• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • GOOGLE ASSISTANT ALEXA LIKE CHAT BOT MAY COME TO PROVIDE PUBLIC SERVICES BY GOVT AAAQ

सार्वजनिक सेवाएं देने के लिए Alexa, Google Assistant जैसे चैटबॉट लाने की योजना बना रही है सरकार

File Photo.

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय के राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस खंड ने उमंग मंच पर उपलब्ध कराये जाने के योग्य ऐप के निर्माण के लिये प्रस्ताव आमंत्रित किए हैं....

  • Share this:
    नई दिल्ली. सरकार ने लोगों तक ई-गवर्नेंस सेवाएं पहुंचाने के लिए अमेज़न के एलेक्सा (Amazon Alexa) या गूगल असिस्टेंट (Google Assistant) की तरह चैट बॉट (Chat Bot) या वॉयस असिस्टेंस एप्लिकेशन (Voice Assistant App) विकसित करने के लिए बोलियां आमंत्रित कीं. कृत्रिम बुद्धिमता (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस) पर आधारित इस संवादी मंच से कई भाषाओं में जनता के साथ बातचीत करने, भावनाओं और इरादों का विश्लेषण करने, उपयोगकर्ताओं को व्यक्तिगत अनुभव देने के लिये डेटा एकत्र करने और विश्लेषण करने की अपेक्षा की गयी है.

    इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय के राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस खंड ने उमंग मंच पर उपलब्ध कराये जाने के योग्य ऐप के निर्माण के लिये प्रस्ताव आमंत्रित किए हैं. उमंग मंच नागरिकों को सरकारी सेवाएं प्रदान करने वाले विभिन्न ऐप को होस्ट करता है.

    इस वॉइस असिस्टेंट को कई भाषाओं का सपोर्ट दिया जाएगा, जिससे भारत में स्थानीय भाषाओं में यूजर्स इससे जुड़ पाएं. इस प्लेटफॉर्म से यूजर्स की बातों को समझने, उन्हें सही जवाब या प्रतिक्रिया देने और डाटा एनालिसिस के साथ पर्सनलाइज्ड एक्सपीरियंस देने की उम्मीद की जा रही है. नए वॉइस असिस्टेंट को भारत सरकार की ओर से नागरिकों को दी जाने वालीं ढेरों सुविधाएं और ऐप्स होस्ट करने वाले UMANG प्लेटफॉर्म का हिस्सा बनाया जाएगा.

    मिली जानकारी के मुताबिक, 'प्लेटफॉर्म में सामान्य कामों के लिए मदद करने का विकल्प मिलना चाहिए. सिर्फ सरकार की सेवाओं ही नहीं बल्कि उमंग प्लेटफॉर्म पर मिलने वाली सेवाओं जैसे रजिस्ट्रेशन, लॉग-इन, रीसेट पासवर्ड, इवेंट और नए लॉन्च से जुड़ी जानकारी भी इसे देनी होगी.' सरकार चाहती है कि चैटबॉट स्पीच को टेक्स्ट और टेक्स्ट को स्पीच में बदलने (टेक्स्ट-टू-स्पीच) का काम भी करे.
    Published by:Afreen Afaq
    First published: