Google और Amazon पर डेटा प्राइवेसी के नियमों के उल्लंघन का आरोप, 16.3 करोड़ डॉलर का लगा जुर्माना

गूगल और अमेजन पर लगा जुर्माना.

सीएनआईएल (CNIL) ने गूगल (Google) पर 12.1 करोड़ डॉलर और अमेज़न (Amazon) पर 4.2 करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाया है. दोनों पर ये जुर्माना देश के विज्ञापन कूकीज (Cookies) नियमों का उल्लंघन करने के लिए लगाया गया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. फ्रांस में डेटा निजता की निगरानी करने वाली संस्था सीएनआईएल ने गूगल पर 10 करोड़ यूरो (12.1 करोड़ डॉलर) और अमेज़न पर 3.5 करोड़ यूरो (4.2 करोड़ डॉलर) का जुर्माना लगाया है. दोनों पर ये जुर्माना देश के विज्ञापन कूकीज नियमों का उल्लंघन करने के लिए लगाया गया है. नेशनल कमीशन ऑन इंफोर्मेटिक्स एंड लिबर्टी (सीएनआईएल) ने एक बयान में कहा कि दोनों कंपनियों की फ्रांसीसी वेबसाइट ने इंटरनेट उपभोक्ताओं से विज्ञापन उद्देश्यों के लिए ट्रैकर्स और कूकीज को पढ़ने की पूर्वानुमति नहीं ली. ये कूकीज और ट्रैकर्स व्यक्ति के कंप्यूटर में खुदबखुद सहेज ली जाती हैं. 

    CNIL ने अपने बयान में कहा कि गूगल और अमेज़न उपभोक्ताओं को यह बताने में भी विफल रहीं कि वे इस काम के लिए इन कूकीज का उपयोग करेंगी और किस तरह उपभोक्ता इनके लिए मना कर सकते हैं. इसके साथ CNIL ने बताया कि दोनों ही कंपनियों ने सितंबर के महीने में अपनी वेबसाइट में कुछ बदलाव किए थे. जो कि फ्रांस के नियमों के हिसाब से ना काफी थे.  

    यह भी पढ़ें: iPhone 12 पर मिल रहा है 63 हजार रुपये का डिस्काउंट, Apple ने शुरू की trade-in स्कीम, यहां देखे डिटेल
    CNIL का आरोप कूकीज से कमाया मुनाफ़ा- फ्रांस की संस्था सीएनआईएल ने गूगल पर आरोप लगाते हुए कहा कि, उसने कूकीज की मदद से जो डेटा इकट्ठा किया था. उसके जरिए गूगल ने अनुचित तरीके से कमाई की है. जिसका सीधा असर करीब 50 मिलियन यूजर्स पर हुआ है. वहीं सीएनआईएल ने कहा कि जुर्माने की राशि नियमों के उल्लंघन के मुताबिक सटीक है.

    यह भी पढ़ें: पूरी दुनिया में Netflix पर सबसे ज्यादा फिल्में भारतीयों ने देखी, एक्शन मूवी में 'एक्सट्रैक्शन' सबसे ज्यादा देखी गई

      गूगल, अमेज़न की मिली तीन महीने की मोहलत- सीएनआईएल ने गूगल और अमेज़न को तीन महीने का समय दिया है. जिसमें इन दोनों कंपनियों को अपने काम के तरीकों में बदलाव करना होगा और यूजर्स को बताना होगा कि, वह किस तरह से कूकीज के लिए मना कर सकते है. सीएनआईएल के मुबातिक निर्धारित समय सीमा में यदि दोनों कंपनियां ठोस कदम नहीं उठाती है. तो उनके उपर प्रति दिन के हिसाब से 121,095 अमेरिकी डॉलर का जुर्माना लगाया जाएगा.

    गूगल पर पहले भी लग चुका है जुर्माना-  आपको बता दें पहले पिछले साल दिसंबर में फ्रांस के प्रतिस्पर्धा प्राधिकरण ने ऑनलाइन विज्ञापन बाजार में अपने वर्चस्व का गलत इस्तेमाल करने को लेकर गूगल पर 16.7 करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाया था. प्राधिकरण की ओर से गूगल पर लगाया गया यह पहला जुर्माना था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.