• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • GOOGLE FACEBOOK STARTED UPDATING THEIR PLATFORMS ACCORDING TO THE INDIA GOVERNMENT IT RULES KNOW CHANGES AAAQ

भारत के आईटी नियमों के हिसाब से वेबसाइट अपडेट करने लगे Facebook और Google

गूगल और पेसबुक ने नए IT Rules के तहत अपने प्लैटफॉर्म को अपडेट करना शुरू कर दिया है.

गूगल (Google) और फेसबुक (Facebook) जैसी बड़ी डिजिटल कंपनियों ने भारत के नए सोशल मीडिया नियमों के हिसाब से अपनी वेबसाइट अपडेट करने शुरू कर दी हैं. 

  • Share this:
    नई दिल्ली. गूगल (Google) और फेसबुक (Facebook) जैसी बड़ी डिजिटल कंपनियों ने भारत के नए सोशल मीडिया नियमों के हिसाब से शिकायत अधिकारी की नियुक्ति समेत अन्य जानकारी सार्वजनिक करने के उद्देश्य से अपनी वेबसाइट अपडेट करने शुरू कर दी हैं. सरकारी सूत्रों के अनुसार गूगल, फेसबुक और वॉट्सऐप जैसी बड़ी सोशल मीडिया कंपनियों ने नए डिजिटल नियमों के अनुसार सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्रालय के साथ ब्योरा साझा किये हैं. हालांकि ट्विटर अभी भी नियमों का अनुपालन नहीं कर रही. नए नियमों के तहत प्रमुख सोशल मीडिया मध्यस्थों को शिकायत निपटान अधिकारी, नोडल अधिकारी और मुख्य परिचालन अधिकारी नियुक्त करने की आवश्यकता है. इन अधिकारियों के लिये ज़रूरी है कि उनकी नियुक्ति भारत में हो और वे यहां रहे.

    प्रमुख सोशल मीडिया मध्यस्थों की श्रेणी में वे सोशल मीडिया मंच आते हैं जिनके उपयोगकर्ताओं की संख्या 50 लाख से अधिक है. उद्योग सूत्रों ने कहा कि फेसबुक और वॉट्सऐप पहले ही अनुपालन रिपोर्ट इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय के साथ साझा कर चुकी हैं. नए शिकायत अधिकारियों की नियुक्ति के बारे में जानकारी इन मंचों पर अपडेट की जा रही है.

    गूगल ने ‘कांटेक्ट अस’ पेज पर जो ग्रियर का नाम दिया है. उनका पता माउंटेन व्यू अमेरिका का है. इस पृष्ठ पर यूट्यूब के लिये शिकायत निपटान व्यवस्था के बारे में भी जानकारी दी गई है.

    नियमों के अनुसार सभी सोशल मीडिया कंपनियों को अपनी-अपनी वेबसाइट, ऐप या दोनों पर शिकायत निपटान अधिकारी और उनके पते के बारे में जानकारी देनी है. साथ ही शिकायत के तरीके को बताना है जिसके जरिए उपयोगकर्ता या पीड़ित अपनी शिकायत कर सकें.

    शिकायत अधिकारी को 24 घंटे के भीतर दर्ज की गयी शिकायत प्राप्त करने के बारे में सूचना देनी होगी. साथ ही ऐसे शिकायतों का निपटान प्राप्ति की तारीख से 15 दिन की अवधि में करना होगा. सरकारी सूत्रों ने शुक्रवार को कहा कि ट्विटर नियमों का पालन नहीं कर रही. कंपनी ने मंत्रालय को मुख्य अनुपालन अधिकार के नाम के बारे में जानकारी मंत्रालय को नहीं भेजी. उसने विधि कंपनी में काम करने वाले एक वकील का नाम बतौर संपर्क अधिकरी और शिकायत अधिकारी के रूप में दिया है.

    सूत्रों के अनुसार जबकि आईटी नियमों में साफ कहा गया है कि सोशल मीडिया मंचों के मनोनीत अधिकारियों के कंपनी का कर्मचारी होना और उसका भारत में निवासी होना ज़रूरी है.

    इस बारे में ट्विटर ने ई-मेल के जरिये पूछे गये सवालों का जवाब नहीं दिया. कंपनी की वेबसाइट पर भारत के लिये शिकायत अधिकारी (अंतरिम) के तौर पर धर्मेन्द्र चतुर का नाम दिया गए हैं. गूगल, फेसबुक और वॉट्सऐप ने भी नये आईटी नियमों के तहत ज़रूरी नियुक्तियों के बारे में ई-मेल के जरिये पूछे गये विस्तृत सवालों के जवाब नहीं दिए.

    सूत्रों ने पूर्व में कहा था कि नये नियमों के प्रावधानों को लागू करने के संदर्भ में गूगल, फेसबुक और वॉट्सऐप के अलावा कू, सर्चचैट, टेलीग्राम और लिंक्डइन जैसे महत्वपूर्ण सोशल मीडिया मध्यस्थों ने मंत्रालय के साथ ब्योरा शेयर किया है.
    Published by:Afreen Afaq
    First published: