे और रिसीव कर सकेंगे. इतना ही नहीं यूज़र्स WhatsApp के ज़रिये भी पैसों के ट्रांजैक्शन कर सकेंगे. इसमें यूज़र्स को एक डिजिटल वॉलेट ऐप मिलेगा जहां वो अपने सारे ट्रांजैक्शन का ट्रैक रख सकेंगे. फेसबुक की दी गई जानकारी के मुताबिक पैसे भेजने के लिए यूज़र्स को किसी तरह का कोई एक्स्ट्रा चार्ज नहीं देना होगा.
(मनीकंट्रोल से इनपुट)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 12:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...