Home /News /tech /

features that can keep android users phone safe from hackers and virus

गूगल के यह फीचर्स हैकर्स और वायरस से करते हैं आपके एंड्रोयड फोन की सुरक्षा

एंड्रोयड मोबाइल (फाइल फोटो)

एंड्रोयड मोबाइल (फाइल फोटो)

मोबाइल फोन की सुरक्षा को लेकर गूगल ने एंड्रोयड ऑपरेटिंग सिस्टम में कई सुरक्षा उपकरण लगाए हैं. ऐसे में जरूरी है कि आप इन उपकरणों के बारे में जानें और इनसे लाभ उठाएं.

नई दिल्ली. आज मोबाइल फोन हमारे जीवन की सबसे अहम जरूरतों में से एक है. यह हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है. यह कहना गलत नहीं होगा कि हमारा मोबाइल हमारे बारे में हर एक बात जानता है. ऐसे में इसकी सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है. हमारा Android फोन या टैबलेट कितना सुरक्षित या असुरक्षित है यह इस बात निर्भर करता है कि हम इसका इस्तेमाल किस तरह करते हैं?

गैजेट्स नाउ के मुताबिक गूगल ने मोबाइल फोन और टैबलेट की सुरक्षा के लिए उनके एंड्रोयड ऑपरेटिंग सिस्टम में कई सुरक्षा उपकरण लगाए हैं. ऐसे में जरूरी है कि आप इन उपकरणों के बारे में जानें और इनसे लाभ उठाएं, तो चलिए बताते हैं कि आप किस तरह इन उपयोग करके अपने फोन और टैबलेट को सुरक्षित रख सकते हैं.

गूगल प्ले प्रोटेक्ट
गूगल प्ले प्रोटेक्ट खतरनाक ऐप्स से सुरक्षा प्रदान करता है और हानिकारक एंड्रोयड ऐप्स और उपकरणों की जांच करता है. यह यूजर्स को कोई भी ऐप डाउनलोड करने से पहले गूगल प्ले स्टोप पर एक सुरक्षा जांच करता है. यह सुविधा आमतौर पर अधिकांश एंड्रॉयड डिवाइसों में डिफॉल्ट होती यह यूजर्स को मैलवेयर के लिए इंस्टॉल किए गए ऐप्स को मैन्युअली स्कैन करने की अनुमति भी देता है.

फाइंड माई डिवाइस
यह टूल आपके खोए हुए डिवाइस को ढूंढने और उसमें मौजूद डेटा को मिटाने में आपकी मदद करता है. इसे पहले एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर के नाम से जाना जाता था. यह टूल एंड्रॉयड स्मार्टफोन और टैबलेट दोनों में काम करता है. इस टूल का इस्तेमाल करने लिए जरूरी है कि इसे ठीक से सेट किया जाए.

लॉक स्क्रीन ऑप्शन
लॉक स्क्रीन ऑप्शन बायोमेट्रिक्स, पिन और पासवर्ड की मदद से आपके फोन को अनधिकृत पहुंच से बचाता है. स्मार्टफोन लॉक स्क्रीन अनधिकृत पहुंच से फोन को बचाने की पहली सीढ़ी है. इसमें आमतौर पर फेस, फिंगरप्रिंट, पिन और पासवर्ड लॉक जैसे विकल्प शामिल होते हैं. इसके अलावा, यह यूजर्स को लॉक स्क्रीन सेटिंग्स, लॉक स्क्रीन डिले टाइमर जैसे अन्य विकल्प भी देती है.

पढ़ें – Google ने नए स्पाइवेयर को लेकर एंड्रॉयड और क्रोम यूजर्स को चेताया, समझिए क्या है ये और कैसे बचें

पर्मिशन मैनेजर
यह टूल यूजर्स को खतरनाक और अनावश्यक ऐप पर्मिशन को हटाने की अनुमति देता है. हालांकि इसके जरिए हैकर्स को यूजर्स की संवेदनशील जानकारी जैसे संपर्क, फोटो, माइक, स्थान आदि तक पहुंचने के लिए अनुमति लेनी होती है. यह टूल एंड्रॉयड डिवाइस में एक पर्मिशन मैनेजर के साथ आता है, जो उपयोगकर्ताओं को कैटेगरी के अनुसार पर्मिशन देने और उन्हें मैनेज करने की अनुमति देता है.

गूगल सिक्योरिटी चेकअप
गूगल आपके खाते को सुरक्षित रखता है. गूगल सिक्योरिटी चेकअप वैसे एंड्रॉयड सिक्योरिटी फीचर नहीं है. हालांकि, यह सुनिश्चित करता है कि आपका गूगल अकाउंट सुरक्षित है. इसमें एंड्रॉयड डिवाइस भी शामिल है.

Chrome का उपयोग करके पासवर्ड की जांच
इसके अलावा आप Chrome का उपयोग करके छेड़छाड़ किए गए पासवर्ड की भी जांच कर सकते हैं. गूगल क्रोम एंड्रॉयड के लिए डिफॉल्ट वेब ब्राउजर है, जो पासवर्ड मैनेजर सहित कई सुरक्षा और सुरक्षा सुविधाओं के साथ आता है. यह लीक/हैक किए गए पासवर्ड की जांच कर सकता है और यूजर्स को उन्हें अपडेट करने या बदलने के लिए कह सकता है.

इमरजेंसी इन्फर्मेशन 
यह टूल इमरजेंसी केस में दूसरे यूजर्स को आपके चिकित्सा विवरण और कॉन्टेक्ट पॉइंट खोजने में मदद करता है. एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम भी एक इमेरजेंसी इन्फर्मेशन ऑप्शन के साथ आता है जो यूजर्स को इमरजेंसी कॉन्टेक्ट के साथ-साथ उनकी चिकित्सा जानकारी की अनुमति देता है. चूंकि यह जानकारी फोन के लॉक होने पर भी स्क्रीन पर देखी जा सकती है. ऐसे में आपातकालीन स्थितियों के दौरान यह विकल्प जीवन रक्षक साबित हो सकता है.

स्मार्ट लॉक
यह सुनिश्चित करता है कि आप गलती से कभी अपने डिवाइस को अनलॉक न छोड़ दें. यह फीचर यूजर्स द्वारा सेट किए गए मापदंडों के आधार पर फोन को अपने आप लॉक और अनलॉक कर देता है.

बेटर ऐप पर्मिशन ऑप्शन
यूजर्स को अपने ऐप्स पर अधिक नियंत्रण देने के लिए गूगल ने एक बेटर ऐप पर्मिशन ऑप्शन पेश किया है. यह यूजर्स को खास वजह से अनुमति देकर ऐप का उपयोग करने की इजाजत देता है. यह सुनिश्चित करता है कि ऐप्स बैकग्राउंड में डिवाइस से डेटा इकठ्ठा न करें.

पढ़ें- आखिरकार पता चल गई Nothing Phone 1 की लॉन्च डेट, झलकता हुआ होगा फोन का बैक पैनल!

ऐप पिनिंग
यह टूल आपकी संवेदनशील जानकारी को लॉक करने में आपकी मदद करता है. यह एंड्रॉयड की सबसे कम लोकप्रिय और छिपी हुई सुरक्षा सुविधाओं में से एक है. यह फीचर 2014 में एंड्रॉयड लॉलीपॉप में अपडेट के साथ पेश किया गया था. ऐप पिनिंग ऑप्शन यूजर्स को फोन पर एक ऐप लॉक करने की अनुमति देता है और फिर यह यूजर्स को फोन पर किसी भी ऐप तक पहुंचने के लिए अपने फोन को फिर से अनलॉक करने के लिए कहता है. यह फीचर आपके अपना फोन दोस्तों और परिवार को वालों को सौंपते समय काम आता है. इस फीचर को कई नामों से जाना जाता है, जैसे कि ऐप पिनिंग, स्क्रीन पिनिंग और पिन विंडो आदि.

Tags: Android, Cyber Crime, Hackers, Mobile Phone, Tech news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर