गूगल लाया नया फीचर! Google Drive से अब माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस की फाइल सीधे एडिट मोड में खुलेगी

Google Drive से अब माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस की फाइल सीधे एडिट मोड में खुलेगी
Google Drive से अब माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस की फाइल सीधे एडिट मोड में खुलेगी

Google ने एक ब्लॉग पोस्ट के जरिये बताया कि ड्राइव में ऑटोमेटिक एडिट के आने से यूजर्स को जल्दी बदलाव करने और सेटिंग्स डीफ़ॉल्ट में करने में भी मदद मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2020, 1:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली.  गूगल ड्राइव पर सेव माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस की फाइल अब सीधा एडिट मोड में खुलेगी. Google ने मंगलवार को इसकी घोषणा की. अब तक उन पर डबल-क्लिक करने के बाद सेव की गई फाइल प्रीव्यू से मेन्युअल क्लिक से एडिट मोड में खुलती थी. गूगल ने कहा है कि राईट क्लिक के साथ प्रीव्यू मोड पर जाने की सुविधा भी ग्राहकों के लिए मौजूद रहेगी. इसके अलावा फाइल पर डबल क्लिक के दौरान कीबोर्ड पर P दबाने से भी ऐसा किया जा सकेगा. यह फीचर गूगल वेब यूजर्स के लिए होगा जिसमें गूगल एंटरप्राइज और वर्कस्पेस के यूजर्स भी शामिल हैं.

Google ने एक ब्लॉग पोस्ट के जरिये बताया कि ड्राइव में ऑटोमेटिक एडिट के आने से यूजर्स को जल्दी बदलाव करने और सेटिंग्स डीफ़ॉल्ट में करने में भी मदद मिलेगी. Google Docs, शीट और स्लाइड के साथ हस्तक्षेप करते हुए फाइल में सीधा कमेन्ट, एडिट आदि कर सकते हैं. फाइल मौजूद ऑफिस फोर्मेट में ऑटोमेटिक सेव हो जाएगी.

यह अपडेट docx, doc, ppt, pptx, xls, xlsx, Xlsm सहित सभी Office फ़ाइल प्रकारों पर लागू होता है. पासवर्ड-रक्षित फ़ाइलें सीधे Office एडिट मोड में नहीं खुलेंगी और प्रीव्यू मोड में शुरू होती रहेंगी. गूगल ने बताया कि अगर Docs, शीट और स्लाइड के लिए एक्सटेंशन डाउनलोड किया जाता है, तो फाइल सीधे एक्सटेंशन में रिडायरेक्ट कर दी जाएगी. इसमें यह docs में नहीं जाएगी.



ये भी पढ़ें:- OnePlus ने अपनी पहली स्मार्टवॉच की लॉन्चिंग अगले साल तक के लिए टाली
Google डिस्क वेब के माध्यम से Microsoft Office फ़ाइलों के लिए ऑटोमेटिक एडिट मोड पहले से ही कई यूजर्स के लिए उपलब्ध है. Google का कहना है कि यह रोलआउट 15 दिनों में पूरा हो जाएगा। पिछले हफ्ते Google ने एक नई सुविधा शुरू की जिससे Google ड्राइव को Gmail अकाउंट से सीधे Doc और Sheets जैसी फ़ाइलों को एक्सेस किया जा सकता है.

नई सुविधा डायनामिक ईमेल भेजकर काम करती है, जो Gmail को छोड़े के बिना एडमिन को रिक्वेस्ट मैनेज करने में सक्षम बनाता है. यह सुविधा जीमेल के वेब, एंड्रॉइड और iOS यूजर्स के लिए है. इसके अलावा यह एंटरप्राइज और रेगुलर कस्टमरों के लिए भी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज