Election Commission ने लॉन्च किया वोटरों के लिए ऐप, घर बैठे बनवा सकते हैं वोटर कार्ड

लोकसभा चुनाव 2019 को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने वोटर हेल्पलाइन नाम से एक ऐप लॉन्च किया है

News18Hindi
Updated: March 14, 2019, 4:17 PM IST
Election Commission ने लॉन्च किया वोटरों के लिए ऐप, घर बैठे बनवा सकते हैं वोटर कार्ड
लोकसभा चुनाव 2019 को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने वोटर हेल्पलाइन नाम से एक ऐप लॉन्च किया है
News18Hindi
Updated: March 14, 2019, 4:17 PM IST
अगर आप अपने वोटर कार्ड में किसी तरह का करेक्सन करवाना चाहते हैं या वोटर कार्ड से जुडी कोई भी जानकारी लेना चाहते हैं, तो अब आपको इसके लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे क्योंकि लोकसभा चुनाव 2019 को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने वोटर हेल्पलाइन नाम से एक ऐप लॉन्च किया है, जिसे गूगल प्ले स्टोर से फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है. इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आपको गूगल प्ले स्टोर में जाना होगा. इसके बाद आपको वोटर हेल्पलाइन ऐप सर्च करना होगा. सर्च करते ही आपके सामने वोटर हेल्पलाइन के नाम से एक ऐप आएगा, जिसे आपको अपने फोन में डाउनलोड कर लेना है. अब आप जैसे ही इस 11MB के ऐप को ओपन करेंगे तो आपके सामने एक डिस्क्लेमर मिलेगा, जिसे एक्सेप्ट करने के बाद आप इसके फीचर्स यूज कर सकते हैं. इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा. अब इस ऐप की मदद से अपने वोटर कार्ड में घर बैठे कोई भी करेक्शन कर सकते हैं. ये भी पढ़ें: WhatsApp पर भेजते हैं इस तरह की फोटो तो हो जाएं सावधान, आ रहा है नया फीचर

बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है जब चुनाव आयोग ने वोटरों की परेशानियों को खत्म करने के लिए किसी तरह का एप जारी किया हो. इस ऐप को सबसे खास बात ये है कि इससे आप जिला प्रशासन के कंप्लेंट सेल की भी जानकारी आसानी से प्राप्त कर सकते हैं. इतना ही नहीं इस ऐप से पिछले लोकसभा चुनाव के बारे में भी जानकारी ले सकते हैं. इसके अलावा आप इस ऐप की मदद से ईवीएम के अलावा वीवी पैट मशीन का इस्तेमाल कैसे करते हैं इस बारे में भी जानकारी पा सकते हैं.

इस ऐप का इस्तेमाल कर आप वोटर लिस्ट में रजिस्ट्रेशन या नया वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए आवेदन भी कर सकते हैं. इसके अलवा वोटर लिस्ट में अपना नाम चेक करने का भी एक ऑप्शन है. वहीं अगर किसी दूसरे विधानसभा क्षेत्र शिफ्ट होते हैं, इस स्थिति में भी आप इस ऐप का इस्तेमाल कर बदलाव कर सकते हैं. ये भी पढ़ें: Facebook पर शेयर करते हैं ये 5 बातें तो हो जाएं सावधान, हैक हो सकता अकाउंट वहीं चुनाव आयोग ने सी-विजिल ऐप को भी लॉन्च किया है. बता दें कि बता दें कि cVIGIL ऐप में GPS फीचर है. जिसकी मदद से अगर कोई भी शख्स आचार सहिंता का उल्लंघन करते दीखता है और आप चाहते हैं कि इसकी जानकारी चुनाव आयोग को देनी चाहिए तो, cVIGIL ऐप की मदद से आप चुनाव आयोग को इसकी जानकारी दे सकते हैं, जिसके बाद GPS फीचर की मदद से EC शिकायतकर्ता के जगह की पहचान करेगा और 100 मिनट के भीतर उसपर कार्यवाई करेगी. खास बात ये है कि आपकी जानकारी गोपनीय रखी जाएगी. हालांकि, यह ऐप अभी एक्टिव नहीं है लेकिन इसे नामाकंन भरते ही एक्टिव कर दिया जाएगा.
Loading...

ये भी पढ़ें: 12 घंटे ठप रहने के बाद शुरू हुआ Facebook, कंपनी ने कहा- ये हैकर्स अटैक नहीं था
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...