MR हेडसेट के साथ Eye Tracking और 8K विजुअल्स के साथ आ सकता है Apple Glass!

इसकी कीम 1000 डॉलर रखी जा सकती है

इसकी कीम 1000 डॉलर रखी जा सकती है

Apple MR headset में एक दर्जन कैमरे तक हो सकते है. पॉपुलर एनालिस्ट मिंग-ची कुओ (Ming-Chi Kuo) के अनुसार हेडसेट में 15 कैमरे हो सकते है जिसमें से आठ AR विजुअल्स, छह गैस्चर और मोशन रिकगनाइजेशन के साथ बायोमेट्रिक, एक कैमरा जो इनवायरमेंट डिटेक्शन के लिए ही रहेगा

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 25, 2021, 5:48 AM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. ऐपल ग्लास (Apple Glass)को लेकर लंबे समय से कई अफवाहें सामने आ चुकी है. हालांकि ऐपल सीईओ टिम कूक (Apple Ceo Tim Cook)पहले इस बारे में स्वीकार कर चुके है कि कंपनी भविष्य में ऑगमेंट रियेलटी (AR) को महत्वपूर्ण क्षेत्र के तौर पर देख रही है लेकिन जिस ऐपल ग्लास की अफवाह बाजार में है उसकी कोई वास्तविक झलक अब तक सामने नहीं आई है लेकिन एक इमेज सामने जरूर आ रही है जिसे ब्लूमबर्ग (Bloomberg) औरपॉपुलर एनालिस्ट मिंग-ची कुओ (Ming-Chi Kuo) से जारी रिपोर्ट में देखा गया है.  वो भी इस दावे के साथ कि ऐपल ग्लास साल 2022 की पहली छमाही में लॉन्च हो सकता है. दूसरे शब्दों में ऐपल का सबसे बड़ा हार्डवेयर लॉन्च अगले कैलेंडर साल में होगा.



रिपोर्ट के अनुसार Apple MR headset फस्ट जनरेशन का होगा जिसमें भविष्य में बदलाव की काफी गुंजाइश होगी. इसमें Apple के MR glasses बनाने के विजन को दिखाएगा जो कि सामान्य आईवेयर जैसा ही होगा. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार इसका वजन 200 ग्राम तक हो सकता है. जो कि वर्तमान में कंपनी द्वारा काम किए जा रहे प्रोटोटाइप ऐपल ग्लास की तुलना में 50 प्रतिशत कम होगा. 



हेडसेट में 15 कैमरे हो सकते है



इसके फीचर्स की बात करे तो Apple MR headset में एक दर्जन कैमरे तक हो सकते है. पॉपुलर एनालिस्ट मिंग-ची कुओ (Ming-Chi Kuo) के अनुसार हेडसेट में 15 कैमरे हो सकते है जिसमें से आठ AR विजुअल्स, छह गैस्चर और मोशन रिकगनाइजेशन के साथ बायोमेट्रिक, एक कैमरा जो इनवायरमेंट डिटेक्शन के लिए ही रहेगा. इसमें खासतौर पर आई ट्रेकिंग के लिए फ्रेस्नेल लेंस का इस्तेमाल होगा जो कि इसका की फीचर होगा. 


ये भी पढ़ें - ऑक्सीजन एक्सप्रेस: पिछले 24 घंटे में 150 टन 'संजीवनी' पहुंचाई, बनाया गया ग्रीन कॉरिडोर





इतनी हो सकती है कीमत 





बताया जा रहा है कि इसकी कीम 1000 डॉलर रखी जा सकती है जो कि ऐपल के लिए असामान्य हो. लेकिन ज्यादा महत्वपूर्ण बात यह है कि ऐपल का लॉन्च शेड्यूल और भी दिलचस्प लगता है. क्योंकि कुछ रिपोर्टों में यह दावा भी किया गया है कि ऐपल इस साल इसकी झलक लोगों को दिखा सकता है और बाद में उपलब्धता हो जाने के बाद इसे कर्मशियल लॉन्च करे. जिसका मतलब यह है कि ऐपल के डवलपर्स इस साल के अंत तक हार्डवेयर पेश कर रहे है जो कंपनी को आधिकारिक रूप से उपलब्ध कराने से पहले वास्तव में प्रयोग करने में मदद करेगा.   


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज