लाइव टीवी

Google CEO सुंदर पिचाई ने कर्मचारियों को भेजी ईमेल, कहा लीक होती हैं मीटिंग की बातें

News18Hindi
Updated: November 18, 2019, 8:45 PM IST
Google CEO सुंदर पिचाई ने कर्मचारियों को भेजी ईमेल, कहा लीक होती हैं मीटिंग की बातें
गूगल (Google) के सीईओ सुंदर पिचाई (Sunder Pichai) द्वारा भेजे गए एक मेल में कहा गया कि अब यह मीटिंग महीने में एक बार होगी क्योंकि इसको लेकर काफी लीक्स हो रहे थे

गूगल (Google) के सीईओ सुंदर पिचाई (Sunder Pichai) द्वारा भेजे गए एक मेल में कहा गया कि अब यह मीटिंग महीने में एक बार होगी क्योंकि इसको लेकर काफी लीक्स हो रहे थे

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 18, 2019, 8:45 PM IST
  • Share this:
गूगल (Google) में काम करने वाले कर्मचारियों की बात करें तो गूगल के लिए यह अच्छा साल नहीं रहा है. कई रिपोर्ट्स सामने आई हैं जिसमें कर्मचारियों ने कुछ बातों को लेकर असहमति जाहिर की. उनका कहना था कि गूगल ने कई मुद्दों को अच्छी तरह से डील नहीं किया. गूगल में एक परंपरा रही है जिसके तहत हर हफ्ते टाउन हॉल मीटिंग या TGIF में कर्मचारी अपनी बात कहते हैं और उन्हें एक चांस मिलता है ताकि वे अपनी शिकायतों को रख सकें. हालांकि, गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई द्वारा भेजे गए एक मेल में कहा गया कि अब यह मीटिंग महीने में एक बार होगी क्योंकि मीटिंग को लेकर काफी लीक्स हो रहे थे.

'टाइम्स ऑफ इंडिया' ने 'द वर्ज' के हवाले से बताया है कि पिचाई ने इसमें क्या क्या बातें कही हैं. उन्होंने कहा कि टीजीआईएफ की मीटिंग अब एक महीने में एक बार होगी जो कि प्रोडक्ट और बिजनेस पर फोकस्ड रहेगी. इन टॉपिक्स पर सवाल जवाब भी किया जा सकेगा.

गूगल के सीईओ ने इसका बड़ा कारण मीटिंग की बातों को लीक होना बताया. उन्होंने लिखा- दुर्भाग्य से हर TGIF के बाद हमारी बातें बाहर लीक हो जाती हैं. आगे उन्होंने कहा कि कंपनी में ग्रोथ हुई है और यह पूरी दुनिया में फैली है फिर भी इसके ऑडिएंस घटे हैं. अब केवल 25 फीसदी लोग ही TGIF को देखते हैं जबकि इसकी संख्या पहले 80 फीसदी थी. पिचाई ने कहा कि कंपनी और ज्यादा से ज्यादा वीडियो शेयर करेगी ताकि जो कुछ भी हमारी टीम कर रही है उसके बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को पता चल सके.

ईमेल में कहा गया है, 'हमारे पास इस बात का हिसाब होना चाहिए कि हम कंपनी के लिए कितना टाइम खर्च करते हैं.' पिचाई ने ये भी कहा कि हमें इस बात पर ध्यान देने की ज़रूरत है कि हम गूगल को सभी के लिए बेहतर बना सकें. हमारी जिम्मेदारी है गूगल को हम अपने यूज़र्स के लिए ज्यादा से ज्यादा सहायक बना सकें. पिचाई ने यह भी लिखा कि कंपनी इस नए मानक के बारे में कर्मचारियों से फीडबैक भी लेगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 18, 2019, 8:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...