लाइव टीवी

फ्रॉड और सेक्शुअल अटैक है भारत में साइबर क्राइम की सबसे बड़ी वजह: रिपोर्ट

News18Hindi
Updated: October 22, 2019, 9:31 AM IST
फ्रॉड और सेक्शुअल अटैक है भारत में साइबर क्राइम की सबसे बड़ी वजह: रिपोर्ट
राज्यों के मामले में यूपी में साइबर क्राइम के मामले सबसे ज्यादा हैं.

साइबर क्राइम (Cyber Crime) के मामले में पहला स्थान फ्रॉड ट्रांजेक्शन (Fraud Transaction) का और दूसरा स्थान ऑनलाइन यौन शोषण (Online Sexual Exploitation) का रहा है. इसके कुल 1460 मामले दर्ज किए गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2019, 9:31 AM IST
  • Share this:
नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (National Crime Records Bureau, NCRB) द्वारा जारी किए गए डेटा के अनुसार भारत में साल 2017 में साइबर क्राइम (Cyber Crime) के मामले में सबसे ज्यादा संख्या फ्रॉड ट्रांजेक्शन (Fraud Transaction in India) और यौन शोषण (Sexual Exploitation cases in India) की रही. शेयर किए गए डॉक्युमेंट के अनुसार इन सबमें साइबर फ्रॉड की संख्या सबसे ज्यादा रही. इसके बाद साइबर क्राइम के मामले में दूसरा स्थान ऑनलाइन यौन शोषण का रहा है. इसके कुल 1460 मामले दर्ज किए गए.

सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मिलाकर इसकी संख्या 12,213 रही. राज्यों के मामले में उत्तर प्रदेश का स्थान पहला था. यूपी में साइबर क्राइम के कुल 4,971 मामले दर्ज किए गए. इसके बाद 3,604 मामलों के साथ महाराष्ट्र का स्थान दूसरा रहा. जबकि कर्नाटक इस मामले में तीसरा रहा. पूर्वोत्तर में साइबर क्राइम की सबसे ज्यादा संख्या असम में रही.

असम और महाराष्ट्र में साइबर अटैक के पीछे सबसे बड़ा मकसद यौन शोषण रहा जबकि यूपी में इसकी सबसे बड़ी वजह फ्रॉड या पैसे की वसूली रही है. इन सबके साथ-साथ कर्नाटक में साइबर क्राइम की सबसे बड़ी वजह लोगों की 'छवि खराब करना' (causing disrepute) इसका कारण रहा है.

लेकिन ध्यान देने वाली बात है कि ये सारे आंकड़े वही हैं जिनकी रिपोर्टिंग हो पाई पर काफी वजहों से तमाम मामलों की रिपोर्टिंग नहीं हो पाती. इन वजहों में लोगों में जागरुकता की कमी, अधिकारियों में जागरुकता की कमी, ऑनलाइन एक्ज़ीक्यूशन का डर, मीडिया या सोशल ट्रॉयल जैसी वजहें शामिल हैं. इसके अलावा साइबर क्राइम भारत में अभी काफी कुछ अनऑर्गेनाइज़्ड तरीके से होता है जिसकी वजह से भी अधिकारियों को इसका पता लगाने में दिक्कत होती है.

हालांकि, हाल के दिनों में कई संस्थाएं साथ मिलकर साइबर क्राइम के खिलाफ लोगों में जागरुकता फैलाने का काम कर रही हैं. वहीं, पूरी दुनिया में भारत का जिस तरह तेजी से आर्थिक विकास हो रहा है उसी तरह से यहां इंटरनेट मार्केट भी तेजी से बढ़ रहा है. इंटरनेट मार्केट के बढ़ने के साथ साथ साइबर क्राइम के खतरे भी बढ़ते जा रहे हैं जिससे सरकार और अधिकारियों के ऊपर इन्हें बचाने की काफी ज़िम्मेदारी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 9:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...